News Nation Logo

टेस्टोस्टेरोन थेरेपी दिल के दौरे, स्ट्रोक को कम करती है : शोध

टेस्टोस्टेरोन थेरेपी दिल के दौरे, स्ट्रोक को कम करती है : शोध

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 10 Jul 2021, 04:50:01 PM
Tetoterone therapy

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

न्यूयॉर्क: टेस्टोस्टेरोन की खुराक लेने से ऐसे पुरुषों में दिल के दौरे और स्ट्रोक में काफी कमी आती है, जिनमें हार्मोन का स्तर अस्वाभाविक रूप से कम होता है। एक नए शोध में यह पता चला है।

यूरोपियन एसोसिएशन ऑफ यूरोलॉजी कांग्रेस में प्रस्तुत शोध के निष्कर्ष ने संकेत दिया कि टेस्टोस्टेरोन थेरेपी से पुरुषों के स्वास्थ्य में भी अन्य उपायों से अधिक सुधार देखा गया।

शोध निष्कर्ष के मुताबिक, मरीजों ने अपना वजन कम किया। उनमें नई मांसपेशियों का निर्माण हुआ, उनके कोलेस्ट्रॉल के स्तर और यकृत के कार्य में सुधार हुआ, उनका मधुमेह बेहतर ढंग से नियंत्रित हुआ और उनका रक्तचाप भी कम हो गया।

कहा गया है कि पुरुषों को कुछ मनोवैज्ञानिक और जैविक कार्यो के लिए टेस्टोस्टेरोन की जरूरत होती है। केवल निम्न कोलेस्ट्रॉल स्तर वाले लोग जो अन्य लक्षण प्रदर्शित करते हैं, उनमें टेस्टोस्टेरोन थेरेपी से लाभान्वित होने की संभावना अधिक रहती है।

शोध के निष्कर्ष में कहा गया है, उन लोगों के लिए जो दिल के दौरे और स्ट्रोक के उच्च जोखिम में हैं, जिनमें टेस्टोस्टेरोन की कमी है, यह संभावना है कि हार्मोन को सामान्य स्तर पर वापस लाने से उन्हें अपने समग्र स्वास्थ्य में सुधार के लिए आवश्यक अन्य कदमों के लाभों को अधिकतम करने में मदद मिलती है।

अध्ययन के लिए, टीम ने टेस्टोस्टेरोन की कमी वाले 800 से अधिक पुरुषों को शामिल किया, जिनके पारिवारिक इतिहास, रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल के स्तर, मधुमेह या वजन ने उन्हें दिल के दौरे या स्ट्रोक के उच्च जोखिम में डाल दिया।

केवल सामान्य से नीचे टेस्टोस्टेरोन के स्तर वाले पुरुष, जिन्होंने कम टेस्टोस्टेरोन के लक्षण भी प्रदर्शित किए, जैसे कि खराब मूड, भूख में कमी, अवसाद, स्तंभन दोष, कामेच्छा में कमी या वजन बढ़ना, अनुसंधान में शामिल थे।

आधे से अधिक पुरुषों ने लंबे समय तक टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी का विकल्प चुना, जिससे शोधकर्ताओं ने इस समूह की तुलना उन लोगों से की, जिनकी स्थिति का इलाज नहीं किया गया था।

सभी पुरुषों को अपने हृदय स्वास्थ्य में सुधार के लिए आहार, शराब, धूम्रपान और व्यायाम के मामले में जीवनशैली में बदलाव करने के लिए प्रोत्साहित किया गया।

शोध में कहा गया है कि टेस्टोस्टेरोन थेरेपी पर 412 पुरुषों में से 16 की मौत हो गई और किसी को भी दिल का दौरा या स्ट्रोक नहीं हुआ।

टेस्टोस्टेरोन की खुराक नहीं लेने वाले 393 पुरुषों में से 74 की मृत्यु हो गई, 70 को दिल का दौरा पड़ा और 59 को स्ट्रोक हुआ।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 10 Jul 2021, 04:50:01 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.