News Nation Logo
मलेशिया में ओमीक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि अमेरिका में ओमीक्रॉन से संक्रमण के मामले बढ़कर 8 हुए केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: CCTV के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर 1 केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में 1.40 कैमरे और लगाए जाएंगे थोड़ी देर में ओमीक्रॉन पर जवाब देंगे स्वास्थ्य मंत्री IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक के रूप में ओकामोटो की जगह लेंगी गीता गोपीनाथ 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के सांसदों का गांधी प्रतिमा के पास विरोध-प्रदर्शन यमुना एक्‍सप्रेसवे पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, मप्र पुलिस के दो जवानों समेत चार की मौत जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित

क्रिस्टियानो रोनाल्डो जुड़ेंगे इस IPL टीम के साथ, जानिए पूरा मामला

बीसीसीआई (BCCI) ने आईटीटी में कुछ कड़े रुल्स बनाए हैं.

Sports Desk | Edited By : Shubham Upadhyay | Updated on: 21 Oct 2021, 10:47:04 PM
cristiano ronaldo

cristiano ronaldo (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्ली :

मेनचेस्टर यूनाइटेड  (Manchester United) को दुनिया के सबसे बड़े फुटबॉल क्लबों में से एक माना जाता है. साथ ही क्रिस्टियानो रोनाल्डो (Cristiano Ronaldo) इसके लिए खेलते हैं. इंग्लैंड में मेनचेस्टर यूनाइटेड (Manchester United) का मालिकाना हक प्रसिद्ध अमेरिकी व्यापारिक परिवार ग्लेज़र्स के पास है. और अब खबर ये है कि ग्लेज़र्स परिवार आईपीएल (IPL) में शामिल होने वाली दो नई टीमों में से किसी एक को खरीदने में दिलचस्पी दिखा रहा है. मीडिया के अनुसार, ग्लेज़र्स ने अगले साल की नीलामी से पहले फ्रैंचाइज़ी खरीदने के लिए इनविटेशन टू टेंडर भी खरीदे हैं. हालांकि, एक बात साफ कर दें कि है कि इनविटेशन टू टेंडर खरीदने का मतलब ये नहीं है कि ग्लेजर्स आईपीएल टीम (IPL) के लिए बोली लगाएगी. अडानी ग्रुप, आरपी-संजीव गोयनका ग्रुप, हिंदुस्तान टाइम्स मीडिया, जिंदल स्टील और तीन निजी कंपनियों ने भी इन टीमों के लिए बोली दस्तावेज खरीदे हैं. 

आपको बताते चलें कि बीसीसीआई (BCCI) ने आईटीटी में कुछ कड़े रुल्स बनाए हैं. मसलन, टीमों के लिए बोली लगाने वाली कंपनी का औसत टर्नओवर 3,000 करोड़ होना चाहिए. और अगर पर्सनल है तो उस व्यक्ति की पर्सनल नेटवर्थ 2500 करोड़ होनी चाहिए. साथ ही इसमें एक नियम है कि बोली लगाने वाले पक्ष को ये ध्यान रखना होगा कि अगर वे जीतते हैं तो उन्हें भारत में एक कंपनी स्थापित करनी होगी.

तो ऐसे में साफ है कि विदेशी निवेशक इन शर्तों को अगर पूरा करते हैं तो वो बोली लगा सकते हैं. हालांकि मैनचेस्टर यूनाइटेड बोली लगाने के लिए मेज पर आएंगे या नहीं, इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है. लेकिन एक बात साफ है कि मैनचेस्टर यूनाइटेड ने दिलचस्पी दिखाई है, इसी को देखते हुए बीसीसीआई ने समय सीमा को बढ़ा दिया था. IPL अब सिर्फ भारत तक सीमित नहीं रहा, IPL अब ग्लोबल हो गया है. इसके अलावा डिज़्नी ने भी इनविटेशन टू टेंडर में रुचि दिखाई है. लेकिन इनके साथ भी यही स्थिति है कि मेज पर आएंगे या नहीं. 

आपको बताते चलें कि साल 2022 से आईपीएल में 10 टीमें खेलेंगी. बीसीसीआई ने भी हाल ही में दो टीमों को बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. आईपीएल की ब्रांड वैल्यू की बात करें तो ये 5 ट्रिलियन रुपये से भी ज्यादा है.

अगर इस सवाल की बात करें कि ग्लेज़र्स क्यों आईपीएल की टीम खरीदना चाहता है. तो देखिए क्रिकेट टीम से जुड़ने पर जाहिर तौर पर ग्लेज़र्स को एक नया बाजार मिलेगा. जिससे उनका मार्केट में इजाफा होगा ही.

First Published : 21 Oct 2021, 09:45:52 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो