News Nation Logo
Banner

बीसीसीआई अध्‍यक्ष बनने की ओर अग्रसर सौरव गांगुली के क्रिकेट करियर के बारे में भी जानें

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली अब बीसीसीआई के नए अध्‍यक्ष बनने जा रहे हैं, अभी तक इसका ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन अब तक की रिपोर्ट के अनुसार उनका चुनाव जाना लगभग तय है.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 14 Oct 2019, 01:24:28 PM
सौरव गांगुली

सौरव गांगुली (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली अब बीसीसीआई के नए अध्‍यक्ष बनने जा रहे हैं, अभी तक इसका ऐलान नहीं किया गया है, लेकिन अब तक की रिपोर्ट के अनुसार उनका चुनाव जाना लगभग तय है. बीसीसीआई अध्‍यक्ष पद के लिए आज यानी 14 अक्‍टूबर तक नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख है. पहले इस पद के लिए दो उम्‍मीदवार आमने सामने थे. इसमें एक तो सौरव गांगुली और दूसरे बृजेश पटेल थे. इस बीच नामांकन से ठीक एक दिन पहले रविवार को कई बड़े पदाधिकारियों की बैठक चली, जिसमें यह तय किया गया कि बृजेश पटेल अब नामांकन नहीं करेंगे और सौरव गांगुली को निर्विरोध अध्‍यक्ष चुन लिया जाएगा. 

यह भी पढ़ें ः सौरव गांगुली नहीं बनेंगे आईपीएल (IPL) चेयरमैन, जानिए अब किसे मिलेगा यह पद

सौरव गांगुली लंबे अर्से तक टीम इंडिया के कप्‍तान भी रहे हैं. वे साल 1999 से लेकर 2005 तक भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान रहे हैं. सौरव गांगुली ने भारतीय टीम की कप्‍तानी उस दौर में संभाली थी, जब भारतीय क्रिकेट मैच फिक्‍सिंग के भंवर में फंसी हुई थी. उस वक्‍त के कई क्रिकेट खिलाड़ी मैच फिक्‍सिंग की जद में आ गए थे. सचिन तेंदुलकर जैसे कुछ ही क्रिकेटर ऐसे थे, जो उस वक्‍त इन सब से दूर थे. उसके बाद सौरव गांगुली ने अपने हिसाब से पूरी टीम बनाई और कई बड़े टूर्नामेंट जीते.

यह भी पढ़ें ः 10 महीने से ज्‍यादा बीसीसीआई (BCCI) अध्‍यक्ष नहीं रह पाएंगे सौरव गांगुली (Sourav Ganguly), जानिए क्‍यों

साल 2003 के विश्‍व कप फाइनल में भी उनकी कप्‍तानी में भारतीय टीम पहुंची, लेकिन आस्‍ट्रेलिया के हाथों उसे हार का सामना करना पड़ा था. हालांकि उसके बाद तत्‍कालीन टीम इंडिया के कोच ग्रेग चैपल से उनके संबंध खराब हो गए और उन्‍हें कप्‍तानी से हाथ धोना पड़ा. इसके बाद भी वे टीम इंडिया के लिए खेलते रहे. साल 2008 में सौरव गांगुली ने अपना आखिरी टेस्‍ट मैच खेला था.

यह भी पढ़ें ः सौरव गांगुली का बीसीसीआई का नया अध्‍यक्ष बनना तय, कुछ ही देर में ऐलान संभव

सौरव गांगुली के प्रदर्शन की बात करें तो उन्‍होंने अपने जीवन में 113 टेस्‍ट मैच खेले, जिसमें उन्‍होंने 7212 रन बनाए हैं. उन्‍होंने 16 शतक और 35 अर्द्शतक भी लगाए हैं. टेस्‍ट में उनका सर्वाधिक स्‍कोर 239 रन है. इसके साथ ही सौरव गांगुली ने 311 एक दिवसीय मैच खेले हैं, जिसमें 11363 रन बनाने में वे कामयाब रहे हैं, उन्‍होंने वन डे में 22 शतक और 72 पचासे ठोके हैं. एक दिवसीय मैचों में उनका सर्वाधिक स्‍कोर 183 रन है. इसके अलावा उन्‍होंने 77 T-20 मैच भी खेले हैं, जिसमें 1726 रन बनाए हैं. इसमें वे आठ बार पचासे ठोके हैं. इसके साथ ही वे कई बार गेंदबाजी में भी हाथ आजमा चुके हैं, कई बार जब विपक्षी टीम भारी पड़ती थी और बल्‍लेबाज आउट नहीं हो रहे होते हैं, तब वे खुद गेंद संभालते थे और विकेट भी निकाल कर देते थे.

यह भी पढ़ें ः डेविड वार्नर को मिला जस्‍टिन लैंगर का साथ, बोले वे एक चैंपियन खिलाड़ी

जब भारत में आईपीएल शुरू हुआ तब वे इसमें भी खेले और कोलकाता नाइट राइडर्स के पहले कप्‍तान बने. इसके साथ ही वे आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स और पुणे वॉरियर्स की ओर से भी खेल चुके हैं. अब सौरव गांगुली क्रिकेट की नई भूमिका में सामने आने वाले हैं. माना जा रहा है कि अपने छोटे से कार्यकाल में वे कई बदलाव ला सकते हैं. जिस तरह से उन्‍होंने टीम इंडिया बनाई, उसी तरह से कुछ नए काम कर सकते हैं.

First Published : 14 Oct 2019, 01:07:46 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×