News Nation Logo

BREAKING

Banner

Assembly Elections 2019: हरियाणा, महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में गूंजेंगे स्‍थानीय मुद्दे या अनुच्‍छेद 370

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा (Assembly Elections 2019) की चुनाव तारीखों का ऐलान के बाद दोनों राज्‍यों में अब सियासी हलचल तेज हो गई है.

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 22 Sep 2019, 05:23:08 PM
प्रतीकात्‍मक चित्र

प्रतीकात्‍मक चित्र

highlights

  • महाराष्ट्र में 8.94 करोड़ और 1.8 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा
  • हरियाणा में 1.28 करोड़ वोटर, 1.3 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा
  • 21 अक्टूबर को दोनों राज्यों में होगा मतदान, 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे

नई दिल्‍ली:

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा  (Assembly Elections 2019) की चुनाव तारीखों का ऐलान के बाद दोनों राज्‍यों में अब सियासी हलचल तेज हो गई है. 21 अक्‍टूबर को दोनों राज्‍यों में वोट डाले जाएंगे और 24 को इसके नतीजे तय करेंगे कि इस बार दीवाली किसकी मनेगी. महाराष्ट्र में 288 और हरियाणा विधानसभा (Haryana Election 2019) में 90 सीटें हैं. महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में बीजेपी-शिवसेना की गठबंधन सरकार है. वहीं हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार है.

अगर दोनों राज्‍यों में हो रहे चुनाव की बात करें तो अनुच्छेद 370 और तीन तलाक खत्म करने के फैसले के बाद मोदी सरकार 2.0 की पहली परीक्षा होगी. दोनों राज्यों में इस बार स्थानीय मुद्दों पर कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का मुद्दा ज्‍यादा भारी नजर आ रहा है. महाराष्‍ट्र के विदर्भ में सूखा और किसान आत्महत्या, मध्य महाराष्ट्र में बाढ़, मराठा आरक्षण जैसे मुद्दों को विपक्ष इस चुनाव में भुनाने की कोशिश करेगा, वहीं बीजेपी 370 और तीन तलाक के जरिए विपक्ष की धार को कुंद करने की कोशिश करेगी.

यह भी पढ़ेंःDaughter's Day 2019: साक्षी मलिक के पिता का खत आपको मिला क्‍या? नहीं, तो देखें Video

जहां तक हरियाणा की बात करें तो बीजेपी साफ कर चुकी है कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने का मुद्दा वह चुनाव में उठाएगी. प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला ने पिछले दिनों इसके संकेत दिए थे. इसके अलावा खट्टर सरकार समाज के सभी वर्गों को रोजगार के मौके देने के अपने दावे को भुनाने की कोशिश करेगी.

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन तय पर..

महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 सीटें हैं. शिवसेना चाहती है कि कुल 288 विधानसभा सीटों में से बीजेपी और शिवसेना 135-135 सीटों पर चुनाव लड़े और बाकी की 18 सीटें सहयोगियों के लिए छोड़ दी जाएं. हालांकी बीजेपी, शिवसेना को 100-110 सीटों से ज्यादा देने को तैयार नहीं दिख रही है. बीजेपी-शिवसेना गठबंधन तय है, लेकिन सीटों का बंटवारा अभी तय नहीं है.

कांग्रेस-NCP गठबंधन

कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने समाजवादी पार्टी (सपा), पीपुल्स रिपब्लिकन पार्टी (पीआरपी) और लक्ष्मण माने की अध्यक्षता वाले वंचित बहुजन अगाड़ी (वीबीए) गुट के साथ गठबंधन किया है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की पार्टी और कांग्रेस महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 125-125 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेंगी. बाकी की 38 सीटें छोटे सहयोगी दलों को दी गई हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2014

गठबंधन दल लड़े जीते Vote %
वोट%
NDA
बीजेपी 260 122 28.1 31.3
आरएसपी 5 1 0.5 23.7
स्‍वाभिमानी पक्ष 11 0 0.7 14.9
RPI(A) 3 0 0.2 20.8
SHIVSENA शिवसेना 282 63 19.5 19.9
CONGRESS कांग्रेस 287 42 18.1 18.2
NCP राक्रांपा 278 41 17.4 18.1

महाराष्ट्र में 2014 के विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी-शिवसेना में गठबंधन टूट गया था. दोनों दलों ने 25 साल बाद अलग-अलग चुनाव लड़ा. बीजेपी को 122 और शिवसेना को 63 सीटें मिली थीं. 2014 कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका था. बीजेपी ने 288 सीट वाली विधानसभा में 122 सीटों पर जीत के साथ राज्य में एक बड़ी बढ़त दर्ज की. बीजेपी ने शिवसेना के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई थी.

हरियाणा विधानसभा (Haryana Election ) चुनाव 2014

दल कुल प्रत्‍याशी जीते दूसरे स्‍थान पर वोट %
बीजेपी 90 47 17 33.30%
इनेलो 88 19 40 24.20%
कांग्रेस 90 15 19 20.70%
निर्दल 603 5 7 10.60%
बीएसपी 87 1 2 4.40%


चुनाव कार्यक्रम 

  • नोटिफिकेशन की तारीख : 27 सितंबर
  • नामांकन की आखिरी तारीख : 4 अक्टूबर
  • स्कूटनी की तारीख : 5 अक्टूबर
  • नामांकन वापसी की तारीख : 7 अक्टूबर
  • चुनाव प्रचार का आखिरी दिन : 19 अक्टूबर
  • 21 अक्टूबर को दोनों राज्यों में होगा मतदान
  • 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे

First Published : 22 Sep 2019, 04:30:52 PM

For all the Latest Specials News, Exclusive News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो