News Nation Logo
Banner

माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर लगाया था विराट कोहली की चाटुकारिता का आरोप, टिम पेन ने की भर्त्सना

साल 2018 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था, जहां विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने 4 मैचों की टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उनके ही घर में 2-1 करारी शिकस्त दी थी.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 09 Apr 2020, 07:36:25 PM
tim paine

टिम पेन (Photo Credit: https://twitter.com/ICC)

नई दिल्ली:  

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने अभी हाल ही में कुछ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया था. माइकल क्लार्क ने दावा किया था कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने लुभावने अनुबंध को बचाए रखने के लिए इतने बेताब थे कि वे एक खास समय के दौरान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और उनके साथियों पर छींटाकशी करने से डरते थे. इतना ही नहीं ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी आईपीएल में खेलकर मोटी रकन कमाने के लिए विराट कोहली की चाटुकारिता भी करते थे.

ये भी पढ़ें- दोस्त और पालतू कुत्ते की मदद से अभ्यास कर रहे हैं ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन

क्लार्क के इस खुलासे के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में हलचल मच गई थी. ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने क्लार्क के इस बयान की भर्त्सना की है. टिम पेन ने espncricinfo से कहा, "मैंने नहीं देखा कि बहुत ज्यादा लोग कोहली से अच्छा व्यवहार करते हैं और उन्हें आउट करने की कोशिश नहीं करते. मुझे लगता है कि जिसके भी हाथ में गेद थी और जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे, सभी उस समय मैच जीतना चाहते थे. मुझे नहीं पता कि कौन उनसे बच रहा था, लेकिन हम ऐसा कुछ नहीं करना चाहते थे जिससे उनके साथ लड़ाई हो क्योंकि वह ऐसी स्थिति में सर्वश्रेष्ठ खेलते हैं."

ये भी पढ़ें- विराट कोहली से पंगा लिया तो भुगतना पड़ सकता है अंजाम, इस पाकिस्तानी दिग्गज ने दी चेतावनी

बता दें कि साल 2018 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था, जहां विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने 4 मैचों की टेस्ट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उनके ही घर में 2-1 करारी शिकस्त दी थी. ऑस्ट्रेलिया को विश्व कप 2015 जीताने वाले पूर्व कप्तान क्लार्क ने कहा था कि जब भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारत का सामना करते हैं तो उनकी निगाहें हर साल अप्रैल-मई में होने वाले आईपीएल पर लगी रहती हैं.

ये भी पढ़ें- विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप की तारीखों में किया गया बदलाव, 2022 में 15 से 24 जुलाई तक होगा आयोजित

क्लार्क ने कहा था, ''इस खेल में वित्तीय रूप से देखा जाए तो सभी जानते हैं कि भारत अंतरराष्ट्रीय या आईपीएल के कारण घरेलू स्तर पर कितना शक्तिशाली है. मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट और संभवत: प्रत्येक टीम ने इस दौरान विपरीत रवैया अपनाया और वास्तव में भारत की चाटुकारिता की. वे कोहली या अन्य भारतीय खिलाड़ियों पर छींटाकशी करने से बहुत डरते थे क्योंकि उन्हें अप्रैल में उनके साथ खेलना था.''

First Published : 09 Apr 2020, 07:36:25 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.