News Nation Logo
Banner

World Cup टीम में अंबति रायडु को जगह न मिलने पर निराश गौतम गंभीर, कही यह बड़ी बात

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि ऋषभ पंत को जगह नहीं मिलने पर कोई बहस नहीं होनी चाहिए क्योंकि उन्होंने मिले मौकों का फायदा नहीं उठाया.

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar1 | Updated on: 17 Apr 2019, 09:55:46 AM
World Cup टीम में अंबति रायडु को जगह न मिलने पर निराश गौतम गंभीर

World Cup टीम में अंबति रायडु को जगह न मिलने पर निराश गौतम गंभीर

नई दिल्ली:

भारत की 15 सदस्यीय विश्व कप (World Cup) टीम में जगह न मिल पाने को लेकर न सिर्फ फैन्स के बीच बल्कि क्रिकेट जगत के पूर्व दिग्गजों के बीच भी लगातार विवाद बना हुआ है. पूर्व भारतीय ओपनर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को लगता है कि महज तीन असफलताओं के बाद अंबति रायडू (Ambati Rayudu) को भारत की वर्ल्ड कप टीम से बाहर किया जाना दुखद है. पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि आगामी विश्व कप (World Cup) के लिए चयनकर्ताओं को टीम में कुछ नए चेहरों को शामिल करना चाहिए था ताकि विपक्षी टीमों को चौंकाया जा सके.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि ऋषभ पंत को जगह नहीं मिलने पर कोई बहस नहीं होनी चाहिए क्योंकि उन्होंने मिले मौकों का फायदा नहीं उठाया.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, 'केवल एक ही खिलाड़ी के बारे में क्यों बात करें? यहां अंबति रायडू (Ambati Rayudu) भी हैं जो टीम में जगह बनाने से चूक गए. वनडे मैचों में उनका (अंबति रायडू (Ambati Rayudu) का) 48 का औसत है. केवल पंत पर ही ध्यान क्यों? मुझे लगता है कि यह अंबति रायडू (Ambati Rayudu) जैसे खिलाड़ी के लिए कहीं अधिक निराशाजनक है क्योंकि पंत की अभी उम्र है.'

और पढ़ें: World Cup के लिए टीम में न चुने जाने पर रायडु ने चयनकर्ताओं पर कसा तंज, जानें क्या बोले

गौरतलब है कि अनुभवी दिनेश कार्तिक को ऋषभ पंत की जगह तरजीह दिए जाने पर सुनील गावस्कर ने इस बात की आलोचना की थी और इसे हैरानी भरा फैसला करार दिया था लेकिन गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि सोमवार को घोषित टीम में अंबति रायडू (Ambati Rayudu) का जगह न बना पाना सबसे ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण है.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, ‘यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है कि सफेद गेंद के क्रिकेट में 48 के औसत वाले खिलाड़ी को जो केवल 33 वर्ष का है, उसे टीम में जगह नहीं दी गई. चयन में किसी अन्य फैसले से ज्यादा दुखद मेरे लिए यही है.’

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, ‘मुझे लगता है कि ऋषभ पंत को बाहर किए जाने पर कोई बहस नहीं होनी चाहिए, पर अंबति रायडू (Ambati Rayudu) का बाहर होना चर्चा का विषय है.’

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को वेस्ट इंडीज में हुए 2007 वर्ल्ड कप के लिए नहीं चुना गया था और तब वह खेल को छोड़ने पर विचार करने लगे थे.

और पढ़ें: IPL12: पंजाब के साथ भिड़ंत से पहले ईश सोढ़ी ने की इस खिलाड़ी की तारीफ 

उन्होंने कहा, ‘मुझे उनके लिए दुख होता है क्योंकि मैं भी 2007 में इसी तरह की स्थिति में था, जब चयनकर्ताओं ने मुझे नहीं चुना था और मैं जानता हूं कि वर्ल्ड कप के लिए नहीं चुना जाना कितना मुश्किल होता है. आखिरकार हर किसी युवा खिलाड़ी के लिए यह बचपन का सपना होता है कि वह इस बड़े टूर्नामेंट का हिस्सा बने. इसलिए मुझे किसी अन्य क्रिकेटर से ज्यादा अंबति रायडू (Ambati Rayudu) के लिए दुख हो रहा है जिन्हें नहीं चुना गया.’

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने पंत के बारे में कहा, ‘यह कोई झटका नहीं है. वह लगातार सफेद गेंद के क्रिकेट का हिस्सा नहीं रहे. उन्होंने मौके मिले लेकिन दुर्भाग्य से वह इनका फायदा नहीं उठा सके. आपके पास अभी उम्र है, शानदार प्रदर्शन करते रहो. उसे इसके बारे में ज्यादा नहीं सोचना चाहिए.’

मौजूदा टीम के बारे में गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि इस बार की गेंदबाजी 2011 की विश्व कप (World Cup) जीतने वाली गेंदबाजी से बेहतर है.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा, 'हमारे पास जसप्रीत बुमराह हैं, जो मौजूदा दौर में सीमित ओवरों के क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं. मुझे लगता है कि यही कारण है कि इस बार हमारे पास 2011 तुलना में कहीं अधिक बेहतर गेंदबाजी आक्रमण है. अब यह बल्लेबाजों के ऊपर है कि वे स्कोरबोर्ड पर रन लगाएं.'

कार्तिक के चयन पर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को लगता है कि वह लगातार वनडे में दूसरे विकेटकीपर के विकल्प में रहे हैं और अनुभव के अलावा यह बात भी उनके पक्ष में गई.

और पढ़ें: World Cup की टीम में चुने जानें पर जानें क्या बोले युजवेंद्र चहल 

उन्होंने कहा, ‘दिनेश लंबे समय तक सफेद गेंद के क्रिकेट में विकेटकीपर रहे. शायद उन्हें पंत की तुलना में बेहतर विकेटकीपर के तौर पर देखा गया हो जैसा कि मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा. उन्हें भी बेहतर फिनिशर माना जाता है. शायद उन्हें यही लगता है लेकिन अगर आप मुझसे पूछोगे तो मेरा दूसरा विकेटकीपर संजू सैमसन है क्योंकि मुझे लगता है कि वह अभी सर्वश्रेष्ठ में से एक है. उनमें लंबे समय से नंबर-4 पर खेलने की काबिलियत है.’

उन्होंने कहा, 'हमारे पास धोनी का अनुभव है, जो अपना चौथा विश्व कप (World Cup) खेल रहे हैं. इसके अलावा हार्दिक पांड्या भी हैं, जिनका एक्स-फैक्टर है. इस बार हमारे पास 2011 से कहीं बेहतर गेंदबाजी आक्रमण है.'

First Published : 17 Apr 2019, 08:48:00 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो