News Nation Logo

ड्रीम डेब्यू करने वाले हर्षल पटेल, भारतीय क्रिकेटरों के विशेष समूह में हुए शामिल

ड्रीम डेब्यू करने वाले हर्षल पटेल, भारतीय क्रिकेटरों के विशेष समूह में हुए शामिल

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 20 Nov 2021, 06:25:02 PM
Dream T20I

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: भारत के लिए खेलना और पहले मैच में ड्रीम डेब्यू कर मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार जीतना, हर क्रिकेटर का सपना होता है। यह एक अलग एहसास होता है जो वह क्रिकेटर ही महसूस करता है।

रांची में दूसरे टी20 में न्यूजीलैंड के खिलाफ डेब्यू करने वाले हर्षल पटेल ने 25 रन देकर 2 विकेट लेकर शानदार गेंदबाजी की, जिसके कारण उन्हें भारतीय क्रिकेटरों की एक विशेष समूह में ला दिया। जिन्होंने अपने पहले ही मैच में रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज करवाया।

इस रिकॉर्ड बुक में सात भारतीय खिलाड़ी हैं, जिसमें दिनेश कार्तिक, सुब्रमण्यम बद्रीनाथ, प्रज्ञान ओझा, अक्षर पटेल, बरिंदर सरन, नवदीप सैनी और अब हर्षल पटेल अपने पहले टी20 मैच में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार जीतकर शामिल हो गए हैं।

जहां कार्तिक, अक्षर पटेल और सैनी अभी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे हैं।

दिसंबर 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ डेब्यू करने वाले कार्तिक पहले भारतीय क्रिकेटर हैं, जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की थी। यह भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच था। भारत ने 126 रन के लक्ष्य को एक गेंद शेष रहते हासिल कर लिया था। इस मैच में 28 गेंदों में 31 रन बनाने वाले कार्तिक को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

वहीं, लेग-स्पिनर ओझा को 6 जून 2009 को बांग्लादेश के खिलाफ अपने टी20 डेब्यू में मैन ऑफ द मैच मिला था। इस मैच में भारत ने 180 रन बनाए और ओझा ने अपने स्पेल में सिर्फ 21 रन देकर चार विकेट लिए थे।

यह उपलब्धि हासिल करने वाले एक और भारतीय क्रिकेटर एस. बद्रीनाथ हैं। बद्रीनाथ का आईपीएल सीजन 4 अच्छा रहा और उन्हें 2011 में वेस्टइंडीज दौरे के लिए टी20 टीम में शामिल किया गया था।

वेस्टइंडीज के खिलाफ बद्रीनाथ ने 37 गेंदों में 43 रन बनाकर भारत की जीत में अहम योगदान दिया था। इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया था। बद्रीनाथ का यह पहला और आखिरी मैच था क्योंकि उन्हें अगले दौरे के लिए नहीं चुना गया।

स्पिनर अक्षर पटेल भी भारतीय खिलाड़ियों की इस सूची में शामिल हैं जिनको अपने टी20 डेब्यू में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला था। अक्षर ने 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ डेब्यू किया था। इस मैच में भारत ने 178 रन बनाए और जिम्बाब्वे अक्षर की शानदार गेंदबाजी के कारण 124 रन ही बना सका। उन्होंने 17 रन देकर तीन विकेट चटकाए थे।

एक अन्य भारतीय खिलाड़ी सरन, जिसने अपने टी20 डेब्यू पर पुरस्कार जीता था। वह जिम्बाब्वे के खिलाफ 10 रन देकर चार विकेट लिए। उनकी बेहतरीन गेंदबाजी के कारण जिम्बाब्वे सिर्फ 99 रन पर सिमट गया था। भारत ने यह मैच आसानी से जीत लिया था।

हर्षल से पहले एक अन्य भारतीय तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने अपने टी20 डेब्यू पर यह पुरस्कार हासिल किया था। उन्होंने 3 अगस्त, 2019 को वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उपलब्धि अपने नाम की थी। सैनी ने अपने चार ओवरों में 17 रन देकर तीन विकेट लिए, जिससे भारत ने वेस्टइंडीज को 95 रनों पर रोक दिया था। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने आसानी से मैच अपने नाम कर लिया था।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 20 Nov 2021, 06:25:02 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो