News Nation Logo

जसप्रीत बुमराह को मिला पॉली उमरीगर और दिलीप सरदेसाई पुरस्‍कार, जानें किसे क्‍या मिला

भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ जसप्रीत बुमराह (Jaspreet Bumrah) को रविवार को बीसीसीआई के वार्षिक पुरस्कार समारोह (BCCI Annual Awards Ceremony) के छाए रहे

Bhasha | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 13 Jan 2020, 06:50:36 AM
जसप्रीत बुमराह Jaspreet Bumrah

जसप्रीत बुमराह Jaspreet Bumrah (Photo Credit: जसप्रीत बुमराह के ट्वीटर से)

Mumbai:  

भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ जसप्रीत बुमराह (Jaspreet Bumrah) को रविवार को बीसीसीआई के वार्षिक पुरस्कार समारोह (BCCI Annual Awards Ceremony) के छाए रहे, जब 2018-19 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें प्रतिष्ठित पॉली उमरीगर पुरस्कार (Poly Umrigar Award) और दिलीप सरदेसाई पुरस्कार (Dilip Sardesai Award) दिया गया. पॉली उमरीगर ट्राफी सर्वश्रेष्ठ पुरुष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर को दी जाती है. इसके साथ प्रशस्ति पत्र, ट्राफी और 15 लाख रुपये की इनामी राशि मिलती है. दिलीप सरदेसाई पुरस्कार टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले और सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी को दिया जाता है. जसप्रीत बुमराह ने छह मैचों में 34 विकेट चटकाए, जिसमें तीन बार वह पारी में पांच या इससे अधिक विकेट हासिल करने में सफल रहे. सौराष्ट्र के टेस्ट विशेषज्ञ चेतेश्वर पुजारा को बल्लेबाजों के बीच यह पुरस्कार मिला. उन्होंने आठ मैचों में तीन शतक और दो अर्धशतक से 52.07 की औसत से 677 रन बनाए.

यह भी पढ़ें ः BCCI ने न्यूजीलैंड दौरे के लिए इंडिया टीम का किया ऐलान, रोहित शर्मा की वापसी; संजू सैमसन बाहर

दुनिया के नंबर एक वनडे गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने जनवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीका के भारत दौरे के दौरान टेस्ट पदार्पण किया और तब से उनका लगातार अच्छा प्रदर्शन जारी है. उन्होंने आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज में पारी में पांच या इससे अधिक विकेट चटकाए और ऐसा करने वाले पहले और एकमात्र एशियाई गेंदबाज बने. महिला वर्ग में शीर्ष पुरस्कार पूनम यादव को मिला और उन्हें सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर चुना गया. इस लेग स्पिनर को हाल में अर्जुन पुरस्कार से भी नवाजा गया था. भारत के पूर्व कप्तानों कृष्णमाचारी श्रीकांत और अंजुम चोपड़ा को क्रमश: कर्नल सीके नायुडू लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार और बीसीसीआई का महिलाओं के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया गया. भारत की 1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे श्रीकांत लार्ड्स में कम स्कोर वाले फाइनल में 38 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे थे. वह भारत के कप्तान भी रहे और संन्यास लेने के बाद मुख्य चयनकर्ता भी रहे. उनके कार्यकाल के दौरान भी 2011 विश्व कप की भारतीय टीम चुनी गई थी जो विश्व चैंपियन बनी.

यह भी पढ़ें ः फिटेनस टेस्ट में फेल हुए हार्दिक पांड्या, इंडिया-ए टीम से बाहर

अंजुम 100 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाली पहली भारतीय महिला हैं. उन्होंने 17 साल के अपने करियर में 50 ओवर के चार विश्व कप और दो टी20 विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व किया. आस्ट्रेलिया में 2018-19 में पदार्पण करने वाले मयंक अग्रवाल को पुरुष वर्ग में सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय पदार्पण जबकि 15 साल की शेफाली वर्मा को महिला वर्ग में यह पुरस्कार मिला. मुंबई के आलराउंडर शिवम दुबे को रणजी ट्राफी में सर्वश्रेष्ठ आलराउंडर के लिए लाला अमरनाथ पुरस्कार दिया गया जबकि सीमित ओवरों की प्रतियोगिताओं में दिल्ली के नितीश राणा को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए यह पुरस्कार मिला. भारत की मध्यक्रम की बल्लेबाज दीप्ति शर्मा को सीनियर घरेलू सर्किट में सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेट के लिए जगमोहन डालमिया ट्राफी दी गई जबकि जूनियर वर्ग में यह सम्मान शेफाली को मिला. वीरेंद्र शर्मा को घरेलू क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ अंपायर चुना गया जबकि रणजी ट्राफी जीतने के लिए विदर्भ क्रिकेट संघ को घरेलू क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का पुरस्कार मिला.

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा, बीसीसीआई पुरस्कार आयु वर्ग से सीनियर स्तर तक मैदान पर शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को मान्यता देने और साथ ही अपने दिग्गजों को सम्मानित करने का हमारा तरीका है. बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बताया कि इन पुरस्कार को और बड़ा बनाने के लिए इस साल चार नए वर्ग में पुरस्कार दिए गए जिसमें महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में सर्वाधिक रन और सर्वाधिक विकेट हासिल करने वाली खिलाड़ी और पुरुष तथा महिला वर्ग में सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय पदार्पण शामिल है.

First Published : 13 Jan 2020, 06:50:36 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.