News Nation Logo
Breaking
Banner

सिंगर, एनिमल लवर और महत्वाकांक्षी राजनेता : कौन हैं अपर्णा यादव ?

अपर्णा एक महत्वाकांक्षी राजनीतिज्ञ होने के अलावा एक प्रशिक्षित और योग्य शास्त्रीय गायिका भी हैं. उन्होंने लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की है.

Written By : विजय शंकर | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 19 Jan 2022, 01:53:54 PM
Aparna Yadav

Aparna Yadav (Photo Credit: File)

highlights

  • मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू हैं अपर्णा यादव
  • मुलायम और साधना गुप्ता के बेटे प्रतीक से हुई है शादी
  • मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी से अंतर्राष्ट्रीय संबंध और राजनीति में मास्टर डिग्री प्राप्त 

दिल्ली:  

Aparna Yadav in BJP : समाजवादी पार्टी (Samajwadi party) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के महत्वपूर्ण विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा में शामिल होने से सपा को उलझनवाली वाली स्थिति में डाल दिया है. हालांकि इसका कोई राजनीतिक असर नहीं हो सकता है, लेकिन पिछले कुछ हफ्तों में भाजपा के कई दलबदलुओं के सपा में शामिल होने के बाद इस कदम को यथास्थिति के रूप में देखा जा रहा है. अपर्णा यादव, जिनकी शादी मुलायम और साधना गुप्ता के बेटे प्रतीक से हुई है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की तरह ही ठाकुर-बिष्ट पृष्ठभूमि से आती हैं.

यह भी पढ़ें  : मुलायम यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव BJP में शामिल, कहा- PM मोदी से प्रभावित

अपर्णा एक महत्वाकांक्षी राजनीतिज्ञ होने के अलावा एक प्रशिक्षित और योग्य शास्त्रीय गायिका भी हैं. उन्होंने लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की है, और मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी, यूके से अंतर्राष्ट्रीय संबंध और राजनीति में मास्टर डिग्री प्राप्त की है. खुद एक पशु प्रेमी अपर्णा एक एनजीओ 'बी अवेयर' चलाती हैं, जो पशु कल्याण के लिए काम करती है. वह महिला सुरक्षा और महिलाओं के खिलाफ अपराधों से जुड़े मुद्दों पर भी काम करती रही हैं. हालांकि उनके पति प्रतीक यादव की राजनीति में उतरने की कोई योजना नहीं थी, अपर्णा ने 2017 में अपना इरादा स्पष्ट कर दिया जब उन्होंने समाजवादी पार्टी के टिकट पर लखनऊ कैंट से यूपी विधानसभा चुनाव लड़ा. अपर्णा इससे पहले कई मौकों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ कर चुकी हैं. उन्हें योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा वाई श्रेणी का सुरक्षा कवर भी प्रदान किया गया था. 

मुलायम सिंह की मानती थीं बात

अपर्णा के पति और उनके बड़े भाई अखिलेश यादव के बीच मतभेदों की अटकलों के बीच अपर्णा ने परिवार की महिलाओं के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध साझा किए थे और कई बार अखिलेश की पत्नी डिंपल यादव के साथ एक तस्वीर भी खिंचवाई थी. पारिवारिक सूत्रों के अनुसार, अपर्णा ने हमेशा कहा था कि वह वही करेगी जो 'नेता जी' (मुलायम सिंह) उससे करने के लिए कहेगी. इससे पहले अखिलेश यादव ने इस खबर को खारिज करते हुए इसे आंतरिक मामला बताया था और आश्वस्त किया था कि परिवार में सब कुछ ठीक है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव सात चरणों में 10 फरवरी से 7 मार्च तक होंगे. मतगणना 10 मार्च को होगी.

First Published : 19 Jan 2022, 01:16:43 PM

For all the Latest Specials News, Exclusive News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.