News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

रियल एस्टेट सेक्टर में गेम-चेंजर के तौर पर उभरेगा एआई : पंकज बंसल

रियल एस्टेट सेक्टर में गेम-चेंजर के तौर पर उभरेगा एआई : पंकज बंसल

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 07 Jan 2022, 06:45:01 PM
AI will

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: आने वाले वर्षों में दुनिया भर में व्यापार अधिग्रहण का मूल्य बढ़कर 9.6 खरब डॉलर हो जाएगा। मॉर्गन स्टेनली कैपिटल इंटरनेशनल (एमएससीआई) की ओर से यह अनुमान जताया गया है।

एमएससीआई के अनुसार, कई अन्य उद्योगों की तरह, रियल एस्टेट उद्योग डेटा-संचालित दुनिया में बदल रहा है और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (कृत्रिम बुद्धिमत्ता) के उपयोग के मामले बढ़ रहे है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) उपभोक्ता खरीद और बिक्री रणनीतियों से लेकर बड़े वाणिज्यिक, आवासीय और मिश्रित उपयोग परियोजनाओं के डिजाइन और निर्माण में निवेश करने के लिए रियल एस्टेट व्यवसाय में प्रवेश कर रहा है।

नाइट फ्रैंक 2022 की रिपोर्ट में वर्ष 2022 में देश में आवासीय संपत्ति खंड के लिए लगभग 5 प्रतिशत पूंजी मूल्य वृद्धि का अनुमान लगाया गया है।

एआई ऐसी तकनीक का वर्णन करता है, जो ता*++++++++++++++++++++++++++++र्*क निष्कर्ष निकाल सकती है और अपने आप सीखने की क्षमता को सक्षम कर सकती है। आज का एआई वास्तव में परिष्कृत एल्गोरिदम के साथ उन्नत मशीन लनिर्ंग (एमएल) के करीब है, जो सटीक और निकट-अवधि की भविष्यवाणी करने के लिए बड़ी मात्रा में पूर्वनिर्धारित इनपुट या उपयोगकर्ता व्यवहार को संसाधित करता है।

ओमिक्रॉन और कोविड मामलों के कारण मौजूदा वैश्विक संकट भी डेवलपर्स और ग्राहकों दोनों को खुदरा और आवासीय स्थानों की ऑनलाइन बुकिंग के लिए प्रेरित कर रहा है। यह अंतत: भारतीय रियल एस्टेट क्षेत्र में एआई और एमएल के आगमन को मजबूर करेगा। अभी तक, भारतीय रियल एस्टेट क्षेत्र खुदरा और साथ ही आवासीय क्षेत्र में एआई या एमएल को तैनात करने के शुरूआती चरण में है।

एम3एम इंडिया, जिसके निदेशक पंकज बंसल हैं, भारत में एक आक्रामक नए जमाने के रियल एस्टेट डेवलपर के तौर पर उभरा है। एम3एम इंडिया स्वयं गुरुग्राम के सबसे आशाजनक विकास क्षेत्रों में से एक में 40 लाख वर्ग फुट से अधिक रिटेल स्पेस और कुल मिलाकर दो करोड़ वर्ग फुट की जगह देकर उत्तर भारत में रिटेल क्षेत्र का सबसे बड़ा विकासकर्ता है। एम3एम इंडिया 2022 से भारत में रियल्टी में एआई और एमएल के आगमन की आक्रामक रूप से प्रतीक्षा कर रहा है।

इस बारे में बात करते हुए पंकज बंसल ने कहा, एक डेवलपर के ²ष्टिकोण से बोलते हुए, हम एक अत्यंत बुद्धिमान तकनीक की अपेक्षा करते हैं, जो डेवलपर्स और उपभोक्ताओं की सभी चिंताओं और जरूरतों को संबोधित करती है। यह सैकड़ों और हजारों डिजाइन और निर्माण विकल्पों का सुझाव देने में सक्षम होना चाहिए। एक डेवलपर के रूप में हम ग्राहकों के लिए एक परियोजना (प्रोजेक्ट) की कल्पना या डिजाइन करने से पहले सूरज की रोशनी, वास्तु, हवा की दिशा, कालीन क्षेत्र आदि जानना चाहेंगे। एक बार जब परियोजना ग्राहकों की पसंद की हो, तो बिक्री कभी कोई समस्या नहीं होगी। हम एक तकनीक की भी उम्मीद कर रहे हैं, चाहे वह एआई हो या एमएल, जो डिजाइन और निर्माण दोनों में कई सूक्ष्म जांच कर सकता है। यह विश्लेषण, मूल्यांकन और संभव समाधान सुझाने में सक्षम होना चाहिए और हम इसे बिना किसी मानवीय हस्तक्षेप के देखते हैं।

