News Nation Logo

जयवर्धने, शॉन पोलाक और ब्रिटिन आईसीसी के हॉल ऑफ फेम में हुए शामिल

जयवर्धने, शॉन पोलाक और ब्रिटिन आईसीसी के हॉल ऑफ फेम में हुए शामिल

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 13 Nov 2021, 11:20:01 PM
Jayawardene, Pollock,

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

दुबई: दक्षिण अफ्रीका के शॉन पोलाक, श्रीलंका के महेला जयवर्धने और इंग्लैंड के जेनेट ब्रिटिन को शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के हॉल ऑफ फेम में शामिल किया गया।

जयवर्धने ने 652 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले, जिसमें 149 टेस्ट, 448 वनडे और 55 टी20 शामिल हैं। श्रीलंकाई खिलाड़ी से केवल सचिन तेंदुलकर ने 12 अधिक अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं।

उन्होंने 448 वनडे में 33.37 औसत से 12,650 रन बनाए, जिसमें 19 शतक भी शामिल हैं। वहीं, टेस्ट में 49.84 के औसत से 11,814 रन बनाए, जिसमें34 शतक शामिल हैं। उनका सर्वाधिक स्कोर 374 रन है। उन्होंने 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कुमार संगकारा के साथ मिलकर 624 रन की वर्ल्ड रिकॉर्ड साझेदारी की थी।

दो बार के क्रिकेट विश्व कप उपविजेता जयवर्धने ने 2011 के फाइनल में भारत के खिलाफ 103 रन बनाए।

वह 2009 और 2012 के टी20 विश्व कप में दूसरे स्थान पर रहने वाली श्रीलंकाई टीमों का भी हिस्सा थे। उन्होंने आखिरकार 2014 में टी20 विश्व कप का फाइनल जीता था।

जयवर्धने ने 2015 क्रिकेट विश्व कप के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।

वहीं, दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर शॉन पोलाक ने 7386 रन बनाए और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 829 विकेट लिए।

शॉन पोलाक ने इंग्लैंड के खिलाफ 1995 में टेस्ट डेब्यू करने के बाद 13 साल में 108 टेस्ट, 303 एकदिवसीय और 12 टी20 मैच खेले।

वह गेंद से शानदार प्रदर्शन करते थे, लेकिन एक बल्लेबाज के रूप में वह तीन शतक ही लगा सकें। उनमें से दो शतक टेस्ट क्रिकेट में आए, जिसमें उन्होंने 32.31 की औसत से 3,781 रन बनाए।

2007 में एक एशिया इलेवन के खिलाफ अफ्रीका इलेवन के लिए उनका अकेला एकदिवसीय शतक आया था। इसमें 110 गेंदों में 130 रन बनाए थे। कुल मिलाकर उन्होंने एकदिवसीय मैचों में 26.45 की औसत से 3519 रन बनाए, जिसमें 14 अर्धशतक भी शामिल हैं।

1979 और 1998 के बीच इंग्लैंड के लिए 27 टेस्ट और 63 एकदिवसीय मैच खेलने वाली जेनेट ब्रिटिन महिला क्रिकेट खेलने वाली सबसे महान बल्लेबाजों में से एक थीं। वह महिला टेस्ट इतिहास में 1935 में सबसे बड़ी रन स्कोरर रही हैं।

उन्होंने 63 एकदिवसीय मैचों में पांच शतकों के साथ 42.42 की औसत से 2121 रन बनाए और 1993 में इंग्लैंड की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थीं। उन्होंने उस टूर्नामेंट के फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ बल्लेबाजी करते हुए 48 रन बनाए और प्रतियोगिता में 51.25 के औसत से 410 रन बनाकर शीर्ष खिलाड़ी बनी थीं।

2017 में ब्रिटिन का 58 वर्ष की आयु में कैंसर से निधन हो गया। वह हॉल ऑफ फेम में शामिल होने वाली इंग्लैंड की 31वीं खिलाड़ी हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 13 Nov 2021, 11:20:01 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.