News Nation Logo

बीएसएनएल को पछाड़ते हुए देश की सबसे बड़ी फिक्स्ड ब्रॉडबैंड कंपनी बनी जियो

बीएसएनएल को पछाड़ते हुए देश की सबसे बड़ी फिक्स्ड ब्रॉडबैंड कंपनी बनी जियो

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Jan 2022, 05:10:01 PM
Jio urpaed

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   रिलायंस जियो की फाइबर सर्विस ने अपने कमर्शियल लॉन्च के मात्र 2 साल के अंदर ही वायर्ड फिक्सड लाइन सर्विस सेगमेंट में नंबर वन का तमगा हासिल कर लिया है।

कंपनी करीब 43 लाख 40 हजार वायर्ड फिक्सड लाइन ब्रॉडबैंड कनेक्शन्स के साथ पहले नंबर पर है। नवंबर महीने में रिलायंस जियो ने करीब 1 लाख 90 हजार नए फाइबर कनेक्शन उपलब्ध कराए हैं।

जियोफाइबर ने वायर्ड फिक्सड लाइन ब्रॉडबैंड सर्विस में सरकारी कंपनी बीएसएनएस को पछाड़ते हुए नबंर वन पॉजिशन हासिल कर ली है।

नोमुरा ने एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जियोफाइबर की बाजार हिस्सेदारी महीने दर महीने 85बीपी सुधरकर 16.9 फीसदी (सितंबर-19 में व्यावसायिक रूप से लॉन्च) हो गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि महत्वपूर्ण रूप से फंडिंग जुटाने में नाकाम रही वोडाफोन-आइडिया के नेटवर्क निवेश और 5जी रोलआउट की संभावना कम से कम निकट अवधि में बाधित रहेगी। इसलिए, हम उम्मीद करते हैं कि भारती और रिलायंस-जियो के लिए बाजार हिस्सेदारी में बढ़त जारी रहेगी।

यूबीएस ने एक रिपोर्ट में कहा कि नवंबर के लिए ट्राई के आंकड़े उद्योग की संख्या में मामूली सुधार दिखाते हैं।

ट्राई के आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर 2021 में वायरलेस और वायर्ड ब्रॉडबैंड सेगमेंट में रिलायंस जियो की बाजार हिस्सेदारी 54.01 फीसदी रही। वहीं, एयरटेल की 26.21 फीसदी हिस्सेदारी रही। इसके अलावा वोडाफोन-आइडिया की 15.27 फीसदी हिस्सेदारी दर्ज की गई। इस मामले में ये दोनों कंपनियां क्रमश: दूसरे और तीसरे नंबर पर हैं।

36.7 प्रतिशत (प्लस10बीपीएस) के सब्सक्राइबर मार्केट शेयर (एसएमएस) के साथ जियो मार्केट लीडर बना हुआ है।

फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में, जियो ने बीएसएनएल को पीछे छोड़ते हुए देश का सबसे बड़ा एफबीबी प्रदाता बन गया है। जियो के पास अब 43 लाख एफबीबी सब्सक्रिप्शन हैं। इसके बाद बीएसएनएल के पास 42 लाख सब्सक्रिप्शन हैं और एयरटेल के पास 41 लाख सब्सक्रिप्शन हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 19 Jan 2022, 05:10:01 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.