News Nation Logo
Banner

गेंद पर लार के इस्‍तेमाल को लेकर अब डेविड वार्नर ने कही बड़ी बात, जानिए क्‍या

आस्ट्रेलिया के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर को नहीं लगता कि जब कोविड-19 महामारी खत्म होने के बाद दुनिया में क्रिकेट बहाल होगा तो गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल को रोकने की जरूरत होगी.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 30 Apr 2020, 02:57:32 PM
davidwarner

डेविड वार्नर (Photo Credit: फाइल फोटो)

New Delhi:  

कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण इस वक्‍त पूरी दुनिया में क्रिकेट रुका हुआ है और आने वाले वक्‍त में क्रिकेट शुरू कब होगा, किसी को भी पता नहीं है. वहीं संभावना यह भी जताई जा रही है कि क्रिकेट जब भी शुरू होगा, उससे पहले क्रिकेट के नियमों में कुछ बदलाव जरूर होने की संभावना है. खास तौर पर गेंद को नया बनाए रखने के लिए गेंदबाज लार और पसीने का इस्‍तेमाल कर पाएंगे या नहीं, यह भी देखना दिलचस्‍प होगा. अगर ऐसा नहीं होगा तो गेंदबाजों को क्‍या कुछ नए ऑप्‍शन दिए जाएंगे. हालांकि टेस्‍ट क्रिकेट (Test Cricket) में भी बदलाव की बात की जा रही है. लेकिन जो क्रिकेटर फटाफट क्रिकेट के साथ ही टेस्‍ट क्रिकेट को भी उतना ही प्‍यार करते हैं, वे जरूर इसमें बदलाव की हिमायत नहीं कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें ः ऋषि कपूर के निधन से खेल जगत दुखी, भारत और पाकिस्‍तान से आई संवेदनाएं

आस्ट्रेलिया के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर को नहीं लगता कि जब कोविड-19 महामारी खत्म होने के बाद दुनिया में क्रिकेट बहाल होगा तो गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल को रोकने की जरूरत होगी. उन्हें लगता है कि यह साथी खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने से कम या ज्यादा जोखिम भरा नहीं है. ऐसी अटकलें हैं कि संक्रमण के जोखिम से बचने के लिए गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल को रोक दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें ः रोहित शर्मा और रितिका सजदेह की पूरी लव स्‍टोरी, युवराज सिंह बोले- उसे मत देख वो मेरी बहन है

डेविड वार्नर ने ‘क्रिकेट डाट काम डाट एयू’ से कहा, आप ड्रेसिंग रूम साझा कर रहे हो और इसके अलावा भी आप सब चीजें साझा करते हो तो मुझे नहीं लगता कि इसे बदलने की जरूरत क्यों है.  उन्होंने कहा, यह सब सैकड़ों वर्षों से चल रहा है, मुझे याद नहीं कि ऐसा करने से कोई बीमार हुआ हो. अगर आपको संक्रमित होना है तो मुझे नहीं लगता कि जरूरी नहीं कि यह सिर्फ इसी से हो. वार्नर ने कहा, मैं हालांकि इसे लेकर ज्यादा सुनिश्चित भी नहीं हूं लेकिन यह टिप्पणी करना मेरा काम नहीं है कि गेंद को चमकाने के लिए लार का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं. यह आईसीसी (ICC) और संचालन संस्थाओं का काम है कि वे फैसला करें. हालांकि पूर्व तेज गेंदबाज शॉन टैट मानते हैं कि बदलाव को स्वीकार करना अहम है और थूक का इस्तेमाल पुरानी बात हो सकती है. टैट ने कहा, मैं गेंद पर लार लगाने के हक में नहीं हूं, यह अच्छा नहीं है. हमें संभावित बदलावों को स्वीकार करना चाहिए.

(इनपुट भाषा)

First Published : 30 Apr 2020, 02:57:32 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.