News Nation Logo
Banner

दुनिया की किसी भी पिच पर कहर बनकर टूट सकते हैं भारतीय गेंदबाज, कोच ने कही ये बड़ी बातें

भरत ने कहा कि मोहम्मद शमी ने दमदार स्पेल किया जो हमें मैच में वापस ले आया, नहीं तो परिस्थितियों को देखते हुए मुकाबला मुश्किल हो सकता था.

By : Sunil Chaurasia | Updated on: 08 Oct 2019, 09:18:47 PM
मोहम्मद शमी

मोहम्मद शमी (Photo Credit: https://twitter.com/ICC)

नई दिल्ली:

टीम इंडिया के बॉलिंग कोच भरत अरुण ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि मौजूदा भारतीय टीम के सभी तेज गेंदबाज रिसर्व स्विंग कराने का माद्दा रखते हैं. बता दें कि विशाखापट्टनम में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने 5 विकेट चटकाए थे. विशाखापट्टनम टेस्ट में भारत ने मेहमान टीम दक्षिण अफ्रीका को 203 रनों से हराकर 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. शमी के प्रदर्शन को देख पाकिस्तान के दिग्गज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भी उनकी तारीफ की थी.

ये भी पढ़ें- श्रीलंका के हाथों मिली करारी हार के बाद खुली पाकिस्तान की आंखें, कोच मिस्बाह ने खिलाड़ियों को दी बड़ी चेतावनी

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पहले गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा, "दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में बेहतरीन बल्लेबाजी की. दूसरी पारी में शमी की गेंदबाजी को मदद मिली और फिर उन्होंने दमदार स्पेल किया. अगर आप देखेंगे कि कैसे डेन पिएडेट ने नौवें और आखिरी विकेट के लिए बल्लेबाजी की, यह उनके जुझारूपन को दर्शाता है. शमी ने दमदार स्पेल किया जो हमें मैच में वापस ले आया, नहीं तो परिस्थितियों को देखते हुए मुकाबला मुश्किल हो सकता था."

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र सरकार पर बरसे रोहित शर्मा, पेड़ों की कटाई के खिलाफ उठाई आवाज

अरुण ने कहा, "हमें पता था कि हमें नतीजा पाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी. उस तरह के विकेट पर संयम रखना पड़ता है. घरेलू क्रिकेट ने तेज गेंदबाजों को बेहतर प्रदर्शन करने के लिए काफी मदद की है. हमारे गेंदबाज रिवर्स स्विंग में अच्छे हैं, क्योंकि जब वह घरेलू क्रिकेट खेलते हैं तो विकेट सपाट होती है. आउटफील्ड भी उतनी बेहतरीन नहीं होती. ऐसी परिस्थिति में सफल होने के लिए उन्हें गेंद को रिवर्स स्विंग कराना आना चाहिए और ऐसे घरेलू क्रिकेट हमारे गेंदबाजों की बहुत मदद करता है. अगर आप देखेंगे कि कैसे डेन पिएडेट ने नौवें और आखिरी विकेट के लिए बल्लेबाजी की, यह उनके जुझारूपन को दर्शाता है."

ये भी पढ़ें- जहीर खान के बर्थडे पर हार्दिक पांड्या ने उड़ाया मजाक, भड़के फैन ने बोला- करण जौहर के सस्ते पोलार्ड

टीम इंडिया के बॉलिंग कोच ने आगे कहा, ''हमारी टीम किसी एक प्रकार के पिच की मांग नहीं करती है. हम किसी एक प्रकार के पिच की मांग नहीं करते. हमारा लक्ष्य दुनिया की नंबर एक टीम बनना है और हमें जो भी विकेट मिलती है हम उसे स्वीकार कर लेते हैं. यहां तक कि जब हम विदेश जाते हैं, तब भी हम विकेट को कम देखते हैं."

First Published : 08 Oct 2019, 09:18:47 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×