News Nation Logo
Breaking
Banner

श्रीसंत से स्पॉट फिक्सिंग का प्रतिबंध खत्म, अब कही बड़ी बात

भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत पर कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग के लिए लगा सात साल का प्रतिबंध रविवार को खत्म हो गया. श्रीसंत को शुरुआत में आजीवन प्रतिबंधित किया गया था, लेकिन उन्होंने इस फैसले के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ी.

Bhasha | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 13 Sep 2020, 01:27:12 PM
s sreesanth

श्रीसंत (Photo Credit: फाइल फोटो )

New Delhi:  

भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत (Sreesanth) पर कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) के लिए लगा सात साल का प्रतिबंध रविवार को खत्म हो गया. श्रीसंत को शुरुआत में आजीवन प्रतिबंधित किया गया था, लेकिन उन्होंने इस फैसले के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ी. करीब 37 साल के श्रीसंत ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि प्रतिबंध खत्म होने पर उनका कम से कम घरेलू करियर को दोबारा शुरू करने का इरादा है. उनके घरेलू राज्य केरल ने वादा किया है कि अगर यह तेज गेंदबाज अपनी फिटनेस साबित कर दे तो वे उसके नाम पर विचार करेंगे. श्रीसंत ने प्रतिबंध समाप्त होने से कुछ दिन पहले शुक्रवार को ट्वीट किया कि मैं अब किसी भी तरह के आरोपों से पूरी तरह मुक्त हूं और अब उस खेल का प्रतिनिधित्व करूंगा जो मुझे सबसे अधिक पसंद है. मैं प्रत्येक गेंद पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा फिर चाहे यह अभ्यास ही क्यों ना हो. 

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : आईपीएल के लिए पूरी तरह तैयार हैं मोहम्‍मद शमी, जानिए क्‍या बोले

श्रीसंत ने कहा कि मेरे पास अधिकतम पांच से सात साल का समय बचा है और मैं जिस भी टीम की ओर से खेलूंगा उसके लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा. कोरोना वायरस महामारी के कारण भारतीय घरेलू सीजन स्थगित होने के कारण यह देखना होगा कि अगर केरल उन्हें मौका देने का फैसला करता है तो वह कब वापसी कर पाएंगे. भारत का घरेलू सीजन अगस्त में शुरू होता है लेकिन महामारी के कारण पूरा कार्यक्रम अस्त व्यस्त हो गया है. आईपीएल के 2013 सीजन में कथित स्पॉट फिक्सिंग के लिए श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगा था लेकिन पिछले साल भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के लोकपाल ने उन पर लगे प्रतिबंध को घटाकर सात साल का कर दिया था.

First Published : 13 Sep 2020, 01:27:12 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.