News Nation Logo
Banner

घटिया प्रदर्शन के बावजूद ऋषभ पंत को मिली खुली छूट, रोहित बोले- जो कर रहे हैं करने दीजिए

रोहित ने कहा कि ऋषभ निर्भीक क्रिकेटर हैं और हम उसे वही आजादी देना चाहते हैं. अगर आप कुछ समय के लिये अपनी निगाहें उससे दूर रखोगे तो इससे वह बेहतर प्रदर्शन कर पायेगा.

Bhasha | Updated on: 09 Nov 2019, 05:10:16 PM
ऋषभ पंत

ऋषभ पंत (Photo Credit: getty images)

नागपुर:

टीम इंडिया के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने शनिवार को आलोचनाओं से घिरे ऋषभ पंत का समर्थन करते हुए आलोचकों से कहा कि उसे छोड़ दें क्योंकि वह सिर्फ टीम प्रबधंन की रणनीति पर अमल की कोशिश कर रहा है. कई मौकों पर पंत के शाट चयन की काफी आलोचना हुई है और राजकोट में बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टी20 में उनकी खराब विकेटकीपिंग की भी आलोचना हुई.

ये भी पढ़ें- IND vs BAN, Dream 11: नागपुर में होगा हाई-वोल्टेज फाइनल, रोहित शर्मा पर लगा सबसे बड़ा दांव

कप्तान रोहित ने बांग्लादेश के खिलाफ यहां टी20 श्रृंखला के निर्णायक मैच से पूर्व कहा, ‘‘हर दिन, हर मिनट ऋषभ पंत के बारे में काफी चर्चायें चल रही हैं. मुझे यही लगता है कि उसे वही करने देना चाहिए जो वह मैदान पर करना चाहता है. मैं हर किसी से अनुरोध करूंगा कि कुछ समय के लिये ऋषभ पंत से निगाहें हटा लीजिये.’’

ये भी पढ़ें- भारत के इस दिग्गज खिलाड़ी ने धोनी से की बांग्लादेशी कप्तान महमूदुल्लाह की तुलना, तारीफ में कही ये बातें

उन्होंने कहा, ‘‘वह निर्भीक क्रिकेटर है और हम (टीम प्रबंधन) उसे वही आजादी देना चाहते हैं. और अगर आप कुछ समय के लिये अपनी निगाहें उससे दूर रखोगे तो इससे वह बेहतर प्रदर्शन कर पायेगा. ’’ रोहित दिल्ली के इस युवा खिलाड़ी की लगातार आलोचना से खुश नहीं हैं.

ये भी पढ़ें- IPL 2020: आईपीएल में नई टीमों से पहले शामिल हो सकते हैं ये 3 नए शहर, पढ़ें पूरी खबर

उन्होंने इस पर निराशा व्यक्त करते हुए कहा, ‘‘वह 22 साल का युवा है जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खुद का मुकाम हासिल करने की कोशिश कर रहा है. वह मैदान पर कुछ भी करता है लोग उसके बारे में बात करना शुरू कर देते हैं. यह ठीक नहीं है. मुझे लगता है कि हमें उसे उसका क्रिकेट खेलने देना चाहिए जो वास्तव में वह करना चाहता है.’’

First Published : 09 Nov 2019, 05:10:16 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×