News Nation Logo

वीवीएस लक्ष्मण बोले, मुझे भी पारी की शुरुआत करने के लिए भेजा गया था, लेकिन

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 28 Sep 2019, 03:30:33 PM
वीवीएस लक्ष्मण फाइल फोटो

नई दिल्‍ली:  

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाले पहले टेस्‍ट से पहले में सभी की निगाहें एक खिलाड़ी पर होने वाली हैं, उनका नाम रोहित शर्मा है. वे इस मैच में बतौर टेस्‍ट ओपनर अपनी शुरुआत करेंगे. इससे पहले वे मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाज के तौर पर खेलते रहे हैं. लेकिन अब उनके लिए यह नई चुनौती होगी, जिससे उन्‍हें पार पाना होगा. हालांकि प्रेसीडेंट इलेवन के साथ इस वक्‍त खेले जा रहे मैच में बुरी तरह असफल रहे और मैच में वे दो ही गेंद खेल पाए और शून्‍य पर आउट हो गए. इसलिए यह चुनौती और बड़ी होने जा रही है. 

यह भी पढ़ें ः IND VS SA : मैच से पहले यहां जानें दोनों टीमों के सारे आंकड़े

इस बीच रोहित को कैसे खेलना है और क्‍या करना है, इस पर कई दिग्‍गज बल्‍लेबाज सलाह भी दे रहे हैं. कलाई के जादूगर माने जाने वाले वैरी वैरी स्‍पेशल के नाम से मशहूर वीवीएस लक्ष्मण ने कहा है कि रोहित को अपना स्‍वाभाविक खेल खेलना चाहिए. रोहित को अपनी तकनीक में कोई बदलाव की जरूरत नहीं है. वे वन डे और T-20 में अच्‍छा कर रहे है, इसी तरह टेस्‍ट में भी खेलें. अपने बारे में बात करते हुए लक्ष्मण ने कहा कि साल 1996-98 में उनसे भी सलामी बल्‍लेबाज की भूमिका निभाने के लिए कहा गया था. जबकि उन्‍हेांने कभी पारी की शुरुआत नहीं की थी. उन्‍होंने कुछ मैच खेले, लेकिन सफल नहीं रहे, इसके बाद वे फिर मध्‍यक्रम में खेलने लगे थे, जो उनकी पसंदीदा जगह हुआ करती थी.

यह भी पढ़ें ः दो गेंद खेली, शून्‍य रन बनाए और आउट हो गए कप्‍तान रोहित शर्मा

लक्ष्मण पूर्व क्रिकेटर दीपदास गुप्‍ता के यूट्यूब चैनल पर उनसे बात कर रहे थे. लक्ष्मण बोले कि रोहित के पास खोने के लिए कुछ नहीं है, वे इतना शानदार खेल रहे हैं कि वन डे और T-20 में उनकी जगह सुरक्षित है, अगर वे टेस्‍ट में सफल रहे तो ठीक है, नही तो वन डे और T-20 तो खेलते ही रहेंगे, रोहित को इसी भावना के साथ खेलना चाहिए और कतई दबाव में नहीं आना चाहिए. इससे उन्‍हे सफलता मिलेगी.

यह भी पढ़ें ः महेंद्र सिंह धोनी के न खेलने पर बोले गौतम गंभीर, आप सीरीज का चयन नहीं कर सकते

लक्ष्मण ने कहा कि उन्‍हें बहुत जल्‍दी पारी की शुरुआत करने के लिए कह दिया गया था, तब तक उन्‍होंने कुछ ही मैच खेले थे, उनके पास उतना अनुभव नहीं था. लक्ष्मण का कहना है कि रोहित के पास 12 साल का अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलने का अनुभव है, जो उनके काम आएगा. लक्ष्मण ने कहा कि पारी की शुरुआत करने के बाद कुछ गलतियां होने के बाद उन्‍होंने अपनी मानसिकता बदलने की कोशिश की थी, जो कि गलत था. उसी मानसिकता ने उन्‍हें मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाज के तौर पर खेल में सफल बनाया और नंबर तीन व चार पर बल्‍लेबाजी का विश्‍वास दिलाया.

First Published : 28 Sep 2019, 03:30:33 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.