News Nation Logo
Banner

क्रिकेट के रोमांच को लेकर हो जाइए तैयार, इस बार 19 दिसंबर से चढ़ेगा IPL का बुखार

भारत में क्रिकेट किसी धर्म से कम नहीं. लोग इसके दीवाने रहते हैं. आईपीएल यानी इंडियन प्रीमियर लीग (ipl), (indian Premier League) को तो इंडिया का त्‍योहार तक कहा जाता है.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 01 Oct 2019, 01:56:35 PM
आईपीएल नीलामी का फाइल फोटो

आईपीएल नीलामी का फाइल फोटो

नई दिल्‍ली:

भारत में क्रिकेट किसी धर्म से कम नहीं. लोग इसके दीवाने रहते हैं. आईपीएल यानी इंडियन प्रीमियर लीग (ipl), (indian premier league) को तो इंडिया का त्‍योहार तक कहा जाता है. एक सीजन खत्‍म होता है तो दूसरे का इंतजार शुरू हो जाता है. एक बार फिर आईपीएल (ipl) का मंच सजने के लिए तैयार है. इसका आगाज 19 दिसंबर से हो जाएगा. यानी इस दिन खिलाड़ियों की बोली लगाई जाएगी, यानी ऑक्‍शन (ipl auction) (Auction for IPL 2020) होगा. इस बार फर्क यह भी है, ऑक्‍शन यानी खिलाड़ियों की बोली कोलकाता में लगेगी. इससे पहले परम्‍परागत रूप से यह आयोजन बेंगलुरु में होता आया है. इस बार बीसीसीआई (BCCI)ने इसमें बदलाव कर दिया है.

यह भी पढ़ें ः Ind VS Sa : आस्‍ट्रेलिया को पीछे छोड़ने के करीब Team India, जानिए क्‍या है वह रिकार्ड

ईएसपीएनक्रिक्‍इन्‍फो के अनुसार इस बार बीसीसीआई की ओर से स्‍थान में बदलावा कर दिया गया है. यह भी जानकारी मिली है कि अगले साल यानी 2021 के आईपीएल के बड़े आयोजन को लेकर इस बार बोली छोटी ही रखी जाएगी. इससे पहले आईपीएल की बड़ी नीलामी साल 2018 में हुई थी, तब टीम फ्रेंचाइजियों को पांच खिलाड़ियों केा बनाए रखने की अनुमति दी गई थी. इस बार बहुत ज्‍यादा बदलाव देखने को नहीं मिलेंगे.

यह भी पढ़ें ः VIDEO : गौतम गंभीर ने कसा तंज, इतना कश्‍मीर कश्‍मीर किया कि कराची ही भूल गए

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस बार की आठ फ्रेंचाइजियों को ट्रेडिंग के लिए 14 नवंबर तक का वक्‍त दिया गया है. हालांकि अभी यह तय नहीं है कि टीमें अपने कितने खिलाड़ियों को बनाए रख सकती हैं. यह जानकारी पहले ही दी जा चुकी है कि टीमों को अपनी टीमों को बनाने के लिए 85 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे. हर फ्रेंचाइजी के पास तीन करोड़ रुपये का अतिरिक्‍त पर्स होगा.

यह भी पढ़ें ः लाइव क्रिकेट में पाकिस्‍तान ने खुद कराई बेइज्‍जती, मैच रोकना पड़ा और खिलाड़ी करते रहे इंतजार

बार दिल्‍ली के पास अपनी टीम बनाने के लिए ज्‍यादा राशि होगी. दिल्‍ली कैपिटल (Delhi Capitals) के पास 8.2 करोड़ रुपये होंगे. राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) के पास 7.15, कोलकाता नाईट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के पास 6.05, सनराईजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के पास 5.3 करोड़, किंग्‍स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के पास 3.7 करोड़, चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स (Chennai Super Kings)के पास 3.2 करोड़, मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के पास 3.05 करोड़ और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (Royal Challengers Bangalore) के पास 1.8 करोड़ रुपये होंगे. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अभी तक आईपीएल की सबसे फिसड्डी टीम रही है और इस बार भी उसके पास ज्‍यादा पैसे नहीं हैं. ऐसे में पहले वाले खिलाड़ियों के साथ ही इस बार भी टीम को मैदान में उतरना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें ः इस बल्‍लेबाज ने भारतीय कप्‍तान विराट कोहली को छोड़ा पीछे, टीम को भी जिताया

मुंबई इंडियंस अब तक सबसे ज्‍यादा बार आईपीएल खिताब पर अपना कब्‍जा कर चुका है. टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 2013, 2015, 2017, 2019 में ट्रॉफी अपने नाम की है. इसके बाद चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स ने तीन बार साल 2010, 2011, 2018 में खिताब जीता है. कोलकाता नाईट राइडर्स साल 2012, 2014 में ट्रॉफी जीत चुकी है. राजस्‍थान रॉयल्‍स ने साल 2008 और सनराइजर्स हैदराबाद ने 2016 में एक एक बार खिताब जीता है. वहीं दिल्‍ली कैपिटल, किंग्‍स इलेवन पंजाब, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर लगातार खेलने के बाद भी अभी तक एक भी खिताब नहीं जीत सके हैं.

First Published : 01 Oct 2019, 12:13:50 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×