News Nation Logo
Banner

INDvsNZ : पृथ्‍वी शॉ की सबसे बड़ी कमजोरी आई सामने, विराट कोहली फिर भी उतारेंगे मैदान में

विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के तहत दो टेस्‍ट मैचों की सीरीज में भारतीय टीम (Team India) पहला मैच 10 विकेट से हार गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 26 Feb 2020, 12:05:25 PM
टीम इंडिया, भारतीय क्रिकेट टीम

टीम इंडिया, भारतीय क्रिकेट टीम (Photo Credit: gettyimages)

New Delhi:

India vs New Zealand 2nd Test : विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप (World Test Championship) के तहत दो टेस्‍ट मैचों की सीरीज में भारतीय टीम (Team India) पहला मैच 10 विकेट से हार गई है. अब दोनों टीमें दूसरे टेस्‍ट की तैयारी में जुट गई हैं. भारतीय टीम जहां पहला मैच हारने के बाद दूसरा मैच जीतकर सीरीज को बराबरी पर खत्‍म करना चाहेगी, वहीं न्‍यूजीलैंड की कोशिश होगी कि दूसरा मैच जीतकर या फिर उसे ड्रॉ कराकर सीरीज जीतने की कोशिश करेगी. अब तक दोनों देशों के बीच इस दौरे में पांच T20 मैच हुए थे, जिसमें टीम इंडिया ने 5-0 से न्‍यूजीलैंड को हराया था, वहीं वन डे सीरीज में न्‍यूजीलैंड ने भारत को 3-0 से हराने में कामयाबी हासिल की थी. अब दूसरे टेस्‍ट और इस दौेरे के आखिरी मैच की बारी है.  

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : गुवाहाटी में 27 से 29 फरवरी तक अभ्यास करेगी राजस्थान रॉयल्स

ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult) और टिम साउदी (Tim Southee) ने पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) की कमजोरियों को उजागर कर दिया है, लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली उनकी तकनीक में किसी भी तरह के सुधार करने के प्रयास से पहले ‘देखो और इंतजार करो’ की नीति अपनाने के लिए तैयार हैं, क्योंकि उन्हें इस युवा सलामी बल्लेबाज के आउट होने में एक जैसा तरीका नजर नहीं आया. यह 20 वर्षीय बल्लेबाज न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन में पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में 16 और 14 रन ही बना पाया और विशेषज्ञों को उनकी बल्लेबाजी में कुछ कमजोरियां नजर आईं. भारत ने यह मैच दस विकेट से गंवाया था.

यह भी पढ़ें ः INDvNZ : अब इस खिलाड़ी ने की टीम इंडिया की आलोचना, जानिए क्‍या कहा

कप्‍तान विराट कोहली ने पहले टेस्ट मैच की समाप्ति के बाद पृथ्‍वी शॉ के आउट होने के बारे में पूछे जाने पर कहा, मेरा मानना है कि उसके आठ या दस बार इसी तरह से आउट होने के बाद हम बैठकर इस पर विश्लेषण कर सकते हैं. मुझे नहीं लगता कि यह ऐसे खिलाड़ी के साथ न्याय होगा जो पहली बार विदेशी सरजमीं पर खेल रहा है और घरेलू धरती पर खेलने की तुलना में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग तरह के गेंदबाजी आक्रमण का सामना कर रहा हो. विराट कोहली ने कहा, मुझे नहीं लगता कि इस स्तर पर हमें इस बारे में चर्चा करने की जरूरत है कि क्या गलत हुआ क्योंकि मुझे कुछ भी गलत नजर नहीं आया. वह केवल चीजों पर सही तरह से अमल नहीं कर पाया था. भारत के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों में पृथ्‍वी शॉ की बैकलिफ्ट सबसे बड़ी है और जब भी न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने शार्ट पिच गेंदें कीं, तब उन्हें परेशानी हुई. स्कॉट कुगलीन ने हैमिल्टन में अभ्यास मैच की पहली पारी में यही रणनीति अपनाई जबकि वेलिंगटन टेस्ट की दूसरी पारी में बोल्ट ने इसका सफलतापूर्वक उपयोग किया.

यह भी पढ़ें ः VIDEO : भारत की इस खिलाड़ी ने वन डे में चटका दिए दसों विकेट, हैट्रिक भी अपने नाम की

विराट कोहली ने अपने जूनियर साथी के बारे में कहा, एक बल्लेबाज के तौर पर मेरा मानना है कि जब तक आप एक ही गलती सात या आठ बार नहीं दोहराते तब आपको इसको लेकर बहुत अधिक चिंता करने की जरूरत नहीं है. भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच दो टेस्‍ट मैचों की सीरीज का दूसरा और आखिरी मैच 29 फरवरी से शुरू हो रहा है. इसमें भारतीय टीम जीतने की पूरी कोशिश करेगी. पहल टेस्‍ट मैच में टीम इंडिया को चौथे ही दिन दस विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा था. इस मैच की दोनों पारियों में टीम इंडिया किसी भी पारी में 200 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई थी. अब भारतीय टीम दूसरा मैच जीतकर सीरीज को बराबर करने की कोशिश करेगी. 

First Published : 26 Feb 2020, 12:05:25 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×