News Nation Logo
Banner

माइक्रोसॉफ्ट ने 'रैनसमवेयर' साइबर हमले को बताया चेतावनी

विश्व की प्रमुख सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के प्रेसीडेंट ब्रैड स्मिथ ने 'रैनसमवेयर' साइबर हमले को चेतावनी के रूप में लेने की अपील की है।

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Singh | Updated on: 15 May 2017, 04:16:05 PM

highlights

  • माइक्रोसॉफ्ट ने कहा  'रैनसमवेयर' साइबर हमला एक बड़ी चेतावनी
  • शुक्रवार को 150 देशों के 2,00,000 कंप्यूटरों पर रैनसमवेयर वायरस से हमला किया गया था

नई दिल्ली:

विश्व की प्रमुख सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के प्रेसीडेंट ब्रैड स्मिथ ने 'रैनसमवेयर' साइबर हमले को चेतावनी के रूप में लेने की अपील की है। बता दें कि शुक्रवार को 150 देशों के 2,00,000 कंप्यूटरों पर रैनसमवेयर वायरस से हमला किया गया था। जानकारी के मुताबिक इस हमले से विभिन्न देशों की सरकारों के छिपाकर रखकर सॉफ्टवेयर कमजोरियों से व्यापक क्षति हुई है।

इसे भी पढ़े: सायबर अटैक की चपेट में मुंबई पुलिस, रैंसमवेयर हमले के मद्देनजर भारत के सभी एजेंसियों को किया गया अलर्ट

इसके साथ ही स्मिथ ने रविवार को बयान जारी कर कंप्यूटर प्रणालियों में सुरक्षा खामियों की जानकारियों को छिपाकर रखने वाली सरकारों की आलोचना की। इस बयान के मुताबिक, शुक्रवार को होने वाले इस साइबर हमले के बाद सोमवार को जब लोग दफ्तरों में अपने काम पर लौटेंगे तो उनके कंप्यूटर्स पर भी रैनसमवेयर के हमले का ख़तरा है।

इसे भी पढ़े: सायबर सिक्योरिटी पर बड़ा हमला, हैकर्स ने 74 देशों के सिस्टम में लगाई सेंध, मांग रहे फिरौती

वहीं अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का कहना है कि शुक्रवार को बड़े पैमाने पर हुआ साइबर हमला माइक्रोसॉफ्ट विंडोज में खामी की वजह से हुआ। माइक्रोसॉफ्ट के एक्सपी जैसे पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलने वाले कंप्यूटर इस मालवेयर से सर्वाधिक प्रभावित हुए हैं। इसके प्रभावित होते ही कंप्यूटर की सभी फाइल लॉक हो जा रही हैं।

कई कंपनियों ने शनिवार और रविवार को साइबर एक्सपर्ट को बुलाकर वायरस को निष्क्रिय करने के काम पर लगाया है। ये वायरस कंप्यूटर्स में रखी फाइलों पर नियंत्रण कर लेता है और इन्हें लौटाने के बदले फिरौती की मांग करता है।

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 May 2017, 03:54:00 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Microsoft