News Nation Logo

प्रधानमंत्री ने कोविड स्थिति की समीक्षा की

प्रधानमंत्री ने कोविड स्थिति की समीक्षा की

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 11 Sep 2021, 12:20:01 AM
Yoga became

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश भर में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की और उन्हें स्वास्थ्य प्रणाली की तैयारियों, मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता और कोविड 19 टीका के उत्पादन, आपूर्ति और वितरण से संबंधित मामलों के बारे में जानकारी दी गई।

उन्हें अधिक पॉजिटिविटी टेस्ट वाले जिलों के साथ-साथ सप्ताह दर सप्ताह टेस्ट पॉजिटिविटी दर से मामलों से भी अवगत कराया गया।

जैसा कि मोदी ने म्यूटेंट के उद्भव की निगरानी के लिए निरंतर जीनोम अनुक्रमण की आवश्यकता के बारे में बात की। उन्हें बताया गया कि आईएनएसएसीओजी देश भर में 28 प्रयोगशालाओं से मिलकर, क्लीनिकल सहसंबंध के लिए एक अस्पताल नेटवर्क से भी जुड़ा हुआ है। जीनोमिक निगरानी के लिए सीवेज का नमूना भी लिया जा रहा है और जिन राज्यों से अनुरोध किया गया है कि वे नियमित रूप से आईएनएसएसीओजी के साथ पॉजिटिव कोविड नमूने साझा करें।

उन्होंने कोविड इमरजेंसी रिस्पांस पैकेज दो के तहत बाल चिकित्सा देखभाल और समर्थित सुविधाओं के लिए बिस्तर क्षमता में वृद्धि की स्थिति की समीक्षा की और यह भी बताया गया कि राज्यों को ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिक देखभाल और ब्लॉक स्तर के स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को फिर से डिजाइन और उन्मुख करने की सलाह दी गई है।

उन्हें बताया गया कि राज्यों को जिला स्तर पर कोविड -19, म्यूकोर्मिकोसिस, एमआईएस-सी के प्रबंधन में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के लिए बफर स्टॉक बनाए रखने के लिए भी कहा जा रहा है।

प्रधानमंत्री को आइसोलेशन, ऑक्सीजन और आईसीयू बेड और बाल चिकित्सा और बाल चिकित्सा वेंटिलेटर में वृद्धि के बारे में बताया गया और आने वाले महीनों में महत्वपूर्ण संख्या में आईसीयू और ऑक्सीजन बेड जोड़े जाएंगे।

उन्हें यह भी बताया गया कि जन स्वास्थ्य सुविधाओं में आरटी-पीसीआर लैब सुविधा स्थापित करने के लिए 433 जिलों को सहयोग दिया जा रहा है।

यह देखते हुए कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, सिलेंडर और पीएसए प्लांटों सहित ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पूरे पारिस्थितिकी तंत्र को तेजी से बढ़ाने की जरूरत है। मोदी को बताया गया कि राज्यों को लगभग 1 लाख ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 3 लाख ऑक्सीजन सिलेंडर वितरित किए गए हैं और प्रति जिले में कम से कम एक ऐसी इकाई का समर्थन करने के उद्देश्य से 961 एलएमओ भंडारण टैंक और 1,450 मेडिकल गैस पाइपलाइन सिस्टम स्थापित करने के लिए भी प्रयास कर रहे हैं।

प्रति ब्लॉक कम से कम एक एम्बुलेंस सुनिश्चित करने के लिए एम्बुलेंस नेटवर्क को भी बढ़ाया जा रहा है।

उन्हें बताया गया कि भारत की लगभग 58 प्रतिशत वयस्क आबादी ने पहली खुराक प्राप्त कर ली है और लगभग 18 प्रतिशत दोनों खुराक प्राप्त कर चुके हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 11 Sep 2021, 12:20:01 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.