News Nation Logo

एमएस धोनी और युवराज सिंह में से एक के चुनाव पर जसप्रीत बुमराह ने कही ये बात

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का कहना है कि जब मैच को टीम के पक्ष में खत्म करने की बात आती है तो महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह समान स्तर पर हैं औरइन दोनों में से किसी एक को चुनना वैसा ही है जैसे माता-पिता में से किसी एक को चुनना.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 27 Apr 2020, 03:32:03 PM
jaspreet bumrah

जसप्रीत बुमराह का फाइल फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

New Delhi:

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का कहना है कि जब मैच को टीम के पक्ष में खत्म करने की बात आती है तो महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह समान स्तर पर हैं और इसी कारण इन दोनों में से किसी एक को चुनना वैसा ही है जैसे माता-पिता में से किसी एक को चुनना. जसप्रीत बुमराह ने युवराज सिंह से इंस्टाग्राम पर बातचीत पर कहा, मैं किसी एक को चुन नहीं सकता. युवराज सिंह और एमएस धोनी में से किसी को चुनना वैसे ही है जैसे माता-पिता में किसी एक को चुनना है. मैंने आप दोनों को भारत को कई मैच जिताते हुए देखा है. इसलिए यह काफी मुश्किल सवाल है.

यह भी पढ़ें ः अक्टूबर में T20 विश्व कप होना मुश्किल लग रहा है, जानिए किसने कही ये बात

युवराज सिंह ने रविवार शाम को किए गए इस चैट सेशन में जसप्रीत बुमराह से विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर में से किसी एक को चुनने को कहा तो बुमराह इस सवाल पर भी बचाव की मुद्रा में दिखे. पहले तो उन्होंने कहा कि उनके पास इस सवाल का जवाब देने के लिए कोई अनुभव नहीं है. लेकिन काफी जिद करने के बाद बुमराह ने कहा, हर कोई सचिन पाजी का प्रशंसक है, इसलिए मैं उन्हें चुनूंगा. युवराज सिंह ने जसप्रीत बुमराह से पूछा कि रविचंद्र अश्विन और हरभजन सिंह में से बेहतर कौन है? इस पर बुमराह ने कहा, मैं अश्विन के साथ खेला हूं लेकिन मैंने हरभजन को बचपन से देखा है और उनके साथ खेला भी हूं. इसलिए मैं उन्हें चुनूंगा.

यह भी पढ़ें ः IPL में दो करोड़ में खरीदे गए खिलाड़ी को इस बार नहीं मिला भाव, तो कही ये बड़ी बात

आपको बता दें कि इस दौरान जसप्रीत बुमराह से जब उनके गेंदबाजी एक्‍शन के बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि मुझसे कहा जाता था कि मैं केवल रणजी ट्राफी तक ही सीमित रहूंगा, लेकिन मैंने सुधार जारी रखा और अपने एक्शन पर कायम रहा. जसप्रीत बुमराह ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के दम पर जनवरी 2016 में भारत की तरफ से पदार्पण किया था. बुमराह ने किसी का नाम लिए बिना अपने एक्शन के पीछे की प्रेरणा का भी खुलासा किया. उन्होंने कहा, मैंने विशेष कोचिंग नहीं ली है और मैंने जो कुछ भी सीखा है वह टीवी देखकर सीखा. मैं एक टेनिस गेंद गेंदबाज के एक्शन की नकल करता था. बुमराह ने कहा, मैं नहीं जानता कि कब यह एक्शन मेरी पहचान बन गया. अंडर-19 तक मेरा एक्शन अलग था. उसमें बदलाव होता रहता था, लेकिन जब मैंने यह एक्शन अपनाया तो किसी ने इसे बदलने को नहीं कहा और मैं इस पर काम करता रहा.
जसप्रीत बुमराह ने अब तक 64 एकदिवसीय इंटरनेशनल मैच, 50 T20 मैच और 14 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने जनवरी 2018 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया और बहुत कम समय में लंबे प्रारूप में भी विराट कोहली के विश्वसनीय गेंदबाज बन गए.

(इनपुट आईएएनएस)

First Published : 27 Apr 2020, 03:32:03 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो