News Nation Logo

IND Vs AUS : भारत आते ही जसप्रीत बुमराह के बारे में एरॉन फिंच ने दे दिया बड़ा बयान, जानें क्‍या कहा

आस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच ने शुक्रवार को कहा कि भारत के खिलाफ तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज में उनकी टीम के लिए महत्वपूर्ण होगा वे अपने दिमाग में जसप्रीत बुमराह का हौव्वा न बनाएं.

Bhasha | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 10 Jan 2020, 06:06:53 PM
एरॉन फिंच

एरॉन फिंच (Photo Credit: twitter.com/cricketworldcup)

Mumbai:  

India vs Australia ODI Series :  आस्ट्रेलियाई कप्तान एरॉन फिंच ने शुक्रवार को कहा कि भारत के खिलाफ तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज में उनकी टीम के लिए महत्वपूर्ण होगा वे अपने दिमाग में जसप्रीत बुमराह का हौव्वा न बनाएं. एरॉन फिंच के अनुसार भारत का प्रमुख तेज गेंदबाज सम्मान का हकदार है, लेकिन उन्होंने कहा कि उनकी टीम के लिए यह महत्वपूर्ण होगा कि वह अपने मजबूत पक्षों पर ध्यान दे. एरॉन फिंच ने भारत आने के बाद पत्रकारों से कहा, मेरा मानना है कि खिलाड़ी जितना अधिक उसका सामना करेंगे उतना उन्हें पता चलता रहेगा कि वह कैसी गेंदबाजी करता है. इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि हम इसको लेकर ज्यादा हौव्वा न बनाएं. धमाकेदार बल्लेबाज डेविड वार्नर के साथ पारी का आगाज करते हुए एरॉन फिंच को जसप्रीत बुमराह का सामना करना होगा.

यह भी पढ़ें ः क्रिस गेल को पसंद है पाकिस्‍तान, बोले- क्रिकेट के लिए सुरक्षित स्‍थान

आस्‍ट्रेलियाई टीम के कप्‍तान एरॉन फिंच ने कहा, वह निश्चित तौर पर बेहतरीन गेंदबाज है. वह ऐसा गेंदबाज है कि जब आप उसके खिलाफ नहीं खेल रहे हों तो आप उसे गेंदबाजी करते हुए देखना पसंद करेंगे. वह तेज और आक्रामक गेंदबाज है और वह अपनी रणनीति पर बहुत अच्छी तरह से अमल करते हैं. जसप्रीत बुमराह तीन महीने तक चोट से बाहर रहने के बाद वापसी कर रहे है और आस्ट्रेलियाई टीम 14 जनवरी से मुंबई में शुरू होने वाली सीरीज में उनका सामना करने को लेकर सतर्क हैं. एरॉन फिंच ने कहा, हम एक बल्लेबाजी इकाई के रूप में क्या है हमें इस पर ध्यान देना होगा. प्रत्येक खिलाड़ी के कमजोर और मजबूत पक्ष होते हैं. इसलिए हमें मानसिक तौर पर इस चुनौती के लिये तैयार रहना होगा.

यह भी पढ़ें ः IND VS AUS : भारत पहुंची आस्‍ट्रेलियाई टीम, 14 जनवरी को होगी पहली टक्‍कर

दूसरा वनडे 17 जनवरी को राजकोट और तीसरा वनडे 19 जनवरी को बेंगलुरू में खेला जाएगा. बेहतरीन फार्म में चल रहे मार्नस लाबुशेन टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के बाद वनडे में पदार्पण के लिए तैयार हैं और उनका जसप्रीत बुमराह की अगुवाई वाले आक्रमण से रोमांचक मुकाबला होने की संभावना है. एरॉन फिंच ने कहा, हां यह मुकाबला रोमांचक होगा. हमने पिछले 12 महीनों में मार्नस के खेल में आमूलचूल सुधार देखा है और यह उसके स्कोर और टेस्ट क्रिकेट में छोड़े गए प्रभाव से भी पता चलता है. सीमित ओवरों में उसका घरेलू रिकार्ड शानदार है. उम्मीद है कि टेस्ट सीरीज की उनकी फार्म वनडे में भी बरकरार रहेगी. एरॉन फिंच ने कहा कि भारत में उनके खिलाड़ियों को बेसिक्स पर ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा, भारत में आपको वास्तव में अपने बेसिक्स के साथ अनुशासित होना होगा. अगर आप चीजों को लेकर परेशान होते हो तो यह सही नहीं है.

यह भी पढ़ें ः मार्नस लाबुशेन ने खोला राज, इन दो खिलाड़ियों की राह पर चलना है

उधर आस्ट्रेलिया के कार्यवाहक कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड का मानना है कि एरॉन फिंच एक क्रिकेटर के तौर पर काफी परिपक्व हो गए हैं और उन्होंने सीमित ओवरों में कप्तानी को लेकर पैदा हुआ शून्य भर दिया है. भारत के खिलाफ 14 जनवरी से शुरू होने वाले तीन एकदिवसीय मैचों की सीरीज में जस्टिन लैंगर की जगह मैकडोनाल्ड कोच की भूमिका निभाएंगे. मैकडोनाल्ड ने पत्रकारों से कहा, मेरा मानना है कि पिछले तीन साल में एरॉन फिंच नेतृत्वकर्ता के रूप में काफी आगे बढ़े हैं. कप्तानी के मामले में आस्ट्रेलिया में जो शून्य पैदा हुआ था वह उन्होंने भर दिया है. उनका कप्तान के रूप में विकास शानदार है. खिलाड़ियों को लेकर उनकी समझ लाजवाब है. उन्होंने कहा, टीम में निरंतरता की बात करते हैं तो उनके पास लगभग एक ही टीम है. विश्व कप के बाद से एक दो ही बदलाव हुए हैं.  कोच ने कहा, वह एक क्रिकेटर के रूप में परिपक्व हुआ है. वह खेल को समझता है, विरोधी टीम और अपने आसपास के लोगों को समझता है और इस सबसे उसे देश का बेहतरीन कप्तान बनने में मदद मिली.

First Published : 10 Jan 2020, 06:06:53 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.