News Nation Logo
Banner

AFG vs WI: अफगानिस्तान को हल्के में आंकने की भूल पड़ेगी भारी, टी20 में ले सकते हैं वनडे का बदला

टी-20 अफगानिस्तान का सबसे पसंदीदा प्रारूप है और पूर्व में उसने अपने प्रदर्शन से कई मौकों पर क्रिकेट जगत को चौंकाया भी है.

Bhasha | Updated on: 13 Nov 2019, 06:26:45 PM
अफगानिस्तान बनाम वेस्टइंडीज

अफगानिस्तान बनाम वेस्टइंडीज (Photo Credit: https://twitter.com/ACBofficials)

लखनऊ:

अपने 'घरेलू' मैदान पर वनडे सीरीज में वेस्टइंडीज के हाथों सूपड़ा साफ होने के बाद अफगानिस्तान गुरुवार को शुरू हो रही तीन टी-20 मैचों की सीरीज में पलटवार की कोशिश करेगा. विश्व कप में बेहद खराब प्रदर्शन के बाद अपने घरेलू मैदान भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई इकाना स्टेडियम में अपनी पहली वनडे सीरीज खेलने उतरी अफगानिस्तान की टीम को यहां भी निराशा हाथ लगी और उसे कैरेबियाई टीम ने 3-0 से मात दी. मगर टी-20 में हालात बदल सकते हैं.

टी-20 अफगानिस्तान का सबसे पसंदीदा प्रारूप है और पूर्व में उसने अपने प्रदर्शन से कई मौकों पर क्रिकेट जगत को चौंकाया भी है. टी-20 प्रारूप में अफगानिस्तान के पास कई मिस्ट्री स्पिनर और बड़े शॉट खेलने वाले बल्लेबाज हैं, जो किसी भी वक्त मैच का पासा पलट सकते हैं. टी-20 मुकाबलों में अफगानिस्तान के हजरत उल्लाह जजई, जावेद अहमदी, असगर अफगान और नजीबुल्लाह जादरान लंबे शॉट खेलने में माहिर हैं.

ये भी पढ़ें- जज ने रेप पीड़िता को 1 करोड़ रुपये में मामला रफा-दफा करने का दिया ऑफर, 15 साल की उम्र में हुई थी दरिंदगी

टीम में मुजीब उर रहमान और कप्तान राशिद खान के रूप में दो विश्व स्तरीय खतरनाक स्पिन गेंदबाज हैं. हालांकि वनडे सीरीज में राशिद का प्रदर्शन अपेक्षा अनुरूप नहीं रहा था और तीन मैचों में उन्हें सिर्फ दो ही विकेट मिले थे. मगर टी-20 की बदली हुई गणित में वह अफगान टीम के लिए तुरुप का पत्ता साबित हो सकते हैं. दूसरी ओर, मौजूदा टी-20 विश्व चैंपियन वेस्टइंडीज को भी क्रिकेट का यह सबसे छोटे प्रारूप बहुत भाता है.

कैरेबियाई टीम के पास लंबे शॉट लगाने वाले खिलाड़ियों की लंबी जमात है. हालांकि गेंदबाजी विभाग में वह कुछ कमजोर नजर आती है. वेस्टइंडीज की टीम में टी-20 स्पेशलिस्ट लेंडल सिमंस को अंतिम 11 में जगह मिलने की पूरी उम्मीद है. इसके अलावा अनुभवी विकेटकीपर दिनेश रामदीन की भी वापसी हुई है. टीम की बल्लेबाजी पर नजर डालें तो इसमें सिमंस एविन लेविस, कप्तान काइरन पोलार्ड, निकोलस पूरन, ब्रेंडन किंग और जेसन होल्डर के रूप में ताबड़तोड़ बल्लेबाज शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- ऋतिक रोशन की दीवानी थी पत्नी, पति ने उतार दिया मौत के घाट और फिर...

जहां तक गेंदबाजी का सवाल है तो इसका दारोमदार मुख्य रूप से होल्डर और शेल्डन कॉटरेल पर होगा. वनडे मैचों की सीरीज में अफगानिस्तान कि न तो बल्लेबाजी चली और ना ही गेंदबाजी में वह दम दिखा. सबसे बड़ा अंतर जज्बे का था जिसके लिए अफगानिस्तान की टीम मशहूर है. वनडे सीरीज में अफगान बल्लेबाजों ने टी-20 स्टाइल में बल्लेबाजी की कोशिश की जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा. हालांकि अब टी-20 सीरीज में देखना होगा कि अफगानिस्तान अपनी महारत का इस्तेमाल कैसे करता है.

लखनऊ के इकाना स्टेडियम की इस पिच पर जो भी टीम टॉस जीतेगी वह पहले फील्डिंग करना पसंद करेगी क्योंकि दूसरी पारी में ओस का असर होने की वजह से खासकर स्पिनरों को परेशानी हो सकती है. साथ ही रात में यहां उड़ने वाले कीट पतंगे भी फील्डिंग टीम के लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं.

संभावित टीमें-

अफगानिस्तान : हजरत उल्लाह जजई, इब्राहिम जादरान, जावेद अहमदी, नजीबुल्लाह जादरान, असगर अफगान, गुलबदन नईब, राशिद खान (कप्तान), रहमान उल्लाह गुरबाज (विकेटकीपर), नवीन उल हक, सैयद शहजाद और मुजीब उर रहमान.

वेस्टइंडीज : लेंडल सिमंस, एविन लेविस, ब्रेंडन किंग, दिनेश रामदीन, निकोलस पूरन, काइरन पोलार्ड, कप्तान जेसन होल्डर, खैरी पियरे, हेडन वाल्श जूनियर, अलजारी जोसेफ और शेल्डन कॉटरेल.

First Published : 13 Nov 2019, 04:25:43 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो