News Nation Logo

NS EXCLUSIVE: सरकार के फैसलों से 5 ट्रिलियन की राह होगी आसान, अदानी विल्मार (Adani Wilmar) के CEO अतुल चतुर्वेदी का बड़ा बयान

वित्त मंत्री ने कंपनियों को बड़ी राहत देते हुए कॉर्पोरेट टैक्स (Corporate Tax) घटाने का प्रस्ताव किया है. इसके अलावा मिनिमम अल्टरनेट टैक्स (MAT) को भी पूरी तरह से हटा दिया है.

By : Dhirendra Kumar | Updated on: 20 Sep 2019, 03:56:27 PM
अतुल चतुर्वेदी (Atul Chaturvedi) - फाइल फोटो

अतुल चतुर्वेदी (Atul Chaturvedi) - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आज कॉर्पोरेट कंपनियों को राहत देते हुए बड़ी घोषणाएं की है. वित्त मंत्री के ताजा फैसलों को शेयर बाजार भी अपनी सलामी दे चुका है. बता दें कि वित्त मंत्री ने कंपनियों को बड़ी राहत देते हुए कॉर्पोरेट टैक्स (Corporate Tax) घटाने का प्रस्ताव किया है. इसके अलावा मिनिमम अल्टरनेट टैक्स (MAT) को भी पूरी तरह से हटा दिया है. सरकार ने कैपिटल गेन्स (Capital Gains) पर बढ़ा हुआ सरचार्ज हटाने का फैसला किया है.

यह भी पढ़ें: कॉर्पोरेट टैक्‍स में कटौती से रोजगार के मौके बढ़ेंगे, पीएम नरेंद्र मोदी ने दिया बड़ा बयान

गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में दूसरी बार बनी NDA की सरकार से देश के बड़े बिजनेसमैन और मार्केट से जुड़े लोग इन टैक्स को घटाने की मांग कर रहे थे. बता दें कि वित्त मंत्री के ऐलान के बाद शेयर मार्केट में ऐतिहासिक तेजी देखने को मिली. सेंसेक्स, निफ्टी, बैंक निफ्टी और लगभग सभी सेक्टर में तेजी दर्ज की गई है. मोदी सरकार के इस फैसले को इंडस्ट्री से जुड़े लोगों ने खूब सराहा है.

यह भी पढ़ें: खत्म हो गया मिनिमम अल्टरनेट टैक्स (MAT), वित्त मंत्री का बड़ा ऐलान, जानें क्या होगा असर

कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती का फैसला स्वागतयोग्य: अतुल चतुर्वेदी
श्री रेणुका शुगर्स (Shree Renuka Sugars) के चेयरमैन, अदानी विल्मार (Adani Wilmar) के सीईओ और सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (The Solvent Extractors Association Of India-SEA) के प्रेसिडेंट अतुल चतुर्वेदी (Atul Chaturvedi) के मुताबिक सरकार द्वारा कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती का फैसला स्वागतयोग्य है. उनका कहना है कि सरकार के इस कदम के बाद भारत में विदेशी कंपनियों का निवेश बढ़ने की संभावना है. इसके अलावा भारत अब निवेश डेस्टीनेशन के तौर पर भी उभर कर सामने आएगा.

यह भी पढ़ें: नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार EPFO के फंड को लेकर कर सकती है बड़ा फैसला, 6 करोड़ कर्मचारियों पर होगा बड़ा असर

अतुल चतुर्वेदी का कहना है कि मौजूदा समय के आर्थिक हालात काफी खराब थे. ऐसे में सरकार का यह फैसला काफी महत्वपूर्ण और सराहनीय है. उनका कहना है कि सरकार के ताजा फैसले से आने वाले समय में अर्थव्यवस्था की ग्रोथ बढ़ने की उम्मीद है. इसके अलावा विदेशी निवेशक भी अब भारत में निवेश के लिए आकर्षित होंगे.

For all the Latest Specials News, Exclusive News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 20 Sep 2019, 02:57:09 PM