News Nation Logo
Banner

सीएए (CAA) पर अब क्रिकेटर इरफान पठान ने कही ऐसी बात कि समर्थक हो जाएंगे खुश

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर पूरे देश में हंगामा और विवाद चल रहा है. कई लोग इसका विरोध कर रहे हैं, तो काफी संख्‍या में ऐसे लोग भी हैं, जो इस कानून के पक्ष में बात कर रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 30 Dec 2019, 06:18:45 PM
इरफान पठान Irfan Pathan

नई दिल्‍ली:

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर पूरे देश में हंगामा और विवाद चल रहा है. कई लोग इसका विरोध कर रहे हैं, तो काफी संख्‍या में ऐसे लोग भी हैं, जो इस कानून के पक्ष में बात कर रहे हैं. कानून संसद में पास होने के बाद से लगातार इसका विरोध जगह जगह हो रहा है. लेकिन केंद्र सरकार इस मामले में पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है. वहीं अब इस मामले में भारतीय टीम के पू्र्व खिलाड़ रहे इरफान पठान का बयान सामने आ रहा है. इरफान पठान का ट्वीट कई मायने में बहुत महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है. 

यह भी पढ़ें ः विजडन की दशक की T20 टीम में विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह को जगह

इरफान पठान ने ट्वीट में साफ तौर पर कहा है कि माइनॉरिटी उसे कहा जाता है, जो नंबर में कम होते हैं. हम इंडियन हैं हम तो पूरी दुनिया में मेजॉरिटी हैं. इरफान पठान ने जो ट्वीट किया है, उसको लेकर लगातार लोग उन पर अपनी अपनी प्रतिक्रियाएं भी दे रहे हैं. कुछ लोग इरफान पठान की बात से सहमत हैं तो कुछ लोग उनके ट्वीट का विरोध भी कर रहे हैं. एक यूजर ने तो यहां तक लिख दिया है कि ये क्‍या बोल रहे हैं आप, मुसलमानों पर पुलिस का जुल्‍म देखने के बाद अगर बोले तो ये बोले, हिम्‍मत जुटाइए जनाब, जुल्‍म के खिलाफ आवाज उठाएं. एक अन्‍य यूजर ने लिखा है कि भाई आप जैसे मुस्‍लिम के बिना हिन्‍दुस्‍तान के हिन्‍दू अधूरे हैं. कृपया सीएए और एनआरसी को लेकर इंडियान मुस्‍लिम को डराने वालों क्‍लीन बोल्‍ड करो, प्‍लीज.

यह भी पढ़ें ः रिकी पोंटिंग ने माना विराट कोहली का लोहा, बनाया दशक की टीम का कप्‍तान

दीपक ऋषि ने लिखा है कि बंदे में दम है..पर डटे रहना गुरु सही बात का मुस्लिम ही विरोध ज्‍यादा करते हैं ! आप का कहना तो ठीक है पर देखो AMU,जामिया जैसी सेंट्रल यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले जाहिल बिना पढ़े लिखे इस #CAA का विरोध कर रहे हैं! वहीं एक यूजर ने लिखा है कि आर्टिकल 14 के अनुसार किसी भी मजहब या धर्म के आधार पर "पर्सनल लॉ बोर्ड नहीं बन सकता है. फिर तो मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड असवैधानिक ही है.

यह भी पढ़ें ः Funny Cricket Video : अंपायर ने आउट देने के लिए उठाया हाथ, लेकिन फिर ये क्‍या हुआ

इस बीच सोमवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act-CAA) के समर्थन में एक नया कैंपेन (New Campaign) शुरू किया है. पीएम मोदी ने इस कैंपेन को 'India Supports CAA' कैंपेन लांच किया है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. दरअसल पीएम मोदी का ये ट्विटर कैंपेन है जो उन्होंने आज ही लांच किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि CAA यानी नागरिकता संशोधन कानून देश में आए रिफ्यूजियों को नागरिकता देने के लिए है किसी की नागरिकता छीनने के लिए नहीं बना है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पीएम मोदी ने इस कैंपेन को NaMo App के माध्यम से लांच किया है जिसका ग्राफिक्स, वीडियो और बहुत कुछ नमो ऐप पर वालंटियर मॉड्यूल के आपकी अनुभाद में चेक, Download और शेयर किया जा सकता है. पीएम मोदी ने इस कैंपेन के लांच के साथ ही लोगों से इसको समर्थन देने की भी मांग की है.

First Published : 30 Dec 2019, 01:20:42 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.