News Nation Logo
शोपियां के द्रगाड इलाके में मुठभेड़ के दौरान दो अज्ञात आतंकवादी मारे गए। सर्च ऑपरेशन जारी बर्बाद फ़सलों का आकलन हो रहा है, डेढ़ महीने में किसानों को मुआवज़ा मिलने की उम्मीद है: सीएम, दिल्ली आर्यन खान पर फैसला आज दोपहर 2.45 पर आएगा बारिश से जिन किसानों की फसलें बर्बाद हुईं, उन्हें 50,000 रु./हे. मुआवज़ा दिया जाए: अरविंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश: पीएम नरेंद्र मोदी ने कुशीनगर में श्रीलंका के मंत्री नमल राजपक्षे से मुलाकात की यूपी में कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्घाटन समारोह में आज 12 देशों के राजनयिक शामिल हुए मौसम खुल चुका है और चारधाम यात्रा शुरू हो चुकी है: उत्तराखंड के DGP अशोक कुमार दुनिया में जहां-जहां भी बुद्ध के विचारों को आत्मसात किया गया, वहां प्रगति के रास्ते बने: पीएम मोदी उड़ान योजना के तहत बीते कुछ सालों में 900 से अधिक नए रूट्स को स्वीकृति दी जा चुकी है: पीएम मोदी कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है: पीएम मोदी भारत विश्व भर के बौद्ध समाज की श्रद्धा, आस्था और प्रेरणा का केंद्र है: कुशीनगर में पीएम मोदी 50 से अधिक नए या ऐसे एयरपोर्ट जो पहले सेवा में नहीं थे, उन्हें चालू किया जा चुका है: पीएम मोदी CBI-CVS कांफ्रेंस में बोले पीएम मोदी-भ्रष्टाचार सिस्टम का हिस्सा नहीं हो सकता है लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज होगी अहम सुनवाई. पंजाब में कांग्रेस का बढ़ा दलित प्रेम. राहुल गांधी आज दिखाएंगे शोभा यात्रा को हरी झंडी आज शाम उत्तराखंड जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का लेंगे जायजा क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान को आज मिलेगी बेल या रहेंगे जेल में ही

नई डार्क एनर्जी बता सकती है क्यों हो रहा ब्रह्मांड का विस्तार

नई डार्क एनर्जी बता सकती है क्यों हो रहा ब्रह्मांड का विस्तार

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 20 Sep 2021, 02:10:01 PM
Data from

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

न्यू यॉर्क: कॉस्मोलॉजिस्टों ने पहले अज्ञात प्रकार की डार्क एनर्जी के संकेत पाए हैं। यह पदार्थ का एक आदिम रूप है, जो यह समझा सकता है कि ब्रह्मांड अब सिद्धांत की भविष्यवाणी की तुलना में तेजी से विस्तार क्यों कर रहा है।

कॉस्मोलॉजिस्ट के अनुसार, बिग बैंग के बाद पहले 3,00,000 वर्षों में डार्क एनर्जी का प्रकार मौजूद हो सकता है। इसकी जानकारी पत्रिका नेचर ने दी है।

चिली में अटाकामा कॉस्मोलॉजी टेलीस्कोप (एसीटी) द्वारा 2013 और 2016 के बीच एकत्र किए गए डेटा में इस प्रारंभिक अंधेरे ऊर्जा का एक अस्थायी पहला निशान पाया गया था, जिसमें दो अलग-अलग अध्ययनों का खुलासा हुआ - एरएक्सइवी प्रीप्रिंट सर्वर पर पोस्ट किया गया, जिसका अर्थ अभी तक सहकर्मी-समीक्षा नहीं है।

प्रारंभिक डार्क एनर्जी मॉडल और एसीटी डेटा के आधार पर सीएमबी की व्याख्या करने से पता चला है कि ब्रह्मांड अब 12.4 बिलियन वर्ष पुराना है, जो मानक मॉडल, कॉलिन हिल, के सह-लेखक का उपयोग करके गणना किए गए 13.8 बिलियन वर्षों से लगभग 11 प्रतिशत छोटा है। एसीटी टीम, जो न्यूयॉर्क शहर में कोलंबिया विश्वविद्यालय में एक ब्रह्मांड विज्ञानी हैं, उनके हवाले से यह जानकारी दी गई है।

इसके अनुरूप, वर्तमान विस्तार मानक मॉडल की भविष्यवाणी की तुलना में लगभग 5 प्रतिशत तेज होगा - जो आज खगोलविदों की गणना के करीब है।

दोनों शोधकतार्ओं ने नोट किया कि हालांकि पाया गया डेटा अभी तक प्रारंभिक अंधेरे ऊर्जा का पता लगाने के लिए पर्याप्त नहीं है, एसीटी और एक अन्य वेधशाला, दक्षिण ध्रुव टेलीस्कोप से और अवलोकन जल्द ही एक और अधिक कठोर परीक्षण प्रदान कर सकते हैं।

पेरिस इंस्टीट्यूट ऑफ एस्ट्रोफिजिक्स के कॉस्मोलॉजिस्ट सिल्विया गैली ने कहा, इसे नई भौतिकी की खोज के रूप में लेने के लिए सावधान रहने के कई कारण हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 20 Sep 2021, 02:10:01 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.