उन्होंने आगे कहा, विकसित दुनिया के कुछ हिस्सों में कुछ जाने-माने डेवलपर्स ने चुनिंदा निजी घरों में बेहद अप्रत्याशित रूप और अनुभव देने के लिए एआई का उपयोग किया है। इन घरों में एआई ने मानवीय हस्तक्षेप को लगभग समाप्त कर दिया है और सभी सुविधाओं का पूर्ण नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

शोध रिपोटरें से पता चलता है कि एआई बाजार की प्राथमिकताओं का अध्ययन करके विश्लेषण का समर्थन करने में भी सक्षम है। एआई एल्गोरिदम के उपयोग के साथ आने वाला एक बहुत ही महत्वपूर्ण लाभ यह है कि इसे विशेष बाजार खंडों को प्रतिबिंबित करने के लिए अनुकूलित किया जा सकता है और नई जानकारी को शामिल करने के लिए इसे स्वचालित रूप से फिर से प्रशिक्षित और समायोजित किया जा सकता है।

पंकज ने इस संबंध में अपने विचार प्रकट करते हुए कहा, यह सच है। जैसा कि एम3एम इंडिया भी कारोबार का विस्तार कर रहा है, हम चाहते हैं कि हमारे ग्राहकों और निवेशकों को हमारी परियोजनाओं के बारे में स्मार्ट जानकारी और समग्र अचल संपत्ति क्षेत्र के बारे में गहन जानकारी हो। इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्होंने जो संपत्ति खरीदी है या खरीदने की संभावना है, उससे निकट भविष्य में और लंबे समय में रिटर्न देने की उम्मीद कितनी है।

अधिकांश व्यक्ति और संस्थान संपत्ति खरीदने के लिए ऋण भी लेते हैं और समय पर कब्जा (पजेशन) एक महत्वपूर्ण कारक बन जाता है। पंकज कहते हैं, जब आपके पास प्रोजेक्ट डेवलपर का इतिहास, प्रतिष्ठा और संरचनात्मक जानकारी होती है और यदि आप परियोजनाओं की डिलीवरी की वास्तविक समय-सीमा के बारे में आश्वस्त हैं, तो आप निश्चित रूप से कई आसान ऋण चुकौती विकल्पों पर गौर करने की कोशिश करेंगे।

रियल-एस्टेट डेवलपर परिप्रेक्ष्य को देखते हुए, एआई और एमएल एक डेवलपर के लिए लीड जनरेशन के लिए प्रमुख उपकरण बन जाएंगे। एआई-सक्षम कार्यक्रम ई-कॉमर्स व्यवसाय विकास के लिए उपभोक्ता जानकारी प्राप्त करेंगे और इसके अलावा मशीन सीखने के वातावरण के माध्यम से नेतृत्व और विपणन रणनीतियों को बेहतर बनाने में मदद करेंगे।

रियल एस्टेट क्षेत्र में एआई और एमएल को अपनाने से सरकारी आवास परियोजनाओं, विशेष रूप से पूरे भारत में 100 स्मार्ट सिटी परियोजना को भी मदद मिलेगी।

जब रियल एस्टेट क्षेत्र 2025 तक भारत के सकल घरेलू उत्पाद में 13 प्रतिशत का योगदान करने और 2030 तक 1 खरब अमरीकी डालर के बाजार आकार तक पहुंचने की उम्मीद कर रहा है, तो इस विजन में एआई और एमएल को कैसे समायोजित किया जाएगा, यह अभी देखा जाना बाकी है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 07 Jan 2022, 06:45:01 PM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो