News Nation Logo
Banner

Asia Cup 2018 : भारत-बांग्लादेश के बीच भिड़ंत, जानिए क्या कहते हैं आंकड़े

आइए जानते हैं एशिया कप में दोनों टीमों का रिकॉर्ड क्या है। एशिया कप में अब तक दोनों टीमें कुल 12 बार खेल चुकी हैं।

News Nation Bureau | Edited By : Sankalp Thakur | Updated on: 21 Sep 2018, 04:45:20 PM
भारत बनाम बांग्लादेश (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

आज भारत का सामना सुपर फोर के पहले मुकाबले में बांग्लादेश से होगा। भारत ने ग्रुप स्टेज मैच में हांग-कांग और पाकिस्तान को हराया था तो वहीं बांग्लादेश ने पहले मैच में श्रीलंका को हराया था और दूसरे मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ हर का सामना करना पड़ा था। आइए जानते हैं एशिया कप में दोनों टीमों का रिकॉर्ड क्या है। एशिया कप में अब तक दोनों टीमें कुल 12 बार खेल चुकी हैं। 10 बार वनडे तो दो बार टी-20 फॉर्मेट में मैच खेला है। वनडे में भारतीय टीम के जीत का प्रतिशत 90 रहा है। 10 में से 9 मैच टीम इंडिया ने जीता है सिर्फ एक मैच बांग्लादेश के नाम हुआ है।

भारतीय टीम ने एशिया कप में दो बार टी-20 फॉर्मेट में बांग्लादेश से मैच खेला है। दोनों ही मुकाबले में भारत ही जीता है। यह दोनों ही मुकाबले पिछले एशिया कप टूर्नामेंट में खेले गए थे। भारत ने फाइनल में बांग्लादेश को हराकर ही यह रिकॉर्ड छठी बार खिताब अपने नाम किया था। भारत के खिलाफ बांग्लादेश को एक मात्र जीत 2012 एशिया कप के दौरान मिली थी।

सुपर फोर का पहला मुकाबाल भारत-बांग्लादेश के बीच

एशिया कप-2018 के सुपर-4 दौर में आज भारत और बांग्लादेश की टीमें दुबई अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में आमने-सामने होंगी। भारत ने अपने पहले मैच में हांगकांग को मात दी थी तो वहीं अगले मैच में पाकिस्तान को हराया था। बांग्लादेश ने इस टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में श्रीलंका को मात दी थी। वह शानदार फॉर्म में है और यहां की परिस्थतियों में यह टीम बेहद खतरनाक साबित हो सकती है।

पाकिस्तान के मैच को दौरान हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को चोट लग गई थी और इसी कारण वह टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। टीम प्रबंधन हार्दिक के विकल्प के तौर पर टीम से जुड़े दीपक चहर को अंतिम-11 में मौका दे सकता है। टीम में और कोई बदलाव की संभावनाएं नहीं है। रोहित शर्मा और शिखर धवन की सालमी जोड़ी ने पाकिस्तान के मैच में टीम को सधी हुई शुरुआत दी थी। वहीं अंबाती रायडू ने तीसरे नंबर पर अच्छी बल्लेबाजी की थी। दिनेश कार्तिक भी 31 रनों का योगदान देने में सफल रहे थे।

इन चारों के बाद केदार जाधव और महेंद्र सिंह धोनी जैसे बल्लेबाज हैं। भारत के लिए बांग्लादेशी गेंदबाजों खासकर स्पिन का सामना करना आसान नहीं होगा। मेहेदी हसन और शाकिब अल हसन के रूप में उसके पास दो ऐसे गेंदबाज हैं जो भारतीय खेमे को परेशानी में डाल सकते हैं। इन दोनों के अलावा तेज गेंदबाज और कप्तान मशरफे मुर्तजा तथा मुस्ताफिजुर रहमान शुरुआती ओवरों में भारत के लिए मुश्किले खड़ी कर सकते हैं।

वहीं बांग्लादेश की बल्लेबाजी की मजबूत कड़ी तमीम इकबाल पहले मैच में ही चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। उनका न होना भारत के लिए बड़ी राहत है। उनके न रहने से बल्लेबाजी का भार विकेटकीपर मुश्फीकुर रहीम, लिटन दास और शाकिब पर होगा। मध्यक्रम में महामुदुल्लाह और कप्तान मशरेफ मुर्तजा पर जिम्मेदारी होगी। इन सभी बल्लेबाजों के लिए भारत के भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह का सामना करना आसान नहीं होगा। शुरुआती ओवरों में अगर बांग्लादेश के बल्लेबाज इन दोनों के बच गए तो युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी से पारा पाना भी बांग्लादेश के लिए आसान नहीं होगा।

First Published : 21 Sep 2018, 03:40:32 PM

For all the Latest Sports News, Asia cup News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.