News Nation Logo
Breaking
Banner

ओलंपिक (राउंडअप): लवलीना ने किया पदक पक्का, सिंधु ने उदास दिन को रोशन किया

ओलंपिक (राउंडअप): लवलीना ने किया पदक पक्का, सिंधु ने उदास दिन को रोशन किया

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 30 Jul 2021, 11:55:01 PM
Olympic roundup

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

टोक्यो:   लवलीना बोरगोहेन ने शुक्रवार को वेल्टरवेट (69 किग्रा) के सेमीफाइनल में पहुंचने पर भारत के लए ओलंपिक खेलों की मुक्केबाजी रिंग से कम से कम एक कांस्य पदक पक्का कर लिया जबकि बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु सेमीफाइनल में पहुंचकर पदक के लिए तैयार हैं।

पुरुषों की हॉकी टीम ने मेजबान जापान को लगातार तीसरी जीत के लिए 5-3 से हराया और 1972 के बाद पहली बार अपने पूल में दूसरे स्थान पर रही। शुक्रवार की जीत ने भारत का ग्रेट ब्रिटेन के साथ क्वार्टर फाइनल संघर्ष तय किया।

महिला हॉकी टीम ने उच्च रैंकिंग वाले आयरलैंड को 1-0 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा। उसे अब शनिवार को अपने अंतिम लीग मैच में दक्षिण अफ्रीका को हराना है और उम्मीद करना होगा कि आयरलैंड, ग्रेट ब्रिटेन से हार जाए।

इन प्रदर्शनों के अलावा, शुक्रवार का दिन भारत के लिए निराशाजनक रहा क्योंकि तीरंदाज दीपिका कुमारी दक्षिण कोरिया की एन सैन से हारकर बाहर हो गईं। दीपिका शूटऑफ में रूस की केसिया पेरोवा को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंची थीं।

हालांकि, असम की 16 वर्षीय लवलीना ने दिन को गुलजार कर दिया। लवलीना ने चीनी ताइपे की 2018 विश्व चैंपियन चेन निएन-चिन को मात दी, जिससे वह तीन बार हार चुकी हैं।

लवलीना ने आक्रामकता के साथ बॉक्सिंग की और बिना किसी डर के चेन पर हावी होकर 4-1 से विजेता बनकर भारत को 24 जुलाई को भारोत्तोलक मीराबाई चानू द्वारा प्राप्त रजत में एक और पदक जोड़ने का आश्वासन दिया।

लवलीना 4 अगस्त को सेमीफाइनल में तुर्की की सुरमेनेली बुसेनाज से भिड़ेगी और एक जीत उसे कम से कम एक रजत का आश्वासन देगी।

2016 ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधु टोक्यो में ऐसे समय में भारतीय बैडमिंटन की अकेली ध्वजवाहक के रूप में उभरी हैं, जब तीन अन्य शटलर ग्रुप चरण में बाहर हो गए हैं। शुक्रवार को, वह चौथी वरीयता प्राप्त जापान की अकाने यामागुची के खिलाफ अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में से एक के साथ आई और उसे सीधे गेम में 21-13, 22-20 से हरा दिया।

सिंधु अब सेमीफाइनल में दुनिया की नंबर-1 चीनी ताइपे की ताई जु-यिंग से भिड़ेंगी।

एथलेटिक्स प्रतियोगिताएं शुरू होने से निराशाओं का अंबार था क्योंकि कोई भी भारतीय अपने प्रारंभिक दौर की हीट से आगे नहीं बढ़ पाया।

महिलाओं की 100 मीटर में दुती चंद 11.54 सेकेंड के साथ हीट में सातवें स्थान पर रहीं; 400 मीटर बाधा दौड़ में एमपी जाबिर अपनी हीट में सातवें स्थान पर रहे, जबकि 4 गुणा 400 मीटर मिश्रित रिले टीम हीट में आठवें और अंतिम स्थान पर रही।

स्टीपलचेज अविनाश सेबल ने 8:18.12 समय के साथ अपने ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड को बेहतर बनाया। वह अपनी हीट में सातवें स्थान पर रहे और अगले चरण में जगह बनाने में 0.81 सेकंड से असफल रहे।

नौकायन में, नेथरा कुमानन और विष्णु सरवनन क्रमश: लेजर रेडियल और लेजर मानक वर्ग में फाइनल में जगह बनाने में विफल रहे। नेथरा कुल मिलाकर 35वें स्थान पर रहे जबकि सरवनन लेजर मानक में 20वें स्थान पर रहे।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 30 Jul 2021, 11:55:01 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.