News Nation Logo

IND VS SL : पांच साल बाद मैच खेलने टीम में आया यह खिलाड़ी, दूसरा 16 महीने बाद

श्रीलंका के कप्तान लसिथ मलिंगा ने शुक्रवार को खेले जा रहे तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 10 Jan 2020, 07:35:13 PM
मनीष पांडे

मनीष पांडे (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:  

INDIA vs SRI LANKA 3rd T20 Match Pune : श्रीलंका के कप्तान लसिथ मलिंगा ने शुक्रवार को खेले जा रहे तीसरे और आखिरी टी-20 मैच में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है. सीरीज का पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ गया था जबकि दूसरे मैच में भारत ने सात विकेट से जीत हासिल की थी. इस मैच को जीत भारतीय टीम सीरीज अपने नाम करना चाहेगी तो वहीं श्रीलंका की कोशिश सीरीज बराबरी पर खत्म करने की होगी. भारत ने तीन बदलाव किए हैं. संजू सैमसन को आखिरकार मौका मिला है. वह ऋषभ पंत के स्थान पर टीम में आए हैं. कुलदीप यादव और शिवम दुबे के स्थान पर युजवेंद्र चहल और मनीष पांडे को टीम में जगह मिली है. श्रीलंका ने अपनी टीम में दो बदलाव किए हैं. एंजेलो मैथ्यूज और लक्षण संदकाना को टीम में जगह मिली है. 

यह भी पढ़ें ः IND VS SL: टीम इंडिया में आज तीन बड़े बदलाव, ये तीन खिलाड़ी बाहर, इन्‍हें मिलेगा मौका

श्रीलंका के कप्तान लसिथ मलिंगा ने भारत के खिलाफ तीसरे और अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में शुक्रवार को यहां टास जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया. भारत ने अपनी टीम में तीन बदलाव करके कुलदीप यादव, ऋषभ पंत और शिवम दुबे की जगह युजवेंद्र चहल, संजू सैमसन और मनीष पांडे को अंतिम एकादश में रखा है. श्रीलंका ने भी अपनी टीम में दो बदलाव करके एंजेलो मैथ्यूज को अंतिम एकादश में लिया है जो 16 महीने बाद टी20 अंतरराष्ट्रीय में खेलेंगे. भारत तीन मैचों की श्रृंखला में अभी 1-0 से आगे हैं. गुवाहाटी में पहला मैच बारिश के कारण रद्द करना पड़ा था जबकि भारत ने इंदौर में खेला गया दूसरा मैच सात विकेट से जीता था.

यह भी पढ़ें ः IND VS SL 3rd T20 LIVE : भारत की बल्‍लेबाजी शुरू, राहुल और शिखर क्रीज पर

मजेदार बात यह है कि संजू सैमसन को करीब पांच साल बाद टीम में शामिल किया गया है. वे टीम में तो पिछले कई मैचों से थे, लेकिन अंतिम एकादश में शमिल नहीं किए जा रहे थे. आखिरकार आज का मैच खेलने का मौका उन्‍हें मिल ही गया. वहीं मनीष पांडे को भी लंबे अर्से के बाद टीम में शामिल किया गया है.

यह भी पढ़ें ः IND Vs AUS : भारत आते ही जसप्रीत बुमराह के बारे में एरॉन फिंच ने दे दिया बड़ा बयान, जानें क्‍या कहा

दरअसल दूसरे मैच के बाद ही जब टीम का ऐलान किया गया और टीम बीसीसीआई के ट्वीटर हैंडल पर डाली गई तो लोगों ने विराट कोहली को आड़े हाथों लिया और कहा जाने लगा कि इन दोनों बल्‍लेबाजों ने आखिर क्‍या गलती की है, जो इन्‍हें टीम में नहीं लिया जा रहा है. सभी यही जानना चाह रहे थे कि इन दोनों को टीम में रखने के बाद भी खिलाया क्‍यों नहीं जा रहा है. संजू सैमसन तो ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं, जो लगातार सात मैचों से टीम में हैं, लेकिन उन्‍हें मौका ही नहीं दिया जा रहा था कि वे अपनी बल्‍लेबाजी और विकेटकीपरिंग के जलवे दिखा सकें. 

यह भी पढ़ें ः क्रिस गेल को पसंद है पाकिस्‍तान, बोले- क्रिकेट के लिए सुरक्षित स्‍थान

संजू सैमसन और मनीष पांडे ऐसे बल्‍लेबाज हैं जो घरेलू क्रिकेट में अच्‍छा प्रदर्शन भी कर चुके हैं. सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी में कर्नाटक ने आखिरी गेंद पर तमिलनाडु को मात्र एक रन से हराकर ट्रॉफी पर कब्‍जा कर लिया था. इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब कर्नाटक अपने खिताब को बचाने में कामयाब हो गई इससे पहले कभी भी एक टीम ने दो बार ट्रॉफी नहीं जीती. साथ ही एक महीने पहले ही विजय हजारे ट्रॉफी का खिताब जीतने वाली कर्नाटक पहली ऐसी टीम भी बन गई है, जिसने एक ही सीजन में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया है. विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में भी कर्नाटक ने तमिलनाडु को ही हराया था. इस मैच में कर्नाटक के लिए कप्तान मनीष पांडे ने 45 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से नाबाद 60 रन की सर्वाधिक पारी खेली. वे ही जीत के असल नायक रहे. इसके बाद उनकी शादी थी और शादी के तुरंत बाद वे टीम से जुड़ गए, लेकिन कभी कभार उन्‍हें फील्‍डिंग करने के लिए मैदान में उतारा जाता है, लेकिन बल्‍लेबाजी के लिए कभी नहीं. जबकि सभी जानते हैं कि मनीष पांडे आज की तारीख में टीम इंडिया के सबसे शानदार फील्‍डर हैं. टीम इंडिया का कोई मैंबर अगर उन्‍हें टक्‍कर दे सकता है तो वह सिर्फ रवींद्र जडेजा ही हैं.

यह भी पढ़ें ः IND VS AUS : भारत पहुंची आस्‍ट्रेलियाई टीम, 14 जनवरी को होगी पहली टक्‍कर

बात अगर संजू सैमसन की करें तो उन्‍होंने भी पिछले दिनों अच्‍छा प्रदर्शन किया था. कम से कम ऋषभ पंत से तो बेहतर बल्‍लेबाज वे हैं ही. इससे पहले लगातार दो सीरीज गुजर चुकी हैं, जिसमें संजू सैमसन टीम में तो शामिल थे, लेकिन उन्‍हें अंतिम ग्‍यारह में शामिल होने का मौका नहीं मिल सका. बांग्‍लादेश सीरीज में भी संजू सैमसन को शामिल किया गया था, लेकिन एक भी मैच उन्‍हें नहीं खिलाया गया. मजे की बात यह रही कि बिना मैच खिलाए ही अगली सीरीज से उन्‍हें टीम से बाहर का रास्‍ता दिखा दिया गया था. चयनकर्ताओं के इस फैसले की कड़ी आलोचना भी हुई. इसी बीच खबर आई कि सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन की चोट ठीक नहीं हुई है और इसके बाद आनन फानन में संजू सैमसन को टीम में भर्ती कर लिया गया. वेस्‍टइंडीज सीरीज में उम्‍मीद थी कि तीन मैचों में तो कम से कम एक मैच में तो उन्‍हें मौका दिया ही जाएगा. एक मैच तो उनके अपने घरेलू मैदान यानी त्रिवेंद्रम में भी खेला गया, लेकिन उस मैच में भी उन्‍हें नहीं खिलाया गया. अब श्रीलंका सीरीज के लिए भी संजू सैमसन का चयन तो किया गया, लेकिन पहले ही मैच में उन्‍हें टीम में नहीं रखा गया. हालांकि लगातार आलोचनाओं के बाद अब जाकर यह फैसला हुआ है कि संजू सैमसन और मनीष पांडे को टीम में लिया गया और अब वे आज के मैच में खेल रहे हैं. हालांकि अब आज इन दोनों ही खिलाड़ियों को अच्‍छा प्रदर्शन करना होगा.

First Published : 10 Jan 2020, 07:35:13 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.