News Nation Logo

INDvsNZ : टीम इंडिया की दस विकेट से हार के बाद ऐसी बदली विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप की तस्‍वीर, देखें आंकड़े

भारतीय बल्लेबाजों ने विपरीत परिस्थितियों में फिर से आसानी से घुटने टेक दिए. भारत को टेस्ट मैचों में आखिरी हार 2018-19 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में मिली थी.

Bhasha | Updated on: 24 Feb 2020, 09:44:29 AM
टीम इंडिया, भारतीय क्रिकेट टीम

टीम इंडिया, भारतीय क्रिकेट टीम (Photo Credit: फाइल फोटो )

Wellington:

भारतीय बल्लेबाजों ने विपरीत परिस्थितियों में फिर से आसानी से घुटने टेक दिए. इससे न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) ने सोमवार को पहले टेस्ट क्रिकेट मैच (India vs New Zealand 1st Test) में चौथे दिन पहले सत्र में ही दस विकेट से बड़ी जीत दर्ज की. भारत (Team India) ने सुबह अपनी दूसरी पारी चार विकेट पर 144 रन से आगे बढ़ाई, लेकिन उसकी पूरी टीम 81 ओवर में 191 रन पर ढेर हो गई. यह पहली पारी के उसके प्रदर्शन से थोड़ा अच्छा था, लेकिन इतना बेहतर नहीं था कि कीवी टीम के लिए कोई चुनौती पेश कर सके. भारत ने पहली पारी में 165 रन बनाए थे. टिम साउदी (61 रन देकर पांच) और ट्रेंट बोल्ट (39 रन देकर चार) की जोड़ी ने दिखाया कि उनकी सीम और स्विंग के सामने भारत की मशहूर बल्लेबाजी लाइन अप में भी काफी सुधार की जरूरत है. इससे विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) की तस्‍वीर बदल गई है. इस चैंपियनशिप में यह पहली बार हुआ है कि टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा हो. 

यह भी पढ़ें ः क्रिकेट के भगवान ने आज ही लगाया था वन डे का पहला दोहरा शतक, देखिए पूरी पारी

न्यूजीलैंड के सामने नौ रन का लक्ष्य था जो उसने 1.4 ओवर में बिना किसी नुकसान के हासिल कर दिया और इस तरह से टेस्ट क्रिकेट में अपनी 100वीं जीत दर्ज की. भारत को टेस्ट मैचों में आखिरी हार 2018-19 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में मिली थी लेकिन बेसिन रिजर्व की पराजय से वह अधिक आहत हुआ क्योंकि हाल में कभी उसकी टीम ने इस तरह से घुटने नहीं टेके थे. सितारों से सजी भारतीय बल्लेबाजी किसी भी समय चुनौती पेश करती हुई नजर नहीं आई. विकेट से तीसरे और चौथे दिन भी गेंदबाजों से मदद मिल रही थी, लेकिन भारतीय बल्लेबाजों ने अपनी खराब तकनीक से विकेट गंवाए. यह टीम अपने पूर्ववर्ती बल्लेबाजों से तेज गेंदबाजों को बेहतर तरीके से खेलती है और इसी वजह से उसे आस्ट्रेलिया में जीत भी मिली, लेकिन जब चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में सीम और स्विंग का सामना करने की बात आती है तो उनकी कमजोरी खुलकर सामने आ गई. भारतीयों में केवल मयंक अग्रवाल ही कुछ अच्छा प्रदर्शन कर पाए. भारत ने सुबह चार रन के अंदर अजिंक्य रहाणे (29) और हनुमा विहारी (15) के विकेट गंवा दिए. इन दोनों को धैर्यपूर्ण बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है, लेकिन बेहतरीन सीम गेंदबाजी के सामने उनकी एक नहीं चली. बोल्ट ने रहाणे को आफ स्टंप से बाहर की गेंद को खेलने के लिए मजबूर किया जो बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के दस्तानों में पहुंची. इसके बाद साउदी ने खूबसूरत आउटस्विंगर पर विहारी का विकेट थर्राया. चौथे दिन 20 मिनट के अंदर स्विंग के सुल्तानों ने भारत के दोनों भरोसेमंद बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर न्यूजीलैंड की बड़ी जीत सुनिश्चित कर दी थी.

यह भी पढ़ें ः Namaste Trump : मोटेरा स्‍टेडियम की सबसे बड़ी 10 बातें, जिसका उद्घाटन करेंगे मोदी और ट्रंप

ऋषभ पंत (41 गेंदों पर 25) ने कुछ योगदान दिया, जिससे भारत पारी की हार बचाने में सफल रहा लेकिन उन्हें दूसरे छोर से कोई मदद नहीं मिली. इशांत शर्मा ने 12 रन बनाए. ऋषभ पंत ने साउदी की गेंद पर स्लॉग स्वीप शाट से डीप मिडविकेट पर कैच दिया जिससे भारतीय पारी का अंत हुआ. साउदी का यह पारी का पांचवां विकेट था. उन्होंने दसवीं बार यह कारनामा किया. उन्हें मैन आफ द मैच चुना गया. न्यूजीलैंड के विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में अब 120 अंक हो गए हैं. भारत अब भी 360 अंकों के साथ तालिका में शीर्ष पर बना हुआ है.

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 24 Feb 2020, 09:44:29 AM