News Nation Logo
Banner

रात दो बजे छह घंटे की यात्रा कर दिल्‍ली पहुंचते थे ऋषभ पंत, जानिए उनके संघर्ष की कहानी

ऋषभ पंत ने अपने शुरुआती दिनों के संघर्ष को याद करते हुए कहा कि वह अभ्यास करने के लिए दिल्ली जाने के लिए रात को दो बजे बस पकड़ते थे. विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, उस समय उनके राज्‍य उत्तराखंड के पास क्रिकेट टीम नहीं थी.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 02 May 2020, 07:57:32 AM
Rishabh Pant ians

ऋषभ पंत (Photo Credit: आईएएनएस)

New Delhi:

भारतीय युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें टेस्ट क्रिकेट खेलना पसंद है, जहां पांच दिनों तक आपको वास्तविक चुनौती मिलती है. कोरोनावायरस से पहले न्यूजीलैंड दौरे पर ऋषभ पंत ने सीमित ओवरों की सीरीज में अपना स्थान गंवा दिया था और उनकी जगह लोकेश राहुल ने ले ली थी. ऋषभ पंत आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलते हैं. उन्होंने कैपिटल्स के साथ इंस्टाग्राम लाइव चैट के दौरान कहा, मुझे टेस्ट क्रिकेट खेलना पसंद है. आप खुद को समय दे सकते हैं. टेस्ट क्रिकेट में आप ज्यादातर खुद को परखते हैं.

यह भी पढ़ें ः ऋषभ पंत बोले, दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने उन्‍हें दी है खेलने की पूरी आजादी, रिकी पाेटिंग के बारे में ये कहा

ऋषभ पंत ने अपने शुरुआती दिनों के संघर्ष को याद करते हुए कहा कि वह अभ्यास करने के लिए दिल्ली जाने के लिए रात को दो बजे बस पकड़ते थे. विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, उस समय उनके राज्‍य उत्तराखंड के पास क्रिकेट टीम नहीं थी. मैं रात को दो बजे बस पकड़ता था. उस समय मुझे सड़क के रास्ते छह घंटे लगते थे. ठंड में यह काफी मुश्किल था क्योंकि ठंड बहुत हुआ करती थी. रात में और सर्दी में कोहरा भी बहुत हुआ करता था. लेकिन, यह एक अच्छी यात्रा रही. अपने लक्ष्य को पाने के लिए आखिरकार आपको कड़ी मेहनत करनी ही पड़ती है.

यह भी पढ़ें ः अब BCCI अध्‍यक्ष सौरव गांगुली के उस वादे का क्‍या होगा, जानिए सबा करीम ने क्‍या कहा

उन्होंने कहा, जब मैं चार दिन का प्रथम श्रेणी मैच खेलता था, तब मैंने सुना था कि एक वास्तविक चुनौती है, लेकिन जब मैं पांच दिन का टेस्ट क्रिकेट खेला तो ऐसा लगा कि इसमें आपको अतिरिक्त प्रयास करने की जरूरत है. ऋषभ पंत का कहना है कि उनकी आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के कोच रिकी पोंटिंग उन्हें अपनी तरह से खेलने की पूरी आजादी देते हैं. ऋषभ पंत ने अपनी टीम के साथ इंस्टाग्राम चैट पर कहा, कोच पोंटिंग मुझे पूरी आजादी देते हैं. वह कहते हैं कि जैसा चाहो, खेलो. उन्होंने यह भी कहा कि आईपीएल 2018 सत्र उनके लिए जिंदगी बदलने वाला रहा. ऋषभ पंत ने इसमें 14 मैचों में 650 रन बनाए थे, जिसमें छह अर्धशतक शामिल थे. उन्होंने कहा, वह सत्र मेरे लिए जिंदगी बदलने वाला था. मुझे उस कामयाबी की जरूरत थी. हम पिछली बार नॉकआउट तक पहुंचे और तीसरे स्थान पर रहे.

(इनपुट आईएएनएस)

First Published : 02 May 2020, 07:57:32 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.