News Nation Logo
Banner
Banner

भारत के खिलाफ लिखने वाले ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार को वेंकटेश प्रसाद का जवाब

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद (Former Indian Cricketer Venkatesh Prasad) ने टेस्ट चैंपियनशिप (Test Championship) को लेकर ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार (Australian Journalist) को करारा जवाब दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Jun 2021, 12:06:53 AM
Venkatesh Prasad

वेंकटेश प्रसाद (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली:

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद (Former Indian Cricketer Venkatesh Prasad) ने टेस्ट चैंपियनशिप (Test Championship) को लेकर ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार (Australian Journalist) को करारा जवाब दिया है.  भारतीय टीम के पूर्व तेजगेंदबाज प्रसाद ने ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार को जवाब देते हुए कहा है कि टेस्ट चैंपियनशिप में भारत और न्यूजीलैंड दोनों टीमों से चाहे जो भी जीतता हो वो ठीक है. लेकिन वह आदमी कितना उदास और दयनीय है जिसको प्रकाशनों में लिखने का मौका दिया जाता हो और वो उन्ही को खराब बोलता हो. दुखी आत्मा जल्दी से ठीक हो जाओ ताकि अच्छी बातें भी कर सको. 

इसके पहले ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार सीजे वेर्लेमैन (Australia Journalist CJ Werleman) ने ट्विटर पर भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच होने वाली टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल को लेकर टिप्पणी करते हुए लिखा था कि, मैं आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में न्यूजीलैंड के पक्ष में हूं क्योंकि 50 करोड़ हिंदुत्ववादी चरमपंथियों के एक पल के लिए भी खुश होने की कल्पना करना मुझे दुखी करता है.

इसके पहले वेंकटेश प्रसाद ने बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब-उल-हसन द्वारा अंपायर के साथ बदतमीजी करने और क्रिकेट के मैदान में स्टंप्स पर लात मारकर उखाड़ फेंकने की उद्दण्डता पर भी नाराजगी जताई थी और कहा था कि, उनका गुस्सा करना बिलकुल नाजायज और बेबुनियाद है. प्रसाद ने वो वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा था कि, शाकिब की नाराजगी बिलकुल व्यर्थ है और ज्यादा गुस्सा करना विनाशकारी होता है. एक बेहतरीन खिलाड़ी के लिए इस तरह का रवैया बेहद ही ख़राब है. विश्व कप 2019 में शानदार प्रदर्शन करने के बाद उन्हें 2 साल का बैन झेलना पड़ा था. 

वेंकटेश प्रसाद ने साल 1994 में भारतीय टीम के लिए एकदिवसीय मैचों का डेब्यू किया था. साल 2001 में वेंकटेश प्रसाद ने एकदिवसीय और टेस्ट क्रिकेट दोनों फॉर्मेट से संन्यास ले लिया था. प्रसाद ने एकदिवसीय प्रारूप में 161 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया था. जिसमें उन्होंने 32.31 के औसत से 160 विकेट हासिल किए साल 1999 के विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ 27 रन देकर 5 विकेट लेना उनके एकदिवसीय करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी रही थी.

हालांकि इसके पहले 1996 के विश्वकप में भी प्रसाद ने पाकिस्तान के खिलाफ शानदार गेंदबाजी कर भारत को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. ये मैच भारतीय क्रिकेट प्रेमियों के जेहन में वेंकटेश प्रसाद के उसे एक्शन को आज भी जीवित रखता है जब आमिर सोहेल का विकेट लेने के बाद प्रसाद ने उन्हें बाहर जाने का रास्ता इशारा करते हुए दिखाया था. वहीं प्रसाद ने भारत के लिए साल 1996 से लेकर 2001 तक भारत के लिए 33 टेस्ट मैचों का भी प्रतिनिधित्व किया था. इस दौरान उन्होंने 35 के औसत से 96 विकेट लिए थे एक पारी में 33 रन देकर 6 विकेट उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है. 

First Published : 13 Jun 2021, 11:35:27 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.