News Nation Logo

केसीआर की घोषणा से कांग्रेस सांसत में, किसान राजनीति को धक्का

केसीआर ने कहा कि जिस किसान परिवार ने आंदोलन के दौरान अपने लोगों को खोया है उन परिवारों को तीन लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.

Written By : प्रदीप सिंह | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 21 Nov 2021, 02:30:08 PM
KCR

के चंद्रशेखर राव (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • आंदोलन के दौरान अपने लोगों को खोने वाले परिवारों को तीन लाख रुपये का मुआवजा  
  • किसान आंदोलन के दौरान करीब 750 किसानों को अपनी जान गंवानी पड़ी
  • मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने जान गंवाने वाले सभी किसानों के परिजनों को देंगे मुआवजा

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार की तरफ से तीन कृषि कानूनों (Agricultural Laws) को वापस लेने के बाद अब  किसान आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिजनों को मुआवजा देने और उनपर दर्ज मुकदमों को वापस लेने की मांग जोर पकड़ने लगी है. किसान संगठन तो पहले से ही मारे गए किसानों को मुआवजा देने और मुकदमों को वापस लेने की मांग करते रहे हैं. किसान संगठनों की मांग पर कांग्रेस सहमति जताती रही है. लेकिन अब तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने मांग और अनुरोध से आगे बढ़ते हुए किसान आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिजनों को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. केसीआर के इस कदम पर कई राजनीतिक दलों ने सहमति जताई है.

सीएम केसीआर ने शनिवार को कहा कि जिस किसान परिवार ने आंदोलन के दौरान अपने लोगों को खोया है उन परिवारों को तीन लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से भी पीड़ित परिवार को बिना किसी शर्त के 25-25 लाख रुपये देने का अनुरोध किया है.

किसान संगठनों के अनुसार इस आंदोलन में करीब 750 किसानों को अपनी जान गंवानी पड़ी. राजनीतिक दल केंद्र सरकार मारे किसानों के परिजनों के लिए मुआवजा की मांग करते हैं. लेकिन जब वह खुद की पार्टी द्वारा शासित राज्यों में मुआवजा देने की बात करते हैं तो केवल अपने राज्य के किसानों की ही बात करते हैं.

यह भी पढ़ें: कृषि कानूनों की वापसी से मुस्लिम नेता मुखर, CAA वापस लेने की मांग

लेकिन मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने जान गंवाने वाले करीब 750 किसानों के परिवारों की मदद करने का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव की तरफ से की गई इस बड़ी घोषणा की जानकारी उनके पुत्र केटीआर ने ट्वीट करके दी. उन्होंने ट्वीट करके बताया कि पिछले एक साल में कृषि कानूनों के खिलाफ लड़ते हुए कई किसान परिवारों ने अपने लोगों को खोया है. इस आंदोलन में जान गंवाने वाले करीब 750 किसानों के परिवारों की मदद का तेलंगाना सरकार ने निर्णय लिया है.

केसीआर ने मुआवजा देने की घोषणा करके कांग्रेस पर बढ़त बना ली है. कांग्रेस शासित राज्यों में किसी राज्य ने अभी तक 750 किसानों के परिजनों को मुआवजा देने की घोषणा नहीं की है. जबकि सच्चाई यह है कि वह लंबे समय से किसान आंदोलन के दौरान मारे गए समस्त किसानों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग करती रही है.

First Published : 21 Nov 2021, 02:30:08 PM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.