News Nation Logo
Banner

भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने बताई टीम का खामियां, बताया- कहां सुधार की जरूरत

जब कोचिंग और सहयेागी स्टाफ में नई नियुक्तियां की गईं तो विक्रम राठौड़ (Vikram Rathore) ने संजय बांगड़ की जगह ली और उनकी पहली बड़ी चुनौती साउथ अफ्रीका के खिलाफ 15 सितंबर से शुरू हो रही घरेलू टी20 और टेस्ट सीरीज होगी.

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar1 | Updated on: 06 Sep 2019, 03:46:28 PM
भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने बताई टीम का खामियां

भारतीय बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ ने बताई टीम का खामियां

नई दिल्ली:

भारतीय क्रिकेट टीम के नए बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा है कि आने वाले दिनों में टीम के मध्यक्रम से जुड़ी समस्या को सुलझाना होगा. विश्व कप के सेमीफाइनल में हारकर टीम के बाहर होने के कारण पूर्व कोच संजय बांगर को हटाने का निर्णय लिया गया और उनकी जगह विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) को दी गई. भारत के नव नियुक्त बल्लेबाजी कोच विक्रम विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज से अपना कार्यकाल शुरू करेंगे और उन्होंने शुक्रवार को कहा कि पारी के आगाज करने के साथ वनडे में मध्यक्रम का प्रदर्शन उनकी मुख्य चिंता हैं. जब कोचिंग और सहयेागी स्टाफ में नई नियुक्तियां की गईं तो विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने संजय बांगड़ की जगह ली और उनकी पहली बड़ी चुनौती साउथ अफ्रीका के खिलाफ 15 सितंबर से शुरू हो रही घरेलू टी20 और टेस्ट सीरीज होगी.

विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने बीसीसीआई (BCCI) की अधिकारिक वेबसाइट पर कहा, ‘वनडे में मध्यक्रम इतना अच्छा नहीं कर रहा और हमें निश्चित रूप से इसका निपटारा करना चाहिए. वहीं चिंता की एक चीज टेस्ट में सलामी बल्लेबाजों की भागीदारी है. हमारे पास विकल्प हैं और इसमें काफी स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है. हमें उनके और अधिक निरंतर होने का तरीका ढूंढना होगा.’

और पढ़ें: जब रॉबर्ट मुगाबे की तानाशाही से परेशान इन खिलाड़ियों ने छोड़ दिया था देश, हैरान कर देगा पूरा मामला

विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा कि श्रेयस अय्यर और मनीष पांडे 50 ओवर के प्रारूप के लिये अच्छे विकल्प दिखते हैं. उन्होंने कहा, ‘श्रेयस अय्यर ने पिछले दो मैचों में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और हमारे पास मनीष पांडे भी है. इन दोनों खिलाड़ियों ने घरेलू क्रिकेट और इंडिया के साथ में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है. ये ऐसे बल्लेबाज है जो अपना काम बखूबी करने के काबिल हैं और इसके बारे में कोई शक नहीं है.’

उनकी नियुक्ति के समय काफी विवाद हुआ क्योंकि उन पर हितों के टकराव के भी आरोप लगे जिन्हें बाद में हटा दिया गया. विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने भारत के लिए छह टेस्ट और सात वनडे खेले हैं. उनका टीम के मौजूदा खिलाड़ियों के साथ अच्छा तालमेल है.

विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा, ‘हमारे पास कोचिंग स्टाफ में काफी बेहतरीन स्टाफ है. मुझे उन्हें जानने का मौका मिला क्योंकि मैं राष्ट्रीय चयनकर्ता था. मैं खिलाड़ियों को जानता हूं और उनके साथ कुछ समय काम भी कर चुका हूं.’

और पढ़ें: Ashes 2019: ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों ने जोफ्रा आर्चर को कहे अपशब्द, सुरक्षाकर्मियों ने स्टेडियम से बाहर खदेड़ा

विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) ने कहा, ‘मैं रवि शास्त्री, बी अरूण और आर श्रीधर के साथ विराट कोहली के साथ काम कर चुका हूं. मैं बल्लेबाजों को व्यक्तिगत रूप से जानता हूं और उनके साथ मेरा अच्छा तालमेल है.’

विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) पंजाब और हिमाचल प्रदेश के भी मुख्य कोच रह चुके हैं और साथ ही वह हिमाचल प्रदेश के क्रिकेट निदेशक भी थे.

First Published : 06 Sep 2019, 03:46:28 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो