News Nation Logo
Banner

... तो क्‍या अब महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेट जीवन का हो गया है The End

क्रिकेट जगह से जुड़ी एक एक बहुत बड़ी खबर सामने आई है. टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) को गुरुवार को बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची (Team India Player Contract) से बाहर कर दिया गया है

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 16 Jan 2020, 03:36:35 PM
महेंद्र सिंह धोनी MS Dhoni

महेंद्र सिंह धोनी MS Dhoni (Photo Credit: gettyimages)

नई दिल्‍ली:

क्रिकेट जगह से जुड़ी एक एक बहुत बड़ी खबर सामने आई है. टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) को गुरुवार को बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची (Team India player Contract) से बाहर कर दिया गया है, जिससे भारत के पूर्व कप्तान के भविष्य को लेकर एक बार फिर अटकलें तेज हो गई हैं. एमएस धोनी (MS Dhoni) ने पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से मिली हार के बाद क्रिकेट नहीं खेला है. बीसीसीआई ने अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 तक के लिए केंद्रीय अनुबंधों का ऐलान किया है. महेंद्र सिंह धोनी पिछले साल तक ए ग्रेड में थे, जिन्हें सालाना पांच करोड़ रुपये मिलते थे. कप्तान विराट कोहली, उपकप्तान रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ए प्लस ग्रेड में बने हुए हैं जिन्हें सात करोड़ रूपये प्रतिवर्ष मिलते हैं. लेकिन इस बीच अब बहुत बड़े सवाल भी उठ खड़े हुए हैं. हालांकि धोनी के करियर को लेकर सवाल तो बहुत उठ रहे हैं, लेकिन अब सवाल और भी सुलगने लगे हैं और उबलने भी लगे हैं. सवाल यही है कि क्‍या महेंद्र सिंह धोनी के अंतरराष्‍ट्रीय करियर का द एंड हो गया है. धोनी ने खुद भी कहा था कि जनवरी में उन्‍हें पता चल जाएगा कि वे खेलेंगे या नहीं, कहीं धोनी इसी का ही इंतजार तो नहीं कर रहे थे. 

यह भी पढ़ें ः IND VS NZ : भारत के खिलाफ T20 सीरीज के लिए न्‍यूजीलैंड ने घोषित की अपनी टीम

अक्टूबर 2019 से लेकर सितंबर 2020 तक की अवधि के लिए वार्षिक अनुबंध सूची में शामिल खिलाड़ियों में ए-प्लस ग्रेड में तीन खिलाड़ी शामिल हैं. इनमें कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह शामिल हैं. इन तीनों खिलाड़ियों को अक्टूबर 2019 से लेकर सितंबर 2020 तक की अवधि के लिए सात-सात करोड़ रुपये की राशि मिलेगी. वहीं, ए-ग्रेड में रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, लोकेश राहुल, शिखर धवन, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, कुलदीप यादव और ऋषभ पंत शामिल हैं. इन खिलाड़ियों को पांच-पांच करोड़ रुपये की राशि मिलेगी. इसके अलावा बी-ग्रेड में पांच खिलाड़ियों को रखा गया है. इनमें रिद्धिमान साहा, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या और मयंक अग्रवाल शामिल हैं. इन पांचों खिलाड़ियों को तीन-तीन करोड़ रुपये की राशि हासिल होगी. बीसीसीआई ने ग्रेड-सी में आठ खिलाड़ियों को रखा है. इन आठ खिलाड़ियों में केदार जाधव, नवदीप सैनी, दीपक चहर, मनीष पांडे, हनुमा विहारी, शार्दुल ठाकुर, श्रेयस अय्यर और वाशिंगटन सुंदर हैं और इन्हें एक-एक करोड़ रुपये मिलेंगे. यानी एमएस धोनी को अब किसी भी लायक नहीं समझा गया है. वे क्रिकेट तो खेल सकते हैं, लेकिन उन्‍हें साल में कोई पैसा नहीं मिलेगा. इतना तो तय हो गया है. 

यह भी पढ़ें ः महेंद्र सिंह धोनी को बड़ा झटका : BCCI की कॉन्ट्रैक्ट लिस्‍ट से Out

धोनी से पिछले दिनों उनके भविष्‍य को लेकर सवाल भी पूछा था, तब धोनी ने साफ तौर पर कहा था कि जनवरी तक इंतजार करें, उसके बाद पता चल जाएगा. अब जनवरी आ गया और बीसीसीआई की ओर से सालाना कॉट्रैक्‍ट की लिस्‍ट भी जारी कर दी गई है, इसमें उनका नाम नहीं है. अब सवाल यही है कि क्‍या धोनी इसी लिस्‍ट का इंतजार तो नहीं कर रहे थे. अब जबकि वे इस कॉट्रैक्‍ट लिस्‍ट से बाहर हो गए हैं तो अब धोनी को सामने आकर यह बताना चाहिए कि वे क्‍या फैसला लेते हैं. पिछले दिनों टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्‍त्री ने भी कहा था कि धोनी का वन डे करियर अब खत्‍म ही समझा जाना चाहिए. लेकिन वे अभी आईपीएल खेलेंगे, ऐसे में क्‍या धोनी T20 विश्‍व कप के लिए उपलब्‍ध रहेंगे और चयनकर्ता क्‍या फैसला करते हैं उस पर भी निर्भर करेगा.

First Published : 16 Jan 2020, 03:36:35 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×