News Nation Logo
Banner

क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने कही बड़ी बात, नहीं कटेगी किसी की सैलरी

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक्स फॉल ने साफ कर दिया है कि कोरोनावायरस के कारण खिलाड़ियों के 2020-21 सीजन के वेतन में कटौती नहीं की जाएगी, लेकिन उन्होंने यह भी कहा है कि भविष्य के वेतन के बारे में सोचना होगा.

IANS | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 01 Apr 2020, 07:10:05 AM
south africa

दक्षिण अफ्रीकी टीम (Photo Credit: आईएएनएस)

Cape Town:  

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक्स फॉल ने साफ कर दिया है कि कोरोनावायरस के कारण खिलाड़ियों के 2020-21 सीजन के वेतन में कटौती नहीं की जाएगी, लेकिन उन्होंने यह भी कहा है कि भविष्य के वेतन के बारे में सोचना होगा. जैक्स फॉल ने कहा, हमारे पास बजट के हिसाब का पैसा है. यह केंद्रीयकरण वाला तंत्र है और राष्ट्रीय टीम तथा फ्रेंचाइजियों के लिए खिलाड़ियों के लिए बजट है. इस समय इस सीजन के लिए हमारे पास पर्याप्त बजट है.

यह भी पढ़ें ः विराट कोहली नहीं, ये पाकिस्तानी बल्लेबाज हिटमैन रोहित शर्मा की तरह बनना चाहता है, जानिए पूरी डिटेल

मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक्स फॉल ने कहा, लेकिन लंबे समय में, इस स्थिति से निकलने के बाद हमें हालात और आर्थिक स्थिति को देखना होगा. हमारी स्थिति में मैं किसी भी खिलाड़ी को इस सीजन बिना वेतन के नहीं देखता, लेकिन इसके आगे हो सकता है कि खिलाड़ियों को कम वेतन मिले.

यह भी पढ़ें ः IPL 2020 : संभावनाओं और आशंकाओं का खेल, पल पल बदल रहे हालात, जानिए ताजा अपडेट

आपको बता दें कि इससे पहले आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने माना था कि उनके खिलाड़ियों को कोविड-19 महामारी के चलते वेतन में कटौती को स्वीकार करना होगा. उन्होंने यह भी कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए वित्तीय कटौती बहुत छोटी चीज है और वे अपनी ओर से योगदान देन के लिये तैयार हैं. शीर्ष क्रिकेटरों के वेतन में कटौती हो सकती है, क्योंकि क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) पुरूष और महिला राष्ट्रीय टीमों के सालाना अनुबंध देने में देरी कर रहा है. ईएसपीएन क्रिकइंफो ने कप्तान टिम पेन के हवाले से लिखा था कि निश्चित रूप से चर्चाएं अगले हफ्ते से शुरू हो जाएंगी. उन्होंने कहा, अगर चीजें उसी तरह हुई जैसी फुटबाल में या अन्य खेलों में हुई हैं तो निश्चित रूप से हमें अपनी ओर से योगदान करना होगा ताकि सुनिश्चित कर सकें कि खेल बना रहे और आने वाले वर्षों में भी अच्छी तरह चलता रहे.

यह भी पढ़ें ः एमएस धोनी की वापसी हुई तो केएल राहुल और ऋषभ पंत का क्या होगा, जानिए किसने उठाया ये बड़ा सवाल

कप्तान टिम पेन ने कहा, अगर ऐसा होता है तो मुझे पूरा भरोसा है कि खिलाड़ी ऐसा करना चाहेंगे. लेकिन हमारे खिलाड़ियों को कितना वेतन मिलेगा, इसकी तुलना में दुनिया में इस समय इससे भी बड़े मुद्दे चल रहे हैं. अगर ऐसा होता है तो यह हमारे लिये बहुत छोटी सी चीज है. अगर पेन की टीम जून में बांग्लादेश पर श्रृंखला में 2-0 से जीत हासिल कर पाती तो वह विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में भारत को बार्डर-गावस्कर सीरीज से पहले पछाड़ सकती थी लेकिन कोरोना वायरस के संकट से क्रिकेट बंद करना पड़ा है और इस दौरे के भी आगे बढ़ने या रद्द होने की संभावना है.

यह भी पढ़ें ः IPL में वापसी को तैयार थे MS Dhoni, लेकिन फिर क्या हुआ, जानिए क्या बोला ये बड़ा गेेंदबाज

उधर इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट से उम्मीद है कि कोविड-19 महामारी के कारण वित्तीय चुनौती का आकलन कर रहा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) आने वाले सप्ताह में वेतन कटौती को लेकर खिलाड़ियों से चर्चा करेगा. उन्होंने कहा कि जब इस महामारी का असर खत्म होगा तब तक खिलाड़ियों का कार्यभार काफी बढ़ जाएगा. कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण इंग्लैंड में 28 मई तक किसी भी क्रिकेट पर रोक लगी है और जानकारों का मानना है कि इसे और आगे बढ़या जाएगा. अटकलें लगाई जा रही हैं कि ईसीबी रूट और जोस बटलर जैसे अपने अनुबंधित खिलाड़ियों के वेतन में कटौती कर विचार कर रहा है. रूट हालांकि इस बारे में नहीं सोच रहे. रूट ने आईसीसी के वेबसाइट से कहा, ‘‘मुझे यकीन है कि आने वाले कुछ हफ्तों में इस पर चर्चा होगी लेकिन वह बातचीत पीसीए (पेशेवर क्रिकेट संघ) और ईसीबी के बीच होगी. जब तक ऐसा नहीं होता यह मेरी विशेषज्ञता का क्षेत्र नहीं है.

First Published : 01 Apr 2020, 07:10:05 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.