News Nation Logo
Banner

चौथी बार स्पेसएक्स का रॉकेट भरेगा उड़ान, फिर मंगल पर जाने की तैयारी

नया प्रोटोटाइप रॉकेट स्टारशिप स्पेसशिप एसएन-11 कंपनी का नया टेस्ट व्हीकल है. इससे पहले कंपनी के तीन रॉकेट टेस्टिंग के दौरान तबाह हो चुके हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 29 Mar 2021, 08:06:39 AM
Space X

टेक्सास से उड़ान भरेगा स्पेस एक्स आज. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • आज चौथी बार स्पेस एक्स उड़ान भरेगा
  • मंगल ग्रह पर इंसान पहुंचाने का लक्ष्य
  • इसके पहले तीन रॉकेट हो चुके हैं तबाह

टेक्सास:

अंतरिक्ष कार्यक्रमों की होड़ में सोमवार का दिन अहम होने जा रहा है. अरबपति कारोबारी एलन मस्क (Elon Musk) की कंपनी स्पेसएक्स एक बार फिर अपने स्टारशिप रॉकेट को लांच करने को पूरी तरह से तैयार है. कंपनी के संस्थापक एलन मस्क ने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. ये हाई एल्टीट्यूड टेस्ट टेक्सास के बोका चीका से किया जाएगा. नया प्रोटोटाइप रॉकेट स्टारशिप स्पेसशिप एसएन-11 कंपनी का नया टेस्ट व्हीकल है. इससे पहले कंपनी के तीन रॉकेट टेस्टिंग के दौरान तबाह हो चुके हैं. इससे पहले मस्क ने अपने ट्वीट में लिखा था कि एसएन-11 की सोमवार को संभवतः उड़ान भर सकता है. एडिशन चेकआउट की जरूरत है. हम इसे लैंड कराने और सुरक्षित रखने के लिए अपना बेहतर प्रयास कर रहे हैं. मस्क के टेस्ट में फुली रिकवर से आशय एसएन-11 की लैंडिंग के बाद उसमें पहले के रॉकेटों की तरफ विस्फोट नहीं होने से था.

लैंडिंग के दौरान विस्फोट से हो गया था तबाह
गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर में स्पेस एक्स का एक रॉकेट एस-8 टेस्ट उड़ान पूरी करने के बाद लैंडिंग के दौरान विस्फोट के बाद आग के गोले में बदल गया था. हालांकि एलन मस्क ने इसे सफल कोशिश बताया था. यह रॉकेट 160 फीट ऊंचा था और इसमें तीन रैप्टर इंजन लगे हुए थे. इसने करीब 13 किलोमीटर तक उड़ान भरी थी. कंपनी की तरफ से लैंडिंग का वीडियो भी ट्वीट कर शेयर किया गया था. इसमें साफ दिख रहा था कि रॉकेट जब धरती की ओर आ रहा था तो उसमें आग लग गई. इसके बाद उसमें ब्लास्ट हो गया.

यह भी पढ़ेंः X-ray, AI मिलकर Covid का तेजी से पता लगाने में मददगार 

इस साल दो बार असफलता लेकिन टीम की तारीफ
एलन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स को इसी साल 2 फरवरी को बड़ा झटका लगा था. तब कंपनी का रॉकेट एस-9 सफल लांचिंग के बाद लैंडिंग के दौरान ब्लास्ट हो गया था. स्पेसएक्स के प्रिंसिपल इंजीनियर जॉन इंस्प्रकर ने कहा था कि हमें लैंडिंग पर काम करने की जरूरत है. इस रॉकेट ने करीब 32800 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरी थी. इसके बाद 4 मार्च में को कंपनी को तीसरी बार झटका लगा. इसी तरह कंपनी का नया रॉकेट एस-10 लैंड करने के तुरंत बाद क्रैश हो गया था. यह रॉकेट धरती से करीब 10 किलोमीटर ऊंचाई तक गया, इसके बाद इसमें जबरदस्त धमाका हुआ था. एलन मस्क ने इसके बाद ट्वीट में रॉकेट के बिना नष्ट हुए लैंड करने पर खुशी व्यक्त की थी. उन्होंने लिखा था कि हमारी टीम शानदार काम कर रही है.

143 सैटेलाइट लांच कर बनाया था वर्ल्ड रिकॉर्ड
एलेन मस्क की कंपनी ने इसी साल जनवरी में एक साथ 143 सैटेलाइट लांच कर वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया था. अमेरिका में फ्लोरिडा के फॉल्कन नाइन रॉकेट से ये सभी सैटेलाइट अंतरिक्ष में भेजे गए थे. इनमें से ज्यादातर सैटेलाइट कमर्शियल थे जबकि कुछ सरकारी थे. दुनियाभर में ब्रॉडबैंड इंटरनेट के लिए स्पेसएक्स कंपनी पहले भी 800 से ज्यादा सैटेलाइट लांच कर चुकी है. इसके लिए दस अरब डॉलर का निवेश किया गया है.

यह भी पढ़ेंः कोरोनाकाल में रिमोट एक्सेस प्रोटोकॉल पर साइबर हमले बढ़े 

मंगल तक इसानों को पहुंचाने का सपना
एलन मस्क भविष्य में स्टारशिप के जरिये इंसानों मंगल ग्रह तक पहुंचाने के लिए इस्तेमाल करना चाहते हैं. मस्क कह चुके हैं कि उन्हें उम्मीद है कि उनकी कंपनी मंगल ग्रह पर इंसान को अगले छह वर्षों में पहुंचा देगी. मस्क का मानना है रास्ते में या वहां उतरते ही उनके जीवित नहीं बचने की संभावना अधिक है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 Mar 2021, 08:03:37 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.