News Nation Logo

गूगल ने एंड्रायड 'लिपिजन' स्पाइवेयर को किया ब्लॉक, अब नहीं होगा यूजर्स का डेटा जब्त

'लिपिज्जन' नामक एक नया स्पाइवेयर आया है, जो यूजर्स के टेक्स्ट मैसेजेज, वॉयस कॉल्स, लोकेशन डेटा और फोटो को जब्त कर लेता है।

IANS | Edited By : Desh Deepak | Updated on: 30 Jul 2017, 09:49:31 AM
गूगल (फाइल फोटो)

सैन फ्रांसिस्को:

गूगल ने 'लिपिजन' स्पाइवेयर को ब्लॉक कर दिया है। कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि उसे एंड्रायड स्पाइवेयर 'क्रिसाओर' की जांच के दौरान 'लिपिजन' का पता चला, जो एक नया स्पाइवेयर है।

'लिपिजन' ऐसा स्पाइवेयर है, जो यूजर्स के टेक्स्ट मैसेजेज, वॉयस कॉल्स, लोकेशन डेटा और फोटो को जब्त कर लेता है। 

'लिपिजन' के कोड में साइबर हथियार कंपनी एक्यूस टेक्नॉलॉजीज का संदर्भ मिला है। यह एक मल्टीस्टेज स्पाइवेयर हैं, जो यूजर्स के ईमेल, एसएमएस मैसेज, लोकेशन, वॉयस कॉल्स और मीडिया की निगरानी और जासूसी करने में समक्ष है।

और पढ़ेंः नासा के गुब्बारे करेंगे पूर्ण सूर्य ग्रहण का अध्ययन

पोस्ट में कहा गया है, 'हमने 20 'लिपिजन' एप को वितरित होते ढूंढ़ा है, जो 100 से कम डिवाइसों को प्रभावित कर पाया था। इसे एंड्रायड फोन में ब्लॉक कर दिया गया है। गूगल प्ले प्रोटेक्ट ने सभी प्रभावित डिवाइसों को सूचित किया है कि वे 'लिपिजन' एप हटा लें।'

'लिपिजन' स्पाइवेयर कई चीजें करने में सक्षम है, जिसमें स्क्रीनशॉट लेना, डिवाइस के कैमरे से तस्वीरें लेना, डिवाइस के माइक्रोफोन से रिकॉर्डिंग करना, कॉल रिकॉर्डिंग और लोकेशन मॉनिटरिंग शामिल है।

और पढ़ेंः अब गूगल तुरंत नहीं देगा आपके जवाब, खत्म होगा इंस्टेंट सर्च फीचर

First Published : 30 Jul 2017, 09:31:37 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो