News Nation Logo
Banner

Republic Day 2020: भारत आज मनाएगा अपना 71वां गणतंत्र दिवस, ध्वजारोहण से लेकर परेड तक देखें पूरा कार्यक्रम

भारत के 71 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर रविवार को आयोजित होने वाले समारोह में देश की बढ़ती हुई सैन्य शक्ति, बहुमूल्य सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का भव्य प्रदर्शन होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 26 Jan 2020, 12:07:56 AM
गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

भारत के 71 वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर रविवार को आयोजित होने वाले समारोह में देश की बढ़ती हुई सैन्य शक्ति, बहुमूल्य सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का भव्य प्रदर्शन होगा. भारत के गणतंत्र के रूप में स्थापित होने की वर्षगांठ पर आयोजित नब्बे मिनट के समारोह में ब्राजील के राष्ट्रपति जायेर बोलसोनारो मुख्य अतिथि होंगे. उपग्रह भेदी हथियार ‘शक्ति’, थलसेना का युद्धक टैंक भीष्म, इन्फैंट्री युद्धक वाहन और हाल ही में भारतीय वायु सेना में शामिल किए गए चिनूक और अपाचे युद्धक हेलीकाप्टर भव्य सैन्य परेड का हिस्सा होंगे. राष्ट्रीय राजधानी को वृहद् स्तर पर आकाशीय सुरक्षा घेरे में रखा गया है.

यह भी पढे़ंःRepublic Day: PM नरेंद्र मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वाले लोगों को दी बधाई, कही ये बड़ी बात

इसके साथ ही हजारों पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के जवान सतर्क होकर निगरानी करेंगे. राजपथ पर राष्ट्र की बहुमूल्य सांस्कृतिक धरोहर और आर्थिक प्रगति को दर्शाने वाली 22 झांकियों में से 16 झांकियां राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की होंगी और छह विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की होंगी.

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि स्कूली बच्चे नृत्य और संगीत के माध्यम से युगों पुरानी योग परंपरा और आध्यात्मिक मूल्यों का संदेश देंगे. गणतंत्र दिवस परेड समारोह की शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट के समीप स्थित राष्ट्रीय समर स्मारक पर जाकर कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. यह पहली बार होगा जब प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति की बजाय राष्ट्रीय समर स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. इसके बाद प्रधानमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति राजपथ पर परेड का अवलोकन करने के लिए सलामी मंच की ओर प्रस्थान करेंगे.

परंपरा के अनुसार राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा जिसके बाद 21 तोपों की सलामी के साथ राष्ट्र गान की धुन बजाई जाएगी. परेड की शुरुआत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा परेड की सलामी लेने से होगी. परेड की कमान परेड कमांडर दिल्ली क्षेत्र के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल असित मिस्त्री के हाथों में होगी. दिल्ली क्षेत्र के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल आलोक कक्कड़ परेड के सेकंड-इन-कमांड होंगे.

परेड में पहला दस्ता सेना की 61वीं घुड़सवार टुकड़ी का होगा. छह टुकड़ियों को मिलाकर एक अगस्त 1953 को स्थापित यह टुकड़ी विश्व की एकमात्र सक्रिय सैन्य घुड़सवार टुकड़ी है. भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व 61वीं घुड़सवार टुकड़ी का दस्ता, आठ मैकेनाइज्ड दस्ते, छह पैदल दस्ते तथा रूद्र और फ्लाई पास्ट करते ध्रुव उन्नत हल्के हेलीकाप्टर करेंगे. भारतीय सेना के स्वदेश में निर्मित मुख्य युद्धक टैंक टी-90 भीष्म, इन्फैंट्री युद्धक वाहन “बॉलवे मशीन पिकाटे”, के-9 वज्र और धनुष तोपें, चलित उपग्रह टर्मिनल और आकाश मिसाइल प्रणाली मैकेनाइज्ड दस्ते का मुख्य आकर्षण होंगे.

यह भी पढे़ंःPadma Bhushan Awards 2020: पी.वी सिंधू-आनंद महिंद्रा समेत इन हस्तियों को मिला पद्म भूषण सम्मान, देखें पूरी लिस्ट

पैदल मार्च करने वाले दस्तों में भारतीय सेना की पैराशूट रेजिमेंट, ग्रेनेडियर्स रेजिमेंट, सिख लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंट, कुमाऊं रेजिमेंट और सिग्नल कोर के दस्ते सम्मिलित होंगे. भारतीय नौसेना के दस्ते में 144 जवान होंगे जिनकी कमान लेफ्टिनेंट जितिन मलकट के हाथ में होगी. इसके बाद नौसेना की झांकी प्रदर्शित होगी जिसका शीर्षक होगा “भारतीय नौसेना- शांत, शक्तिशाली और तीव्र.”

भारतीय वायुसेना के दस्ते में वायुसेना के 144 जवान होंगे, जिसकी कमान फ्लाइट लेफ्टिनेंट श्रीकांत शर्मा के हाथ में होगी. वायुसेना की झांकी में राफेल और तेजस युद्धक विमान, हल्के लड़ाकू हेलीकाप्टर, आकाश मिसाइल प्रणाली और अस्त्र मिसाइल के मॉडल प्रदर्शित किए जाएंगे. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के दस्ते में उपग्रह भेदी हथियार ‘मिशन शक्ति’ का प्रदर्शन किया जाएगा.

भारत का पहला उपग्रह भेदी अभियान मिशन शक्ति, विरोधी उपग्रहों को मार गिराने की भारत की क्षमता का प्रदर्शन करता है. विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की भौगोलिक और सांस्कृतिक विविधता को 16 झांकियों के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा. विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की छह झांकियों में “स्टार्ट अप इंडिया” और “जल जीवन मिशन” जैसी सरकारी योजनाओं का प्रदर्शन किया जाएगा.

यह भी पढे़ंःPadma Awards 2020: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्म श्री पुरस्कारों की घोषणा, ये हस्तियां होंगी सम्मानित

इस साल परेड में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का महिला मोटरसाइकिल चालक दस्ता चुनौतीपूर्ण करतब दिखाएगा. दस्ते की कमान निरीक्षक सीमा नाग के हाथ में होगी जो चलती हुई मोटरसाइकिल के ऊपर खड़ी होकर सलामी देंगी. परेड के अंतिम चरण में बहुप्रतीक्षित फ्लाई पास्ट होगा जिसमें तीन उन्नत हल्के हेलीकाप्टर “त्रिशूल” फार्मेशन में उड़ते दिखाई देंगे.

ऐसा पहली बार होगा जब गणतंत्र दिवस परेड में सशस्त्र सेनाओं के तीनों अंग एक साथ “ट्राई सर्विस” फार्मेशन में दिखेंगे. इसके बाद चिनूक हेलीकाप्टर “विक” फार्मेशन में उड़ते दिखाई देंगे. परेड में अपाचे हेलीकाप्टर, डोर्नियर विमान और सी-130 जे सुपर हरक्यूलीज विमान भी दिखाई देंगे. पांच जगुआर विमान और पांच मिग-29 विमान “एरोहेड” फार्मेशन में वायुसेना के पराक्रम का प्रदर्शन करेंगे. परेड का समापन सुखोई-30 एमकेआई जेट विमानों के हवाई करतब से होगा.

First Published : 25 Jan 2020, 11:59:44 PM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×