News Nation Logo
Banner

पीएसएल स्पॉट फिक्सिंग: पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान पर एक साल का बैन, मांगी माफी

इस बैन के बाद 34 साल के इरफान अब चैंपियंस ट्रॉफी में नहीं खेल सकेंगे। पाकिस्तान ने इसी जांच के तहत पिछले महीने शरजील खान को भी सस्पेंड किया था।

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar | Updated on: 29 Mar 2017, 11:58:12 PM

नई दिल्ली:

पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फिक्सिंग के एक मामले में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने तेज गेंदबाज मोहम्मद इरपान को एक साल के लिए बैन कर दिया है। इसमें 6 महीने का सस्पेंडेड बैन रहेगा।

पाकिस्तानी अखबार 'द डॉन' की रिपोर्ट के मुताबिक इरफान ने माफी मांगी है और बताया है कि पीएसएल के दौरान सट्टेबाजों ने उनसे संपर्क किया था।

इस बैन के बाद 34 साल के इरफान अब चैंपियंस ट्रॉफी में नहीं खेल सकेंगे। पाकिस्तान ने इसी जांच के तहत पिछले महीने शरजील खान को भी सस्पेंड किया था।

इरफान पाकिस्तान के लिए 4 टेस्ट और 60 वनडे मैच खेल चुके हैं। मीडिया से बातचीत में इरफान ने कहा, 'आप इस बात से परिचित हैं कि 14 मार्च को बोर्ड ने मुझे बुलाया था और दो आरोपों के आधार पर मुझे निलंबित कर दिया। मैंने माना कि मैं बोर्ड को सट्टेबाजों के बारे में जानकारी देने में असफल हुआ हूं।'

यह भी पढ़ें: दुबई में हो सकती है भारत-पाक क्रिकेट सीरीज, BCCI को सरकार की हरी झंडी का इंतजार

साथ ही इरफान ने कहा, 'मैंने अपनी ग़लती मान ली, लेकिन मैं किसी भी तरीके से स्पॉट फ़िक्सिंग या मैच फ़िक्सिंग में नहीं शामिल रहा हूं. मैं अपनी ग़लती के लिए पूरे देश से माफ़ी मांगता हूं और मुझे उम्मीद है कि फ़ैन्स मुझे माफ़ कर देंगें।'

दूसरी ओर, पीसीबी के अधिकारियों का कहना है कि इरफान इस प्रकार के किसी भी कृत्य (फिक्सिंग) में शामिल नहीं थे, उनका निलंबन सट्टेबाजों के साथ संपर्क की जानकारी बोर्ड को न दिए जाने के मुद्दे पर आधारित है।

बोर्ड ने कहा कि इरफान पर एक साल के प्रतिबंध के फैसले पर छह माह की अवधि के बाद समीक्षा की जाएगी और ऐसा हो सकता है कि तेज गेंदबाज के अनुबंध को फिर से बहाल किया जाए।

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने विरोट कोहली को फिर बनाया निशाना, कहा- 'कप्तान की हरकतें बच्चों जैसी'

(IANS इनपुट के साथ)

First Published : 29 Mar 2017, 11:49:00 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×