News Nation Logo
Banner

हितों के टकराव मामले पर BCCI ने सचिन और लक्ष्मण को जारी किया नोटिस

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के मेंटॉर हैं. हितों के टकराव के आरोप का यह तीसरा मामला है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar1 | Updated on: 25 Apr 2019, 07:39:30 PM
हितों के टकराव मामले पर BCCI ने सचिन और लक्ष्मण को जारी किया नोटिस

हितों के टकराव मामले पर BCCI ने सचिन और लक्ष्मण को जारी किया नोटिस

नई दिल्ली:

बीसीसीआई (BCCI) के लोकपाल और नैतिक अधिकारी डीके जैन ने महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) को बुधवार को आईपीएल फ्रैंचाइजी के मेंटॉर के साथ क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के सदस्य होने के कारण कथित हितों के टकराव के लिए नोटिस जारी किया. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के मेंटॉर हैं. हितों के टकराव के आरोप का यह तीसरा मामला है.

इनसे पहले पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) को कैब अध्यक्ष, सीएसी सदस्य और दिल्ली कैपिटल्स के सलहकार के तौर पर तीन भूमिका निभाने के लिए न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जैन के समक्ष सुनवाई के लिए पेश होना पड़ा था. ये तीनों सीएसी का हिस्सा थे जिन्होंने जुलाई 2017 में सीनियर राष्ट्रीय कोच रवि शास्त्री का चयन किया था जो उनकी अंतिम बैठक थी.

और पढ़ें: IPL12: जब अश्विन को आउट करने के बाद गुस्से में नजर आए विराट कोहली

बीसीसीआई (BCCI) सूत्रों हालांकि से पता चला है कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) से कोई वित्तीय करार नहीं है और तीनों सीएसी के सदस्य के तौर पर स्वेच्छिक सेवा कर रहे हैं.

बीसीसीआई (BCCI) के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘क्योंकि सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) को नोटिस जारी किया गया था, लोकपाल ने शायद दोनों सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) को भी नोटिस जारी किया है, लेकिन मैं पुष्टि कर सकता हूं कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) से एक भी पैसा नहीं लेते. वह सिर्फ स्वैच्छिक सेवा कर रहे हैं. बीसीसीआई (BCCI) में भी उन्हें सीएसी में अपनी सेवायें देने के लिए एक भी पैसा नहीं दिया गया.’

न्यायमूर्ति जैन ने नोटिस में सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) दोनों को 28 अप्रैल तक आरोपों का लिखित जवाब देने और साथ ही बीसीसीआई (BCCI) से भी जवाब देने को कहा है. यह शिकायत मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ (एमपीसीए) के सदस्य संजीव गुप्ता ने दायर की है.

और पढ़ें: World Cup के लिए वेस्ट इंडीज ने की टीम की घोषणा, आंद्रे रसेल समेत इन खिलाड़ियों को मिला मौका

लोकपाल ने यह भी कहा कि जवाब देने में असफल होने के बाद उन्हें अपने विचार रखने का और कोई मौका नहीं दिया जाएगा. बुधवार को 46वां जन्मदिन मनाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) टिप्पणी के लिये उपलब्ध नहीं थे.

First Published : 25 Apr 2019, 07:31:38 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो