News Nation Logo

Asia Cup 2018: बांग्लादेश की हार में लिटन दास की जीत है, वनडे में लगाया पहला शतक

बांग्लादेश की तरफ से एकमात्र बल्लेबाज दास ने पारी को संभाला जिसके कारण टीम ने फाइनल में अच्छी शुरुआत की थी और पहले विकेट के लिए 120 रन जोड़ दिए।

News Nation Bureau | Edited By : Saketanand Gyan | Updated on: 29 Sep 2018, 04:44:30 PM
लिटन दास (फोटो : क्रिकइंफो)

नई दिल्ली:

भारत ने शुक्रवार को फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल कर एशिया कप 2018 का खिताब जीत लिया लेकिन इस रोमांचक मुकाबले में टीम इंडिया को एक छोटे लक्ष्य को हासिल करने के लिए आखिरी गेंद तक संघर्ष करना पड़ा। भारत ने अंतिम गेंद पर 3 विकेट से बांग्लादेश को हराकर 7वीं बार एशिया कप खिताब पर कब्जा जमाया। बांग्लादेश की तरफ से सलामी बल्लेबाज लिटन दास ने शानदार 121 रनों की पारी खेलकर टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। लिटन दास ने एकदिवसीय क्रिकेट का पहला शतक लगाया और मैन ऑफ द मैच चुने गए।

बांग्लादेश की तरफ से एकमात्र बल्लेबाज दास ने पारी को संभाला जिसके कारण टीम ने फाइनल में अच्छी शुरुआत की थी और पहले विकेट के लिए मेहिदी हसन के साथ 120 रन जोड़ दिए। उसके बाद गिरे एक के बाद एक विकेट के कारण बांग्लादेश की टीम बिखर गई लेकिन युवा बल्लेबाज लिटन दास एक छोड़ पर टिके रहे और टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया था।

लिटन दास अगर 121 रनों की पारी नहीं खेलते तो बांग्लादेश का 200 पार जाना भी मुश्किल था। हालांकि बांग्लादेशी गेंदबाजों ने मैच जीतने के लिए पूरी दम लगा दी लेकिन अंतिम गेंद पर मैच भारत के पाले में चला गया।

लिटन ने अभी तक मात्र 18 वनडे मैच खेले हैं जिसमें 81.41 की स्ट्राइक रेट से 346 रन बनाए हैं। लिटन दास बांग्लादेश की 2012 और 2014 में अंडर-19 टीम का हिस्सा रहे हैं। दास की बल्लेबाजी 2014 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में सिर्फ 4 पारियों में 239 रन बनाए थे।

लिटन दास बांग्लादेश के उभरते शानदार विकेटकीपर बल्लेबाज हैं जो लंबी पारी खेलने का माद्दा रखते हैं और टीम के लिए एक मजबूत स्तंभ बन रहे हैं। एशिया कप के फाइनल में मैन ऑफ द मैच का खिताब मिलना 23 वर्षीय बल्लेबाज के लिए अहम मायने रखता है।

वहीं पूरे टूर्नामेंट के दौरान शानदार पारी खेलने वाले सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। शिखर धवन ने पूरे टूर्नामेंट में 5 पारियों के लिए 342 रन बनाए।

और पढ़ें : Asia Cup 2018: भारत बना 7वीं बार एशिया का चैंपियन, बांग्लादेश का तीसरी बार सपना टूटा

बता दें कि भारत ने इससे पहले 1984, 1988, 1990-91, 1995, 2010 और 2016 में एशिया कप का खिताब जीता था। वहीं बांग्लादेश तीसरी बार भी फाइनल में पहुंच कर खिताब से महरूम रह गया। 2016 में खेले गए पिछले संस्करण में भी भारत ने बांग्लादेश को ही मात देकर ट्रॉफी उठाई थी।

First Published : 29 Sep 2018, 08:32:44 AM

For all the Latest Sports News, Asia cup News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.