News Nation Logo
Banner

सलामी बल्‍लेबाज के रूप में मिला चांस, आज दुनिया कर रही रो'हिटमैन' को सलाम

रोहित शर्मा को इस मुकाम तक पहुंचाने में टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी का ही काफी बड़ा योगदान है, जिसे भूला नहीं जा सकता.

Pankaj Mishra | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 23 Jan 2020, 12:44:44 PM
रोहित शर्मा Rohit Sharma

रोहित शर्मा Rohit Sharma (Photo Credit: आईसीसी ट्वीटर)

नई दिल्‍ली:  

टीम इंडिया के उपकप्‍तान और हिटमैन (Hitman) के नाम से मशहूर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का करियर इन दिनों बुलंदियों पर है. टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) के नाम वन डे टेस्‍ट, वन डे और T20 के कई रिकार्ड हैं, लेकिन इस मामले में भारत ही नहीं, बल्‍कि दुनिया का कोई क्रिकेटर अगर चुनौती देता हुआ दिखता है तो वह रोहित शर्मा (Hitman Rohit Sharma) ही हैं. विराट के नाम से जो रिकार्ड बचे हुए हैं, वह रोहित शर्मा के ही नाम हैं. कभी कभी तो ऐसा लगता है कि कई रिकार्डों में रोहित शर्मा विराट कोहली से काफी आगे हैं. लेकिन बड़ी बात यह है कि रोहित शर्मा को इस मुकाम तक पहुंचाने में टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी का ही काफी बड़ा योगदान है, जिसे भूला नहीं जा सकता. रोहित जब टीम इंडिया में शामिल हुए थे तब वे मध्‍यक्रम में खेला करते थे. वे लंबे समय तक नंबर चार, पांच, छह और यहां तक की नंबर सात पर खेलते रहे, लेकिन रोहित की किस्‍मत ने पलटा तब खाया जब वे सलामी बल्‍लेबाज बने. 

यह भी पढ़ें ः वीरेंद्र सहवाग से बोले शोएब अख्‍तर, तुम्हारे सिर पर जितने बाल हैं, उससे अधिक पैसे हैं मेरे पास

रोहित शर्मा ने जब अपना करियर शुरू किया था, तब राहुल द्रविड़ टीम के कप्‍तान हुआ करते थे. पहले मैच में तो रोहित की बल्‍लेबाजी ही नहीं आई. दूसरे मैच में रोहित शर्मा की बल्‍लेबाजी आई थी और उस मैच में उन्‍होंने आठ रन भी बनाए थे. इसके बाद रोहित लंबे समय तक मध्‍यक्रम में खेलते रहे. रोहित ने अपने करियर की शुरुआत साल 2007 में की थी और उसके बाद वे साल 2013 तक मध्‍यक्रम में ही खेलते रहे. इस दौरान भी रोहित ने कई बड़ी और अच्‍छी पारियां खेली, लेकिन वे उस श्रेणी के बल्‍लेबाज नहीं बन पाए, जिसके लिए वे जाने जाने चाहिए थे, लेकिन तभी उनकी किस्‍मत ने पलटा खाया और तब के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने उन्‍हें बतौर सलामी बल्‍लेबाजी करने के लिए मैदान में भेज दिया. इसके बाद तो जैसे रोहित को मन मांगी मुराद मिल गई. रोहित शर्मा ने बतौर सलामी बल्‍लेबाज अपना पहला वन डे मैच जनवरी 2013 में इंग्‍लैंड के खिलाफ खेला था. गौतम गंभीर के साथ वे पारी की शुरुआत करने उतरे और पहले ही मैच में 93 गेंदों पर 83 रन बना दिए. इस पारी में उन्‍होंने 11 चौके और एक छक्‍का मारा. इस मैच में कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी कप्‍तान हुआ करते थे. इस मैच के बाद जो सिलसिला चला जो अब तक जारी है. यानी कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि आज जिस हिटमैन रोहित शर्मा को हम जानते हैं, उसे बनाने में असल योगदान धोनी का ही था.

यह भी पढ़ें ः टीम इंडिया के इस पूर्व कप्‍तान पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

आपको बता दें कि रोहित शर्मा आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के तीसरे मुकाबले के दौरान वनडे में 9000 रन बनाने वाले तीसरे सबसे तेज खिलाड़ी बन गए हैं. रोहित ने यह उपलब्धि भारतीय पारी के पहले ओवर में दो रन लेकर पूरी की. रोहित ने 9000 रन तक पहुंचने के लिए 217 पारियां लीं जबकि उनके कप्तान विराट कोहली ने 194 पारियों में सबसे तेज 9000 रन बनाए हैं. वहीं एबी डिविलियर्स ने 208 पारियों में ऐसा किया है, जिससे वह दूसरे स्थान पर हैं.


आज की तारीख में रोहित शर्मा सबसे तेजी से 7000 वनडे रन बनाने वाले ओपनर बन गए हैं. रोहित शर्मा ने सचिन तेंदुलकर और हाशिम अमला को पीछे छोड़ दिया है. रोहित शर्मा ने आस्ट्रेलिया के साथ खेले गए दूसरे वनडे में 42 रन बनाए थे और इसी मैच में उन्होंने इस मुकाम को हासिल किया था. रोहित शर्मा 7000 वन डे रन बनाने वाले चौथे भारतीय सलामी बल्लेबाज बन गए हैं. इससे पहले सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग यह मुकाम हासिल कर चुके हैं. अब स्‍थिति ऐसी है कि रोहित शर्मा अब भारत के लिए T20, वन डे और टेस्‍ट मैच में भी ओपनिंग कर रहे हैं. जब से रोहित शर्मा ने टेस्‍ट में ओपनिंग करनी शुरू की है, तब से उन्‍होंने भारत का एक सिरदर्द को खत्‍म कर ही दिया है, वे टेस्‍ट में भी नए नए इतिहास गढ़ रहे हैं. अब रोहित शर्मा के लिए बड़ी चुनौती सामने है, जहां उन्‍हें न्‍यूजीलैंड के खिलाफ पांच T20 और तीन वन डे मैच खेलने हैं, वहीं दो टेस्‍ट मैच में भी इस सीरीज में खेले जाएंगे.

First Published : 23 Jan 2020, 12:44:44 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.