News Nation Logo
Banner

जसप्रीत बुमराह और रोहित शर्मा को लेकर हेड कोच रवि शास्त्री ने कही बड़ी बात, पढ़ें पूरी खबर

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि टीम को जसप्रीत बुमराह के वर्कलोड को लेकर सावधान रहना होगा, क्योंकि बुमराह तीनों प्रारूप में खेलते हैं.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 10 Oct 2019, 11:44:39 AM
रवि शास्‍त्री

रवि शास्‍त्री (Photo Credit: फाइल फोटो)

पुणे:

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि टीम को जसप्रीत बुमराह के वर्कलोड को लेकर सावधान रहना होगा, क्योंकि बुमराह तीनों प्रारूप में खेलते हैं. बुमराह इस समय चोटिल हैं और इसी कारण दक्षिण अफ्रीका के साथ खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हैं.

यह भी पढ़ें ः विश्व महिला मुक्केबाजी चैम्पियनशिप : मैरी कॉम सेमीफाइनल में, भारत का पदक पक्का

अंग्रेजी अखबार द हिंदू ने शास्त्री के हवाले से लिखा, "हम इस बात को लेकर काफी फिक्रमंद हैं क्योंकि वह काफी अहम, विशेष, अलग और मैच विजेता हैं. इस बात को लेकर विचार किया जा रहा है कि उन्हें सर्जरी की जरूरत है या नहीं. हमें उनके वर्कलोड को लेकर काफी सावधान रहना होगा क्योंकि वह तीनों प्रारूपों में टीम का हिस्सा हैं."

यह भी पढ़ें ः सचिन तेंदुलकर के बाद इस खिलाड़ी ने किया यह बड़ा काम, जानें कौन सा रिकार्ड बनाया

शास्त्री ने साथ ही रोहित शर्मा की पारी की शुरुआत करने को लेकर बात कही और कहा कि यह स्टार बल्लेबाज इस जिम्मेदारी के लिए तैयार था. रोहित ने बतौर सलामी बल्लेबाज खेले गए अपने पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोनों पारियों में शतक जमाए. विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 203 रनों से हराया था.

यह भी पढ़ें ः विराट कोहली ने जड़ा अर्द्धशतक, पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली को पीछे छोड़ा

शास्त्री ने कहा, "मुझे पसंद नहीं है कि उनकी जैसी क्षमता वाला खिलाड़ी बाहर बैठे. वेस्टइंडीज में मैं इस बात को लेकर साफ था कि वह पारी की शुरुआत करें और इसे लेकर मैंने कोहली से चर्चा भी की थी. यह उनका मौका था."

यह भी पढ़ें ः जसप्रीत बुमराह को आईपीएल में खेलते देख रो पड़ीं थीं उनकी मां, जानें क्‍यों

उन्होंने कहा, "सलामी बल्लेबाजी मानसिकता की बात है. आपको नई गेंद का सम्मान करना पड़ता है. बीते 20 वर्षो में टीम में संतुलन बनाने के लिए भारत के लिए कई खिलाड़ियों ने पारी की शुरुआत की लेकिन उनमें वो क्षमता नहीं थी."

यह भी पढ़ें ः T-20 की 10वीं हैट्रिक, इस नामालूम से खिलाड़ी ने किया बड़ा कमाल, पढ़ें पूरी डिटेल

शास्त्री ने कहा, "किसने सोचा था कि वीरेंद्र सहवाग का टेस्ट में औसत 50 का होगा. लेकिन उन्होंने नई गेंद से पहले 20 मिनट पर काबू पाया. मुझे नहीं लगता कि उन्होंने जिस तरह बल्लेबाजी का लुत्फ उठाया वो किसी और ने उठाया."

First Published : 10 Oct 2019, 11:44:39 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×