News Nation Logo
Banner

महेंद्र सिंह धोनी ने लद्दाख में फहराया तिरंगा, अब सियाचिन में शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि लद्दाख में तिरंगा लहराने के बाद महेंद्र सिंह धोनी सियाचिन भी पहुंचे हैं. धोनी सियाचिन स्थित वॉर मेमोरियल पर श्रद्धांजलि भी देंगे.

By : Sunil Chaurasia | Updated on: 15 Aug 2019, 05:55:31 PM
Image Courtesy- Twitter

New Delhi:

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इन दिनों सेना के साथ कश्मीर में है. धोनी ने देश के 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लद्दाख में तिरंगा लहराया. इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी सेना की गाड़ी से लद्दाख पहुंचे थे, जहां सेना के जवानों और स्थानीय लोगों ने जोरदार स्वागत किया. धोनी ने स्वागत करने वाले सेना के जवानों का अभिवादन स्वीकार किया और उनसे बातचीत भी की. गाड़ी से उतरते ही लद्दाख में स्थित धोनी के फैंस ने उन्हें घेर लिया और उनसे मिलने की कोशिशों में जुट गए थे.

ये भी पढ़ें- युवराज सिंह को ग्लोबल टी-20 लीग के लिए मिली NoC, बाकी खिलाड़ियों को नहीं मिली कोई राहत

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि लद्दाख में तिरंगा लहराने के बाद महेंद्र सिंह धोनी सियाचिन भी पहुंचे हैं. धोनी के सियाचिन जाने का मुख्य उद्देश्य वहां की कठोर परिस्थितियों का सामना करना है. रिपोर्ट्स में कहा गया है कि धोनी सियाचिन स्थित वॉर मेमोरियल पर श्रद्धांजलि भी देंगे. बताते चलें कि स्वतंत्रता दिवस से एक दिन पहले यानि 14 अगस्त को टीम इंडिया के पूर्व कप्तान लद्दाख स्थित आर्मी हॉस्पिटल भी पहुंचे थे. पूर्व कप्तान ने वहां मौजूद जवानों के साथ काफी देर तक बातचीत की.

ये भी पढ़ें- कोलकाता नाइट राइडर्स ने ब्रैंडन मैक्कलम को नियुक्त किया टीम का मुख्य कोच

धोनी को भारतीय सेना ने लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद उपाधि दी थी. वे सेना के पैराशूट रेजीमेंट की 106 पैरा बटालियन के सदस्य हैं. माही बीते 31 जुलाई से सेना के विक्टर फोर्स के साथ काम कर रहे हैं. बता दें कि ये फोर्स मुख्य तौर पर आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन करती है. कश्मीर में ड्यूटी के दौरान माही की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं. एक तस्वीर में वे अपने जूते पॉलिश करते हुए भी दिखाई दे रहे थे.

First Published : 15 Aug 2019, 05:55:31 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.