News Nation Logo

No Army-Rail or Airport: इस देश में नहीं है आर्मी, रेल और एयरपोर्ट जैसी बुनियादी सुविधा, फिर भी दो देश करते हैं राज

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 15 Jan 2023, 09:18:01 PM
Andorra

Andorra (Photo Credit: File)

highlights

  • दुनिया के सबसे छोटे देशों में है अंडोरा
  • स्पेन और फ्रांस के बीच बसा है अंडोरा
  • 6-6 महीने के अंतर पर बदल जाते हैं रहनुमा

नई दिल्ली:  

No Reguler Army, No Airport and no Railway Network in Andorra : यूरोप में एक लैंडलॉक्ड देश है. दो देशों के बीच एक छोटा देश. माइक्रोनेशन कहते हैं ऐसे देश को. इसके बावजूद ये यूरोप का छठां सबसे छोटा देश है. नाम है अंडोरा ( Andorra ) . ये स्पेन और फ्रांस के बीच में स्थित है. इस देश की न तो अपनी कोई सेना है. न ही इस देश में कोई रेलवे स्टेशन है और न ही इस देश में अपना कोई एयरपोर्ट. इस देश का एयरपोर्ट जो है, वो इसकी सीमा से 12 किमी दूर स्पेन के कैटेलोनिया स्वायत्तशासी क्षेत्र में है. 

तीन भाषाई क्षेत्रों में बंटा है देश 

अंडोरा को प्रिंसिपालिटी ऑफ वैली ऑफ अंडोरा के नाम से भी जाना जाता है. ये देश यूं तो साल 988 में ही बन गया था और 1278 से वर्तमान समय तक अपने इसी रूप में है. लेकिन ये न तो विस्तारित हो पाया और न ही कभी इस देश ने बाकी यूरोपीय देशों की तरह औपनिवेशिक युग में कदम रखा. अभी इस देश की जनसंख्या करीब 80 हजार है. कैटलन भाषा इस देश की आधिकारिक भाषा है, लेकिन फ्रेंच और स्पेनिश भी बराबर संख्या में बोलने वाले लोग हैं. शिक्षा कैटलन भाषा के साथ फ्रेंच और स्पेनिश भाषा में दी जाती है. इस देश में पुर्तगीज बोलने वाले लोग भी हैं. 

1 करोड़ लोग हर साल इस देश में आते हैं, फिर भी एयरपोर्ट तक नहीं

अंडोरा इतना भी छोटा देश नहीं है कि यहां एयरपोर्ट न बनाया जाए सके. वो भी तब, जब इस देश में हर साल एक करोड़ से ज्यादा विदेशी आते हैं. इसके बावजूद इस देश का एयरपोर्ट स्पेन की सीमा में है और अपनी सीमा से कुल 12 किमी दूर. अंडोरा यूरोप का ही देश है, लेकिन स्वतंत्र पहचान भी काफी सीमित है. ये देश यूरोपियन यूनियन का सदस्य नहीं है, इसके बावजूद यूरो यहां की आधिकारिक मुद्रा है. अंडोरा यूएन का भी मेंबर है. इस देश में सेना तो है, लेकिन वो सिर्फ आधिकारिक तौर पर सलामी देने के ही काम आती है. सारा काम पुलिस करती है. इसीलिए सेना के लिए कोई आधिकारिक बजट भी नहीं है. इसके अलावा इस देश में रेलवे स्टेशन भी नहीं है. हालांकि डेढ़ किमी लंबी रेलवे लाइन इसकी सीमा में पड़ती है, लेकिन वो फ्रांस की रेलवे की लाइन है. 

ये भी पढ़ें : Land of Fire: पहाड़ की तली में हजारों साल से जल रही आग, क्या है रहस्य?

आधे साल स्पेन तो आधे साल फ्रांस के राष्ट्रपति होते हैं प्रिंस

अंडोरा ( Andorra ) का संवैधानिक दर्जा बेहद अलग है. यहां 6 महीने के लिए स्पेनिश चर्च के प्रमुख प्रिंस यानी राजकुमार की भूमिका में होते हैं. तो साल के 6 महीने फ्रांस का चुना हुआ राष्ट्रपति इस देश का प्रिंस यानी राजकुमार होता है. इस तरह से ये दुनिया का ऐसा अनोखा देश है, जहां राजशाही तो है, लेकिन वंशानुगत नहीं है. इस समय फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रों ही अंडोरा के प्रिंस हैं. 

First Published : 15 Jan 2023, 09:18:01 PM

For all the Latest Specials News, Explainer News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.