News Nation Logo
Banner

चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले एकदिवसीय ना खेलना चिंता की बात नहीं: विराट कोहली

भारत को इंग्लैंड के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरिज खेलनी है, जिसकी शुरुआत गुरुवार से होगी।

IANS | Edited By : Sonam Kanojia | Updated on: 23 Jan 2017, 08:55:53 PM
विराट कोहली (फाइल फोटो)

highlights

  • विराट ने पारंपरिक तकनीक से रन बनाने की बात कही
  • विराट ने सीनियर और युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन से मिली खुशी का किया इजहार

कोलकाता:  

इसी साल जून में होने वाली चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले एकदिवसीय मैच ना खेलना भारत के कप्तान विराट कोहली के लिए चिंता का विषय नहीं है। कोहली ने माना कि अंतिम ओवरों में गेंदबाजी टीम के लिए चिंता का विषय है और इंग्लैंड के खिलाफ आने वाली टी-20 सीरीज़ में टीम इस क्षेत्र में सुधार करने की कोशिश करेगी।

भारतीय टीम की बल्लेबाजी के स्तंभ कोहली ने कहा है कि टी-20 में रन बनाने के लिए बल्लेबाजों को कुछ भी अलग करने की जरूरत नहीं है। वह अपनी पारंपरिक तकनीक के साथ भी तेजी से रन बना सकते हैं।

कोहली से जब पूछा गया कि क्या चैम्पियंस ट्रॉफी से पहले एकदिवसीय मैच ना खेलने पर टीम का नुकसान होगा? तो इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा, 'यह बुरी बात नहीं है। हम जितना टी-20 क्रिकेट खेलेंगे, उतना ही डेथ ओवरों में गेंदबाजी करने में बेहतर होंगे।'

ये भी पढ़ें: सचिन और धोनी के बाद अब मिलिए विराट कोहली के क्रेजी फैन निकाष से, पेशे से हैं बस कंडक्टर

विराट ने कहा, 'जहां तक बल्लेबाजी की बात है, हम अपनी मौजूद तकनीक पर ही निर्भर रहने की कोशिश करेंगे। हमारी कोशिश टी-20 और एकदिवसीय में टेस्ट क्रिकेट को ध्यान में रखकर सुधार करने की होगी ना कि गैरजरूरी हर गेंद को मारने की।' इंग्लैंड ने तीन एकदिवसीय मैचों की सीरिज का आखिरी मैच पांच रनों से जीता था।

कोहली ने कहा, 'यह समझना जरूरी है कि इन हालात में रन कैसे बनाए जाते हैं। आपको इसके लिए मजबूत आधार और संतुलन की जरूरत होती है। हम कोशिश करेंगे की अतिरिक्त चीज ना करें और पारंपरिक तकनीक के साथ खेलें।'

इंग्लैंड के खिलाफ खेली गई सीरिज में मध्यक्रम के बल्लेबाज केदार जाधव भारतीय टीम की खोज रहे हैं। उन्होंने तीन मैचों में 77.33 की औसत से 232 रन बनाए थे। जाधव ने रविवार को हुए मैच में 75 गेंदों में 90 रनों की पारी खेल भारत को लगभग मैच जीता दिया, लेकिन बेन स्टोक्स ने अंतिम ओवर में उनका विकेट लेकर भारत से जीत छीन ली।

ये भी पढ़ें: कप्तानी छोड़ने के बावजूद धोनी निभा रहे हैं कप्तान की जिम्मेदारी, विराट की जगह करने गये पिच का निरीक्षण

तीसरे मैच में हार्दिक पांड्या ने बल्ले और गेंद से बेहतरीन प्रदर्शन किया था। कोहली ने कहा कि एम एस धोनी और युवराज सिंह जैसे सीनियर खिलाड़ियों के अलावा युवा खिलाड़ियों के अच्छे प्रदर्शन से उन्हें खुशी मिली है। धोनी और युवराज ने कटक में खेले गए दूसरे एकदिवसीय मैच में शतक लगाया था।

कोहली ने कहा, 'चैम्पियंस ट्रॉफी में हमारे पास दो ऐसे खिलाड़ी हैं, जो तेज गेंदबाजी को बड़े अच्छे से खेल सकते हैं। इससे हमें काफी आत्मविश्वास मिला है।' भारत को इंग्लैंड के खिलाफ तीन टी-20 मैचों की सीरीज़ खेलनी है, जिसकी शुरुआत गुरुवार से होगी।

First Published : 23 Jan 2017, 08:46:00 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.