News Nation Logo

राज्य सभा उपसभापति चुनाव: NDA प्रत्याशी की जीत पर बोलीं सोनिया, हार जीत लगा रहता है

बीजेडी (बीजू जनता दल BJD) द्वारा समर्थन की घोषणा के बाद एनडीए के लिए अब तक मुश्किल दिख रहा चुनाव आसान लगने लगा है।राज्य सभा (Rajya Sabha) में उपसभापति चुनाव के लिए आज वोटिंग हुई। एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन NDA) के उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह रहे तो विपक्ष की तरफ से कांग्रेस के बीके हरिप्रसाद उम्मीदवार थे। राज्यसभा में वोटिंग के बाद हरिवंश नारायण सिंह को विजयी घोषित किया गया.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Kumar | Updated on: 09 Aug 2018, 01:28:28 PM

नई दिल्ली:

राज्य सभा (Rajya Sabha) में उपसभापति चुनाव के लिए आज वोटिंग हुई। एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन NDA) के उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह रहे तो विपक्ष की तरफ से कांग्रेस के बीके हरिप्रसाद उम्मीदवार थे। राज्यसभा में वोटिंग के बाद हरिवंश नारायण सिंह को विजयी घोषित किया गया. बता दें कि बीजेडी (बीजू जनता दल BJD) द्वारा समर्थन की घोषणा के बाद एनडीए के लिए अब तक मुश्किल दिख रहा चुनाव आसान लगने लगा था। इससे पहले शिरोमणि अकाली दल (SAD) और शिवसेना (Shiv Sena) को लेकर भी असमंजस की जो स्थिति बनी थी वह भी साफ हो गई थी. उन्होंने भी साफ कर दिया था कि वो एनडीए को समर्थन देने जा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि बुधवार को बीजेडी प्रमुख नवीन पटनायक ने घोषणा की कि वो चुनाव में जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह को समर्थन देंगे। नवीन पटनायक की इस घोषणा के साथ ही NDA ने राहत की सांस ली क्योंकि अभी तक दोनों ही उम्मीदवार का गणित 115 की संख्या पर अटक रहा था।

पटनायक ने अपने समर्थित उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर यह साफ कर दिया कि राज्यसभा में उपसभापति चुनाव (Rajya Sabha Deputy Chairman Election) में एनडीए उम्मीदवार हरिवंश को ही जीत मिलेगी।

LIVE अपडेट्स

यूपीए अध्यक्ष ने बीके हरिप्रसाद की हार पर कहा कि कभी हम जीतते हैं तो कभी हारते हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हरिवंश बलिया के रहने वाले हैं और बलिया ने अगस्त क्रांति में महत्वपूर्ण योगदान दिया है.

# पीएम नरेंद्र मोदी ने जीत के बाद सदन में कहा कि हरिवंश नारायण सिंह कलम के धनी व्यक्ति हैं. 

# राज्य सभा के उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, पीएम मोदी और राज्य सभा में विपक्ष के नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने हरिवंश नारायण सिंह को उपसभापति चुने जाने की बधाई दी।

# कांग्रेस की बेंच के पास बैठे थे हरिवंश नारायण सिंह। 

NDA प्रत्याशी हरिवंश नारायण सिंह ने 125 वोटों के साथ राज्य सभा में उपसभापति चुनाव जीत लिया है। 

# कांग्रेस प्रत्याशी बीके हरिप्रसाद को मिले 105 वोट।

# दो बार की वोटिंग में हरिवंश को सबसे ज्यादा वोट मिले

राज्य सभा में उपसभापति चुनाव के लिए सदन में वोटिंग की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

वाईएसआर कांग्रेस के सांसद वी विजयसाई रेड्डी ने कहा, हमने राज्य सभा उपसभापति चुनाव से दूर रहने का फैसला किया है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों पार्टियों ने आंध्र प्रदेश से किए गए वादे को पूरा नहीं किया है।

# केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पूरा एनडीए एकजुट है और हरिवंश जी की जीत होगी।

# बीजेपी ने अपने सभी राज्य सभा सांसदों को व्हिप जारी कर मतदान के दौरान सदन में रहने का निर्देश जारी किया है। 

# संभव है कि पीडीपी भी आख़िरी वक़्त में वोटिंग में हिस्सा न ले।

# करूणानिधि के निधन की वजह से अब तक कोई भी डीएमके सांसद दिल्ली में नहीं है। 

# आम आदमी पार्टी का कहना है की किसी दल ने उनसे समर्थन नहीं मांगा है इसलिए वो मतदान में हिस्सा नहीं लेगा।

# वाईएसआर कांग्रेस उपसभापति के चुनाव में मतदान में हिस्सा नही लेगी

# विपक्ष एकजुट है, हमें पूरा भरोसा है कि हम ज़रूरी आंकड़ा ले आएंगे।

और पढ़ें- राज्य सभा उपसभापति चुनाव: बीके हरिप्रसाद होंगे कांग्रेस उम्मीदवार, 9 अगस्त को होगी वोटिंग

वहीं आखिरी समय में उम्मीदवार बदलने से नाराज चल रही शिरोमणी अकाली दल ने भी गठबंधन की ओर से समर्थित जेडीयू उम्मीदवार को ही वोट देने का फैसला किया है।

सूत्रों के अनुसार शिवसेना भी एनडीए उम्मीदवार को समर्थन देने को तैयार हो गई है। इससे पहले कहा जा रहा था कि वोटिंग के दौरान शिनवसेना सांसद राज्यसभा में अनुपस्थित रहेंगे।

गौरतलब है कि शिवसेना पिछले काफी समय से बीजेपी से नाराज़ चल रही है। इतना ही नहीं शिवसेना ने 2019 लोकसभा में गठबंधन से अलग चुनाव लड़ने की भी घोषणा कर दी है।

राज्यसभा में उपसभापति चुनाव के लिए एनडीए की ओर से जेडीयू के हरिवंश नारायण सिंह उम्मीदवार हैं। वहीं विपक्ष की ओर से कांग्रेस सांसद बीके हरिप्रसाद लड़ रहे हैं।

और पढ़ें- राज्य सभा उपसभापति चुनाव: बिना जानकारी के बदला गया उम्मीदवार का नाम- शिरोमणि अकाली दल

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा, 'हरिप्रसादजी एक वरिष्ठ सांसद हैं। संसद में उनका यह उनका तीसरा कार्यकाल है। पिछले कुछ दिनों के बैठक के बाद यह दलों का संयुक्त निर्णय है।'

इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पार्टी के सांसद हरिवंश नारायण सिंह के लिए तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) से समर्थन मांगा था।

नीतीश कुमार ने टीआरएस के अध्यक्ष व तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को टेलीफोन किया और उन्हें सूचित किया कि हरिवंश भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाले एनडीए के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने टीआरएस प्रमुख से हरिवंश सिंह को समर्थन देने का आग्रह किया।

तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान के अनुसार, राव ने नीतीश कुमार से कहा कि वह पार्टी नेताओं से परामर्श के बाद फैसला लेंगे।

और पढ़ें- राज्य सभा उपसभापति चुनाव के लिए नीतीश कुमार ने टीआरएस से मांगा समर्थन, वाईएसआर करेगी विरोध

वहीं वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने उपसभापति के चुनाव में NDA के उम्मीदवार के खिलाफ वोट करने का फैसला किया है।

क्या है गणित
राज्यसभा में उपसभापति उम्मीदवार को जीतने के लिए 244 में से 123 सांसदों का समर्थन जरूरी है।

बता दें कि राज्यसभा में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है जिसके पास 73 सांसद हैं। वहीं गठबंधन की बात करें तो सहयोगी जेडीयू के पास 6, शिवसेना के पास 3 और अकाली दल के पास 3 सांसद हैं।

वहीं बीजेपी को एआईडीएमके के 13, बीजेडी के 9, टीआरएस के 6 सांसदों के समर्थन की भी उम्मीद है। सूत्रों के अनुसार शिवसेना भी एनडीए उम्मीदवार को ही समर्थन देगी।

और पढ़ें- 2019 लोकसभा चुनाव से पहले राज्यसभा में उपसभापति चुनाव में भी टूट सकता है NDA का कुनबा, शिरोमणी अकाली दल (SAD) इस कारण हुई नाराज़

जबकि कांग्रेस की अगुवाई वाले यूपीए के 61 सांसद हैं। एसपी, बीएसपी, टीएमसी जैसी अन्य पार्टियों के समर्थन से यह आंकड़ा 118 ही पहुंच पाएगा। इस लिहाज से हरिवंश की जीत तय दिखती है। बता दें कि पीडीपी ने मतदान में हिस्सा न लेने का फैसला किया है।

First Published : 09 Aug 2018, 07:44:57 AM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.