News Nation Logo
Banner

तीन छात्रों ने बनाया अनोखा हेलमेट, सुरक्षा के साथ आपकी जेब का भी रखेगा ख्याल

वाराणसी के तीन छात्रों ने आत्मनिर्भर भारत की तर्ज पर एक अनोखा  हेलमेट तैयार किया है. ये हेलमेट आपकी सुरक्षा करने के साथ ही आपके जेब का ख्याल भी रखेगा.

Written By : सुशांत मुखर्जी | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 16 Feb 2021, 04:40:25 PM
helmet

तीन छात्रों ने अनोखा हेलमेट, सुरक्षा के साथ आपकी जेब का भी रखेगा ख्याल (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • वाराणसी के छात्रों ने बनाया अनोखा हेलमेट
  • सुरक्षा के साथ जेब का भी रखेगा ख्याल
  • दुर्घटना होने पर परिजनों को करेगा सूचित

वाराणसी:

वाराणसी के तीन छात्रों ने आत्मनिर्भर भारत की तर्ज पर एक अनोखा  हेलमेट तैयार किया है. ये हेलमेट आपकी सुरक्षा करने के साथ ही आपके जेब का ख्याल भी रखेगा. इंजीनियरिंग के तीन छात्रों ने दो हफ्तों में इसे तैयार किया है. ये हेलमेट ट्रैफिक सिस्टम पर काम करता है. यह 'ट्रैफिक सिस्टम हेलमेट' पूरी तरफ ट्रैफिक सिग्नल पर काम करता है. ट्रैफिक सिग्नल पर रेड लाइट को देखते ही अपने आप ये हेलमेट गाड़ी के इंजन को बंद कर देता है. वापस ग्रीन सिग्नल होते ही वापस इंजन ऑन हो जाता है. इतना ही नहीं, इस हेलमेट को पहने बिना आपकी बाइक स्टार्ट भी नहीं होगी. यह कारनामा इंजीयरिंग के छात्र सुलेख कुमार, आशीष त्रिपाठी और विपिन मौर्या ने किया है.

यह भी पढ़ें : शॉर्ट वीडियो स्पेस में टक्कर देने आया 'धकधक-इंडिया के दिल की धड़कन' ऐप 

इस 'ट्रैफिक सिग्नल हेलमेट' की कई खासियतें हैं. बिना हेलमेट के आप बाइक को स्टार्ट नहीं कर सकेंगे. इसके साथ ही सड़क पर दुर्घटना होने पर ये हेलमेट पुलिस के साथ ही परिवारवालों को मैसेज के जरिए आपकी लोकेशन शेयर करने के साथ ही फोन कॉल से इन्फॉर्म भी करेगा. ट्रैफिक हेलमेट बनाने वाले इंजियरिंग के छात्रों ने बताया कि यह डिवाइस रेडियो फ्रीक्वेंसी ट्रांसमीटर पर काम करता है. इस डिवाइस में 2 ट्रांसमीटर और एक रिसीवर लगा हुआ है. रिसीवर को बाइक में लगाया गया है, जबकि 1 ट्रांसमीटर हेलमेट और दूसरा ट्रैफिक सिग्नल में लगा है. जैसे ही इस हेलमेट को लगाकर गाड़ी पर बैठा व्यक्ति ट्रैफिक सिग्नल के करीब आता है. मशीन में लगा ट्रांसमीटर खुद ऑन हो जाता है.

यह भी पढ़ें : Koo App पीएम मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान को दे सकता है बढ़ावा, जानें देसी Twitter के बारे में 

उसके बाद रेड लाइट होने पर इंजन बंद और ग्रीन सिग्नल पर इंजन ऑन हो जाता है. इस डिवाइस की रेंज अभी 50 मीटर है. इसे अपनी जरूरत के हिसाब से बढ़ाया घटाया जा सकता है. इस हेलमेट को 2 महीनों की कड़ी मेहनत के बाद छात्रों ने तैयार किया और जो डिवाइस इसमें लगाया गया है, इसके जरिए सिर्फ टू-व्हीलर ही नहीं बल्कि इसे कार या थ्री व्हीलर में भी इस्तेमाल किया जा सकता है. अभी ये हेलमेट आपकी सुरक्षा के साथ-साथ आपके ईंधन की भी बचत करेगा और इन छात्रों द्वारा ये डिवाइस सभी गाड़ियों के लिए उपयुक्त है. यह हेलमेट किस तरह से काम करता है, इसका जायजा भी हमारी टीम ने लिया.

First Published : 16 Feb 2021, 04:37:55 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.